बंद घरों और मंदिरों को निशाना बनाने वाले अंतरराज्यीय चोर गिरोह के दो हिस्ट्रीशीटर गिरफ्तार


- गुजरात समेच चार राज्यों में दो दर्जन से अधिक घटनाओं को दिया अंजाम
- More than two dozen incidents in four states including Gujarat

By: Dinesh M Trivedi

Published: 23 Feb 2021, 09:09 PM IST

सूरत. गुजरात समेत चार राज्यों में बंद घरों और मंदिरों को निशाना बना कर चोरी करने वाले गिरोह के दो हिस्ट्रीशीटरों को क्राइम ब्रांच ने सिंगणपोर इलाके से गिरफ्तार किया है। उन्होंने सूरत व गुजरात ही नहीं देश के अन्य राज्यों में अपने साथियों के साथ मिल कर चोरी की पन्द्रह घटनाओं को अंजाम देना कबूल किया है।

पुलिस के मुताबिक राजस्थान के सिरोह जिले के जावाल निवासी खुशालसिंह चौहाण (23) व चुली गांव निवासी उत्तमसिंह देवड़ा (31) लंबे समय से सक्रिय थे। वे अपने गिरोह के साथ बड़े शहरों में जाते थे और किराए पर कमरा लेकर रहते थे। फिर शहर में या आस पास के कस्बों में बंद घरों व मंदिरों को निशाना बना कर चोरी करते थे।

उसके बाद शहर छोड़ कर भाग जाते थे। उन्होंने अपने साथियों के साथ शहर के महिधरपुरा माली नी वाडी इलाके में अपने साथियों के साथ मिल कर लाखों रुपए की चोरी करना कबूल किया है। यहां उल्लेखनीय है कि इस मामले में उनके तीन साथी पूर्व में पकड़े जा चुके है।

दो वर्षो में तीन राज्यों पन्द्रह चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया

शातिर खुशाल सिंह चौहाण व उत्तमसिंह ने देवड़ा ने अपने फरार साथियों के साथ मिल कर पिछले दो वर्षो के दौरान गुजरात ही नहीं कर्नाटक और आंद्रप्रदेश में चोरी की कुल पन्द्रह घटनाओं को अंजाम देना कबूल किया है। इनमें सूरत के अलावा, अहमदाबाद शहर, मेहसाणा, अरवल्ली, वडोदरा जिलों के अलावा कर्नाटक बैंग्लूरू शहर व आंध्रप्रदेश के विजयवाड़ा शहर की घटनाएं शामिल हैं। पुलिस ने उनसे अन्य घटनाओं और इन वारदातों में उनके साथ शामिल अन्य साथियों के बारे में पूछताछ कर रही है।

नाबालिग था तब कोल्हापुर में की थी आधा किलो सोने की चोरी

पुलिस ने बताया कि खुशालसिंह व उत्तमसिंह दोनों शातिर हिस्ट्रीशीटर है। खुशालसिंह ने 2010 ंृमें जब नाबालिग था। उस दौरान महराष्ट्र के कोल्हापुर में आधा किलो सोने के जेवरों की चोरी की थी। इस मामले में वह पकड़ा गया था। उसके बाद उसके खिलाफ राजस्थान के सिरोह जिले के बरलूट थाने में चोरी तीन, कोतवाली व कालन्द्री थानों में एक-एक मामले में पकड़ा गया था। उसका साथी उत्तमसिंह देवड़ा बैंग्लुरू शहर के हनुमंत थाने में चोरी के मामले में पकड़ा जा चुका है।

--------------------------

मतगणना केन्द्रों पर कईयों के पर्स और मोबाइल पार
सूरत. रिंग रोड स्थित गांधी इंजीनीयरिंग कॉलेज व डूमस रोड स्थित एसवीएनआइटी पर मंगलवार को मतगणना के दौरान जेब कतरे भी सक्रिय रहे। मीडियाकर्मियों समेत कई लोगों के पर्स और मोबाइल चोरी की होने की शिकायतें सामने आई। त्रिकमनगर कालीदास नगर निवासी भाविक दलाल का गांधी इंजीनीयरिंग कॉलेज में पर्स चोरी हो गया। पर्स में सत्रह सौ रुपए व जरुरी कागजात थे। उन्होने उमरा थाने में शिकायत दर्ज करवाई है।
-----------
सिलाई कारखाने से लंहगें के पोटले चोरी
सूरत. खटोदरा सोना कानजी की वाडी में स्थित एक सिलाई कारखाने के मुख्य दरवाजे का ताला तोड़ कर टेम्पो लेकर आए चोर लंहगे के 11 पोटले चुरा कर फरार हो गए। चोरी गए पोटलों की कीमत 1.80 लाख रुपए बताई गई है। घटना के संंबध में पुलिस ने रुस्तमपुरा मोमनावाड निवासी शशांक भरतवाला ने प्राथमिकी दर्ज करवाई है। पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों का सुराग लगाने में जुटी है।
------------------
महराष्ट्र से आई प्रोढ़ महिला की चेन तोड़ी
सूरत. अडाजण इलाके में बिजली का बिल जमा कर पैदल घर लौट रही एक प्रोढ़ महिला को निशाना बना कर बाइकर्स उसकी सोने की चेन ले उड़े। चोरी गई चेन की कीमत 15 हजार रुपए बताई गई है। घटना के संबंध में एलपी सवाणी रोड संगम टाउनशिप निवासी सुमन मोरे ने अडाजण थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई है।

सुमन महाराष्ट्र के रायगढ़ से आई अपनी बहीन अश्वनी (50) के साथ एलपी सवाणी रोड जलाराम मंदिर के पीछे बिल जमा करवाने गई थी। लौटते समय यह घटना हुई। मास्क पहने हुए युवक ने अश्वनी के गले से चेन तोड़ी और फिर कुछ दूर खड़े साथी की मोटरसाइकिल पर बैठ कर फरार हो गया।

Show More
Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned