MURDER : चोर ने दो भाइयों पर किया चाकू से हमला, एक की मौत

- पांडेसरा क्षेत्र में हुई घटना से सनसनी

#धक्का लगने को लेकर हुए विवाद में युवक की हत्या

By: Dinesh M Trivedi

Published: 10 Sep 2021, 10:02 AM IST

सूरत. पांडेसरा थाना क्षेत्र के एक मकान में चोरी करने गए एक युवक ने जाग होने पर उसे पकडऩे का प्रयास करने वाले दो भाइयों पर चाकू से हमला कर दिया। इस खूनी हमले में एक की मौत हो गई जबकि दूसरा जख्मी हो गया। गुरुवार तडक़े हुई इस घटना से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। आलाधिकारियों के साथ मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार घटना मणिनगर सोसायटी टेम्पो चालक विष्णु पुत्र जमनाप्रसाद गुप्ता (31) के घर में हुई। रात में विष्णु के दो छोटेभाई बिरेन्द्र (20) व विजय (23) दोनों मकान के अगले हिस्से के कमरे में सोए थे। उन्होंने दरवाजा बंद नहीं किया था। लोहे की जाली बंद कर दी थी।

रात करीब अढ़ाई बजे बिरेन्द्र की चोर चोर चिल्लाने की आवाज सुनी विष्णु लाइट चालू करके अंदर वाले कमरे से बाहर निकले तो बिरेन्द्र ने उन्हें बताया कि जाली की कुन्डी खोल कर एक युवक अंदर दाखिल हुआ था और चोरी कर रहा था। आवाज देने पर वह भाग गया। उन्होंने घर का सामान देखा तो हेंगर पर लटक रही विजय की पेंट की जेब में रखे आठ हजार रुपए गायब थे।

इस पर विष्णु व बिरेन्द्र दोनों चोर की तलाश में बाहर निकले। उन्होंने गली में देखा, लेकिन कोई अता पता नहीं चला। इस पर वे घर लौटे। दस-पन्द्रह मिनट सडक़ पर सायरन की आवाज सुनाई दी। पुलिस का सायरन समझ कर दोनों फिर बाहर निकले। बाहर सडक़ पर देखा तो मोबाइल की दुकान के निकट एम्बुलेंस किसी मरीज को लेने के लिए आई थी।

वापस लौट कर वे घर के निकट एक मकान की सीढियों पर बैठ गए। तभी उन्हें संदिग्ध हालात में गली में एक युवक आता हुआ दिखा। बिरेन्द्र उसे देख कर पहचान गया। दोनों उसे पकडऩे के लिए मकान की ओट में छिप गए। जैसे ही वह करीब पहुंचा बिरेन्द्र ने उसे पीछे से पकड़ लिया, लेकिन उसने तुंरत चाकू निकाल लिया और बिरेन्द्र के गले पर वार किया।

विष्णु ने बीच- बचाव की कोशिश की तो उसके हाथों पर वार किए। बिरेन्द्र की पकड़ ढीली पड़ते ही वह भाग निकाला। दोनों भाइयों ने शोर मचाया और जब तक अन्य लोग बाहर निकलते वह भाग निकला। दोनों वहां से अपने घर तक पहुंचे तो घर के बाहर बिरेन्द्र निढाल होकर गिर पड़ा।

विष्णु ने पडोसियों की मदद से बिरेन्द्र को ऑटो रिक्शा में बिठाया और उसे न्यू सिविल अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में चिकित्सकों ने बिरेन्द्र को मृत घोषित किया।

संदिग्धों को राउन्ड अप कर रही पुलिस :

पुलिस निरीक्षक एपी चौधरी ने बताया कि पीडि़त से पूछताछ में पता चला हैं कि हमलावर की उम्र 20-25 की थी और कद काठी मजबूत थी। उसने नीले रंग का शर्ट व काले रंग की पेंट पहन रखी थी। उसके हुलिए के आधार पर निकटवर्ती इलाकों के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं। साथ ही इस तरह घटनाओं में लिप्त कुछ शातिरों को भी राउन्ड अप किया गया है। अन्य शातिरों की टोह ली जा रही है।
-----------

धक्का लगने को लेकर हुए विवाद में युवक की हत्या

सूरत. लिम्बायत थानाक्षेत्र में कुछ दिन पूर्व चलते समय सामान्य धक्का लग जाने को लेकर हुए विवाद की रंजिश में रेहड़ी पर ईडली बेचने वाले एक व्यक्ति ने युवक पर लात घूंसो हमला कर उसकी हत्या कर दी। पुलिस के मुताबिक संजय नगर रत्नप्रभा सोसायटी निवासी किशन सोनवणे की लिम्बायत आशापुरी सोसायटी निवासी नवीन वेंकटैया गहम ने हत्या कर दी।

दरअसल किशन कुछ दिन पूर्व गुजरते समय नवीन से टकरा गया था और उसे धक्का लग गया था। इस बात को लेकर विवाद होने पर नवीन ने किशन को पीटा था। उसके बाद गुरुवार को किशन नवीन की रेहड़ी के निकट से गुजर रहा था। उस दौरान नवीन उसे फिर धूर धूर कर देख रहा था। किशन ने अपनी मासी चंदा खेडक़र से शिकायत की और उसे साथ लेकर नवीन को समझाने के लिए गया।

विवाद होने पर नवीन ने लात घूसों से किशन को पीटना शुरू कर दिया। छाती पर धक्का मार कर उसे गिरा दिया। गंभीर हालात में उसे अस्पताल पहुंचाया गया। जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। इस पर उसकी मौसी ने लिम्बायत थाने में नवीन के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करवाई।
---------------------

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned