450 श्रमिक स्पेशल चलाने वाले फ्रंटलाइन रेलवे कर्मचारियों का वैक्सीनेशन शुरू

- रेलवे अस्पताल में की वैक्सीन देने की व्यवस्था, मनपा आयुक्त ने अस्पताल का निरीक्षण किया

By: Sanjeev Kumar Singh

Published: 27 Mar 2021, 10:36 PM IST

सूरत.

कोरोना लॉकडाउन के दौरान सबसे अधिक 450 श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाने वाले फ्रंटलाइन रेलवे कर्मचारियों को शुक्रवार से रेलवे अस्पताल में वैक्सीन देने की शुरुआत की गई है। मनपा आयुक्त बंछानिधी पाणि ने अस्पताल का दौरा किया। इसके बाद कॉमर्शियल, ऑपरेटिंग, वर्कशॉप समेत अन्य कर्मचारियों का वैक्सिनेशन शुरू किया गया। पहले दिन करीब 87 रेलवे कर्मचारियों ने वैक्सीन ली है।

पिछले लॉकडाउन में भारतीय रेलवे की सभी नियमित ट्रेनों को बंद कर दिया गया था, जो अब तक नियमित नहीं हो सकी है। हाल में स्पेशल ट्रेनों का संचालन किया जा रहा है। लॉकडाउन में रेल मंत्रालय ने एक मई से देश में श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का संचालन कर सूरत से प्रवासी श्रमिकों को गृहनगर भेजने के लिए 2 से 31 मई तक श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई थी। इस दौरान करीब 450 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में सात लाख चार हजार 977 प्रवासी श्रमिकों को गृहनगर भेजा गया था। श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाने वाले फ्रंट लाइन रेलवे कर्मचारियों को शुक्रवार से वैक्सिनेशन शुरू किया गया है। सूरत में फ्रंटलाइन वर्कर को 31 जनवरी से वैक्सीन देने की शुरुआत हुई है। जबकि एक मार्च से फ्रंट लाइन वर्कर को वैक्सीन की दूसरी डोज दी जा रही है। बीते एक माह में करीब 25,760 फ्रंट लाइन कर्मचारियों ने वैक्सीन ली है। जबकि 16,403 फ्रंट लाइन कर्मचारियों ने वैक्सीन की दूसरी डोज ली है।

रेलवे कर्मचारियों का वैक्सिनेशन एक माह बाद शुरू हुआ है। मार्च में कोरोना संक्रमण फैलने की रफ्तार सबसे अधिक है। कॉमर्शियल विभाग के 10 से अधिक कर्मचारी कोरोना संक्रमित है और होम आइसोलेशन में इलाज ले रहे है। रेलवे कर्मचारियों में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए शुक्रवार से सभी कर्मचारियों के लिए रेलवे अस्पताल में टीकाकरण शुरू किया गया है। मनपा आयुक्त बंछानिधी पाणि और सूरत स्टेशन डायरेक्टर दिनेश वर्मा ने शुक्रवार को रेलवे अस्पताल का दौरा कर वैक्सिनेशन की व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। इसके बाद कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीन देना शुरू किया गया है। रेलवे अस्पताल के एडिशनल चीफ मेडिकल सुप्रिटेंडेंट गणेश कुमार ने बताया कि पहले दिन 87 रेलवे कर्मचारियों ने वैक्सीन ली है।

रेलवे के 20 से अधिक कर्मचारी संक्रमित

सूत्रों ने बताया कि पिछले पन्द्रह दिनों में सूरत स्टेशन पर कार्यरत 20 से अधिक रेलकर्मी कोरोना संक्रमित हुए है। इसमें 10 रेलकर्मी कॉमर्शियल विभाग के है। हेड टीसी ऑफिस में एनाउंसर बिरेन्द्र चाहवाला, टीसी अक्षय काकलोतर, तौकिर कोरोना संक्रमित हैं। वहीं, डीसीटीआई ऑफिस में छह रेलवे कर्मचारी पॉजिटिव है। इसमें संजय जादव, लक्ष्मण, पवन, चेतन समेत अन्य कर्मचारी शामिल हैं। इसके अलावा ऑपरेटिंग, वर्कशॉप, कैरेज एंड वैगन समेत अलग-अलग विभागों में भी रेलकर्मी कोरोना संक्रमित हुए हैं।

आरपीएफ ने एक माह पहले ली वैक्सीन

सूरत और उधना स्टेशन पर यात्रियों की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभालने वाले रेलवे सुरक्षा बल के जवानों ने एक माह पहले ही स्मीमेर अस्पताल में कोरोना वैक्सीन की प्रथम डोज ले ली है। जबकि आगामी कुछ दिनों में जवानों का दूसरा डोज शुरू हो जाएगा। सूत्रों ने बताया कि रेलवे सुरक्षा बल सूरत और उधना कार्यालय से जवानों की सूची बनाकर मुम्बई मंडल कार्यालय भेजी गई थी। इसके बाद वहां से अनुमति मिलने के बाद सभी जवानों को वैक्सीन दी गई है।

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned