‘आदिवासियों की सच्ची हितैषी मोदी सरकार’

मोदी को सुनने दक्षिण गुजरात के सभी हिस्सों से आए हजारों आदिवासी

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 10 Apr 2019, 09:51 PM IST

सूरत. लोकसभा चुनाव प्रचार के सिलसिले में बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तापी जिले में सोनगढ़ तहसील के गुणसदा गांव में विजय टंकार रैली को संबोधित किए। इस मौके पर दक्षिण गुजरात से हजारों की संख्या में आदिवासी महिला-पुरुष मौजूद रहे। इस दौरान गुजरात सरकार के आदिजाति विकास मंत्री गणपत वसावा ने अपने संबोधन में आदिवासियों की सच्ची हितैषी मोदी सरकार को बताया।
वसावा ने बताया कि वर्षों तक सत्ता में रही कांग्रेस सरकार ने गुजरात समेत देशभर के आदिवासियों को केवल वोटबैंक के तौर पर इस्तेमाल किया, जबकि मोदी सरकार ने जंगल-जमीन के मुद्दे पर उन्हें अधिकार सौंपे। प्रदेश में उमरगांव से अम्बाजी तक की आदिवासी पट्टी में लाखों लोगों को कई हैक्टेयर जमीन आवंटित की गई है। वहीं, प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष जीतू वाघाणी ने मोदी सरकार की पुलवामा अटैक के बाद सर्जिकल स्ट्राइक को बड़ी उपलब्धि बताया। रैली को बारडोली सीट के भाजपा प्रत्याशी प्रभु वसावा, भरुच सीट के भाजपा प्रत्याशी मनसुख वसावा व वलसाड सीट के भाजपा प्रत्याशी डॉ. केसी पटेल ने भी संबोधित किया।


माथुर-दलसाणिया का संबोधन नहीं


सोनगढ़ के निकट विजय टंकार रैली में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व प्रदेश लोकसभा चुनाव प्रभारी ओम माथुर के अलावा प्रदेश संगठन मंत्री भीखू दलसाणिया भी मौजूद थे, लेकिन दोनों को ही संबोधन का मौका नहीं मिला।


पूर्व जिला प्रमुख चौधरी भाजपा में शामिल


सूरत जिला पंचायत के पूर्व प्रमुख व पूर्व मुख्यमंत्री अमरसिंह चौधरी के नजदीकी रहे मावजी चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा में कांग्रेस का हाथ छोड़ भाजपा का साथ ले लिया। मोदी ने इसका जिक्र अपने संबोधन में अमरसिंह चौधरी के पुराने संस्मरण के साथ किया।


नल से बही छाछ की धारा


आयोजकों ने रैली स्थल के निकट सुमूलडेयरी के टैंकर से अस्थाई पाइपलाइन लगाकर नल से ठंडे पानी व शीतल छाछ का वितरण किया। यहां पर पूरे दिन तेज गर्मी से राहत पाने के लिए आदिवासियों की भीड़ लगी रही।


टोलटैक्स से भी मिली मुक्ति


सोनगढ़ के निकट आयोजित भाजपा की रैली में हजारों लोगों को लाने-ले-जाने की व्यवस्था में सैकड़ों बसें समेत अन्य वाहन शामिल रहे। यह सभी वाहन बुधवार को राष्ट्रीय राजमार्ग 53 पर सोनगढ़ के निकट मांडल टोलनाके से सभी वाहन बगैर टैक्स चुकाए निकले।


चने-मुंगफली की सजी दुकानें


रैली में शामिल होने के लिए बड़ी संख्या में लोगों के आने के पुर्वानुमान पर सैकड़ों लोगों ने कार्यक्रम स्थल के पास मार्ग में चने-मुंगफली, गन्ने का रस समेत अन्य खाद्य पदार्थ की दुकानें बुधवार सुबह से ही जमा ली, जहां पर दिनभर भीड़ देखने को मिली।

Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned