ट्रक चालकों ने पुलिस और शुगर मिल संचालकों पर किया पथराव

गन्ना लेने गए चालकों को पुलिस के पीटने से बिगड़ी बात

By: विनीत शर्मा

Updated: 27 Mar 2020, 08:03 PM IST

बारडोली. पुलिस की पिटाई से क्षुब्ध बारडोली शुगर मिल के ट्रक चालक और परिचालकों ने गुरुवार देर रात शुगर मिल परिसर में पुलिस और शुगर मिल संचालकों पर जमकर पथराव किया। उन्होंने शुगर मिल के कांटा विभाग और वाहनों में तोडफोड़ भी की। हमले में बारडोली पुलिस निरीक्षक, शुगर मिल के उपप्रमुख भावेश पटेल समेत सात जने घायल हो गए।

जानकारी के अनुसार खेडूत सहकारी खांड उद्योग मंडली लिमिटेड (बारडोली) शुगर मिल के कांटा विभाग में 150 से अधिक ट्रक चालक और परिचालकों ने गुरुवार शाम एकत्र होकर शुगर मिल में पेराई के लिए गन्ना लेकर जा रहे ट्रक, ट्रैक्टर और बैलगाड़ी को रोक दिया। उन्होंने कांटा विभाग में जमकर हंगामा किया। इसकी सूचना मिलते ही शुगर फेक्टरी के उपप्रमुख भावेश पटेल उनके पास गए तो चालकों ने बताया कि उनके कुछ साथी वालिया, उच्छल और निझर क्षेत्र में गन्ना लेने गए थे। लौटते वक्त लॉकडाउन के कारण पुलिस ने उनके साथ मारपीट की। गुस्साए चालकों ने शुगर फेक्टरी बंद करने की मांग की। उन्होंने ऐलान किया कि शुगर मिल नहीं चलने देंगे और ट्रक भी खाली नहीं करेंगे। उन्होंने कांटा विभाग के ऑफिस में तोडफोफ भी शुरू कर दी। साथ ही परिसर में खड़े ट्रक और अन्य वाहनों में भी तोडफोड की।

सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस पर भी उन्होंने पथराव किया। समझाने गए लोगों पर भी गुस्साए चालकों ने हमला कर दिया। इस हमले में पुलिस निरीक्षक, उपप्रमुख भावेश पटेल, कांटा विभाग में काम कर रहे राजीव पटेल, नीरज पटेल, पुलिस कॉन्स्टेबल राकेश और सोहिल घायल हो गए। पुलिस के साथ गए होमगार्ड के जवान शुभम जीवन उजगरे भी इस हमले में गंभीर रूप से घायल हो गया। सभी को उपचार के लिए सरदार स्मारक अस्पताल मे भर्ती किया गया। पुलिस ने हमला और पथराव करने वाले 48 ट्रक चालक और परिचालकों को गिरफ्तार किया है।

विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned