क्रेडिट कार्ड फ्रॉड के आरोप में पुलिसकर्मी के पुत्र समेत तीन गिरफ्तार


- महिला के साथ किया था ऑनलाइन फ्रॉड

# पांडेसरा में धोखाधड़़ी और बोगस बिलिंग घोटाले का वांछित गिरफ्तार

# अपहरण व शराब तस्करी के पांच मामलों में वांछित पकड़ा गया

# शराब की खेप के साथ वापी का वांछित बूटलेगर का गिरफ्तार

By: Dinesh M Trivedi

Published: 28 May 2021, 09:52 AM IST

सूरत. कतारगाम की एक महिला के साथ 21 हजार रुपए ऑन लाइन क्रेडिट कार्ड फ्रॉड करने के आरोप में पुलिस ने पुलिसकर्मी के पुत्र समेत तीन जनों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस के मुताबिक भावनगर नवापरा पुलिस लाइन निवासी वीरभद्रसिंह, सिंगणपोर ज्ञान प्रवाह अपार्टमेंट निवासी मेहुल काकडिया व अमरोली स्टार पैलेस निवासी यश भूपतानी ने मिल कर प्रियंका भट्टाचार्य के साथ ऑन लाइन फ्रोड़ किया था।

निजी स्कूल में बतौर अकाउन्टेंट काम करने वाली प्रियंका को उन्होंने बैंककर्मी होने का झांसा देकर फोन किया और फिर वैरीफिकेसन के बहाने उसका क्रेडिट कार्ड नम्बर ले लिया। फिर कार्ड पर दिए गए गिफ्ट वाउचर सक्रिय करने का झांसा देकर उससे ओटीपी ले लिए थे। इन ओटीपी के जरिए उसके कार्ड का इस्तेमाल कर उन्होंने बिजली के बिलों का भुगतान कर दिया था। प्रिंयका की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर उन्हें ढूंढ निकाला।

-------------

पांडेसरा में धोखाधड़़ी और बोगस बिलिंग घोटाले का वांछित गिरफ्तार


सूरत. क्राइम ब्रांच ने पांडेसरा थाने में दर्ज धोखाधड़ी और बोगस बिलिंग घोटाले में फरार चल रहे वांछित आरोपी परेश मालविया को गिरफ्तार किया है। कतारगाम मोहनदीप सोसायटी निवासी परेश के खिलाफ पांडेसरा थाने में ट्रांसपोर्ट ऑपरेटर के साथ 12.31 लाख रुपए की धोखाधड़ी का मामला दर्ज है।

अपने साझेदारों के साथ मिलकर पांडेसरा शालू डाइंग मिल के निकट कार्यालय शुरू कर कास्टिक सोड़ा व सायट्रिक एसिड का कारोबार करने वाले परेश ने देश के अलग-अलग शहरों में ट्रांसपोर्ट से माल भेजा था, लेकिन उसका भुगतान नहीं कर धोखाधड़ी की थी। इसके अलावा फर्जी बिल बना कर कारोबार करने का मामला भी सामने आया था। इस मामले में जीएसटी विभाग भी उसके खिलाफ जांच कर रहा है।

------------

अपहरण व शराब तस्करी के पांच मामलों में वांछित पकड़ा गया


सूरत. क्राइम ब्रांच ने अपहरण व शराब तस्करी के पांच अलग अलग मामलों में फरार चल रहे एक वांछित को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक छापराभाठा रामदेव अपार्टमेंट निवासी कृष्णानंदन उर्फ भूकंप हिस्ट्रीशीटर है। वह पहले भी शराब तस्करी के मामलों में पकड़़ा जा चुका है।

पिछले तीन वर्ष से अमरोली, कामरेज व ओलपाड़ थानों में दर्ज शराब तस्करी के चार मामलों में पुलिस को उसकी तलाश थी। वहीं कोसंबा थाने में भी उसके खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज हुआ था, जिसमें वह फरार चल रहा था। मुखबिर के सूचना पर उसे जहांगीरपुरा इस्कॉन मंदिर रोड से गिरफ्तार कर लिया गया।
------------

शराब की खेप के साथ वापी का वांछित बूटलेगर का गिरफ्तार


सूरत. क्राइम ब्रांच ने सारोली इलाके में एक कार से शराब की खेप बरामद कर सूरत डिलीवरी के लिए आए वापी के वांछित बूटलेगर को गिरप्तार किया है। कार समेत जब्त की गई शराब की कीमत 3.36 लाख रुपए बताई गई है। पुलिस के वापी स्टार कॉम्प्लेक्स निवासी समीर खान वांछित बूटलेगर है। वह अपनी कार में अंग्रेजी शराब की बोतलें छिपा कर सूरत के बूटलेगर योगेश को डिलीवरी देने के लिए आया था। मुखबिर की सूचना पर उसे गिरफ्तार कर लिया गया।
--------------

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned