सौराष्ट्र मेल से 4.74 करोड़ के आभूषण चोरी करने वाले दो गिरफ्तार

- आंगडिय़ा पेढ़ी कर्मचारी मुम्बई से अहमदाबाद के लिए कर रहा था सफर,

- भरुच के बाद हुई थी चोरी, पकड़े गए शातिर पश्चिम बंगाल से

By: Sanjeev Kumar Singh

Published: 23 Apr 2021, 10:36 PM IST

सूरत.

मुम्बई से अहमदाबाद के लिए आठ अप्रेल को सौराष्ट्र मेल एक्सप्रेस ट्रेन में आंगडिय़ा पेढ़ी का कर्मचारी सफर कर रहा था और आभूषणों से भरा बैग चोरी हो गया। कर्मचारी ने नडिय़ाद रेलवे थाने में 4.74 करोड़ रुपए के आभूषण चोरी होने की रिपोर्ट दर्ज करवाई। वडोदरा और सूरत रेलवे पुलिस ने इस मामले में पश्चिम बंगाल से दो शातिर चोरों को गिरफ्तार कर 4.65 करोड़ के आभूषण जब्त किया है।

रेलवे पुलिस उप निरीक्षक एन. एम. तलाटी ने बताया कि आंगडिय़ा पेढ़ी कर्मचारी 02945 सौराष्ट्र मेल एक्सप्रेस में सफर के दौरान भरुच रेलवे स्टेशन के बाद सो गया। मेहमदाबाद स्टेशन के आसपास नींद खुली तो उसका आभूषणों वाला बैग चोरी हो गया था। उस बैग में सोने-चांदी के आभूषण, सोने के बिस्किट, हीरे समेत 4.74 करोड़ रुपए का सामान था। अहमदाबाद रेलवे पुलिस के नायब महानिरीक्षक ए. जी. चौहाण ने वडोदरा रेलवे पुलिस अधीक्षक परीक्षिता राठौड़ को इस मामले में जांच कर परिणाम लाने के निर्देश दिए। इस चोरी की जांच के लिए अहमदाबाद, वडोदरा और सूरत की टीम बनाई गई। एलसीबी निरीक्षक उत्सव बारोट, उप निरीक्षक एन. एम. तलाटी ने एसओजी, आरपीएफ के साथ मिलकर जांच शुरू की।

मुम्बई से अहमदाबाद तक सभी स्टेशनों के सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए। टेक्निकल टीम के द्वारा यात्रियों के रिजर्वेशन चार्ट की छानबीन की गई। इसी दौरान पता चला कि चोरी का आरोपी पश्चिम बंगाल के केनिंग, साउथ 24-परगणास में छिपा है। रेलवे पुलिस की टीम 16 अप्रेल को पश्चिम बंगाल पहुंची और सादे कपड़ों में आरोपी की तलाश में जुट गई। पुलिस ने आरोपी के घर पर छापा मारकर मुद्दामाल जब्त कर लिया।

पूछताछ में आरोपी ने अपने एक अन्य साथी की जानकारी दी। पुलिस ने उसके घर भी छापा मारा जिसमें अन्य चोरी हुए आभूषण भी बरामद हो गए। गिरफ्तार आरोपी के नाम बीजन मोंटू हलदार (36) और अशोक अनिल सरकार (37) है। रेलवे पुलिस ने करीब 4 करोड़ 65 लाख 77 हजार रुपए का सामान जब्त किया।

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned