पुर्तगीज किला और चर्च आज भी पर्यटकों को करते हैं आकर्षित

पुर्तगीज किला और चर्च आज भी पर्यटकों को करते हैं आकर्षित

Sunil Mishra | Publish: Apr, 17 2019 10:53:27 PM (IST) | Updated: Apr, 17 2019 10:53:28 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India

विश्व धरोहर दिवस पर विशेष


दमण. दमण स्थित प्राचीन पुर्तगीज किला और चर्च आज भी यहां आने वाले पर्यटकों के लिए आकर्षण का केन्द्र हैं। किले की चारदीवारें आज भी पुर्तगीज इतिहास को संजोए हुए हैं। दीवारों की सफाई होने के बाद किला और भी आकर्षक हो गया है।

 

patrika

नानी दमण का पुर्तगीज किला 17वीं शताब्दी का

नानी दमण का पुर्तगीज किला 17वीं शताब्दी का है। यह अरब सागर और दमणगंगा नदी के संगम पर बना है। किला का नाम सेंट जेरोमी है। इसके अंदर एक चर्च भी है, जिसका नाम अवर लेडी ऑफ सी है। इस किले में सुरक्षा का काम पुर्तगीज सैनिक देखते थे और सैनिकों की ट्रेनिंग भी यहीं होती थी। मोटी दमण का किला भी आकर्षित करता है। पुर्तगीज शासन के समय एक महिला कांदेया, जिसने लोगों को आपत्ति के समय बचाया था, के नाम से यह किला बनाया गया। किले की दीवारों पर पुर्तगीज तोप रखी है।

 

 

patrika

जीसस चर्च बना

इनकी चारदीवारों में एक बोम जीसस चर्च है। इसके साथ गर्वनर हाउस, एशिया की सबसे पुरानी नगरपालिका और कोर्ट भी है। अभी सचिवालय और लेडी फातिमा स्कूल और पुर्तगीज समय की धरोहर में सरकारी अस्पताल बनाया है। मोटी दमण का ओल्ड लाइट हाउस भी 17वीं शताब्दी में बना था। जो उस समय मछुआरों को दिशा दिखाने का काम करता था। मोटी दमण का डोमिनिकन मोनिस्ट्रीज विशेष आकर्षण का केन्द्र है यहां की दीवारें पर्यटकों को आकर्षित करती हैं। पुर्तगीज कवि बोकेज के नाम से घर बना हुआ है। किले के मुख्य दरवाजे के पास उनका घर है और वहीं से वह कविता लिखा करते थे। इसके साथ चैपल अवर लेडी ऑफ रोजारिया चर्च भी है। मोटी-नानी दमण सहित अन्य विस्तारों को जोडऩे वाली सुरंग भी है जो इन दिनों सफाई के बाद देखने को मिल रही है। मोटी दमण किले से दमणगंगा नदी के अंदर से होकर नानी दमण किले में सुरंग बनाई गई है।

स्वच्छता के बाद चमकीं किले की दीवारें
पिछले लंबे समय से किले कीदीवारों पर ध्यान नहीं दिया था। इसके कारण रेती और घास जम चुकी थी। पिछले वर्ष प्रशासन ने इस धरोहर पर ध्यान दिया और अभियान चलाकर साफ सफाई करवाई। किले की दीवार पर चलने वाले बंद रास्तों को खुलवाया गया तथा छोटे-छोटे पुल भी बनाए गए।

पुर्तगीज सभ्यता जानने को मिलती है
भारत में अनेक ऐतिहासिक जगह पर घूमा हूं। राजस्थान सहित जगहों पर किले देखे हैं परन्तु दमण-दीव, गोवा में पुर्तगीज सभ्यता के किले की बनावट दिखने को मिली है। किले की चारदीवारी में चर्च भी अच्छा लगता है।
कौशल, पर्यटक
रखरखाव कर धरोहर को बचाना चाहिए
उचित रखरखाव कर धरोहर को बचाना चाहिए। आज हमने इस धरोहर को देखा है और आने वाले समय में हमारी पीढ़ी भी इसको देखने पहुंचेगी। जो नेचुरल है उसे नेचुरल ही रखना चाहिए। दमण के किले और चर्च से बहुत ही अच्छा नजारा देखने को मिलता है। शाम के समय पुराने हाउस से सनसेट आकर्षक दिखता है।
एनोला गोन्दावित, पर्यटक

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned