सूरत के परवत क्षेत्र में भरा खाड़ी का पानी, नाव चली

Mukesh Sharma

Publish: Jul, 14 2018 05:00:44 AM (IST)

Surat, Gujarat, India
सूरत के परवत क्षेत्र में भरा खाड़ी का पानी, नाव चली

बारिश से सूरत की खाडिय़ों का जलस्तर बढ़ रहा है। परवतगाम क्षेत्र से गुजर रही मीठी खाड़ी का जलस्तर बढऩे से शुक्रवार को आसपास के...

सूरत।बारिश से सूरत की खाडिय़ों का जलस्तर बढ़ रहा है। परवतगाम क्षेत्र से गुजर रही मीठी खाड़ी का जलस्तर बढऩे से शुक्रवार को आसपास के इलाकों में पानी भर गया। बच्चों और अन्य लोगों को घरों से सडक़ तक आने-जाने के लिए मनपा प्रशासन ने नाव चलाई। उधर, लिंबायत जोन अधिकारी ने बताया कि इलाके से एक भी व्यक्ति को शिफ्ट नहीं किया गया है। खाड़ी का जलस्तर खतरे के निशान को पार करता है और क्षेत्र में बाढ़ के हालात बनते हैं तो रेस्क्यू के लिए मनपा टीम पूरी तरह मुस्तैद है।

खाडिय़ों के कैचमेंट एरिया में हुई भारी बारिश के कारण शहर से गुजर रही खाडिय़ों का जलस्तर बढ़ गया है। शुक्रवार सुबह मीठी खाड़ी के पास परवतगाम क्षेत्र में करीब छह फीट तक पानी भर गया। बिल्डिंग्स की पार्किंग में खड़े रिक्शे और अन्य वाहन पानी में डूब गए। पानी भरने से लोगों के लिए बिल्डिंग से बाहर निकलकर काम पर जाना मुश्किल हो गया। मनपा टीम ने नाव चलाकर लोगों को बिल्डिंग से सडक़ तक पहुंचाया।

मौके पर जमा लोगों के मुताबिक पानी में फंसे करीब ६० परिवारों को सुरक्षित निकाला गया है, जबकि मनपा प्रशासन ने इसे अफवाह बताया। लिंबायत जोन के कार्यपालक अभियंता भैरव देसाई ने बताया कि एक भी परिवार को शिफ्ट नहीं किया गया है। कामकाजी लोगों को बिल्डिंग से बाहर तक लाने-जे जाने के लिए नाव चलाई गई थी।

खाडिय़ों की मरम्मत से राहत

काकरा और मीठी खाडिय़ां शहर के एक बड़े हिस्से से गुजरती हैं। एनआरसीपी योजना से मिंढोला रिवर प्रोजेक्ट के तहत मनपा प्रशासन ने काकरा और मीठी खाड़ी की मरम्मत का काम हाथ में लिया था। इसका करीब ८० फीसदी काम पूरा हो चुका है। इसमें खाडिय़ों के किनारों पर पिचिंग, लाइनिंग आदि का काम कराया गया है।

खाड़ी किनारों पर पाल बनने के कारण इस बार कई इलाकों में पानी खाडिय़ों से बाहर नहीं निकल पाया। मानसून के दौरान खाडिय़ों से पानी बाहर नहीं बहने से मनपा प्रशासन ने राहत महसूस की है।

Ad Block is Banned