वैट के रवैए से व्यापारी नाराज

वैट के रवैए से व्यापारी नाराज
surat

Mukesh Kumar Sharma | Publish: Jun, 29 2016 11:54:00 PM (IST) Surat, Gujarat, India

राज्य सरकार नए व्यापारियों को जल्द से जल्द रजिस्ट्रेशन देने का दावा कर रही है, जबकि हकीकत कुछ और है।

सूरत।राज्य सरकार नए व्यापारियों को जल्द से जल्द रजिस्ट्रेशन देने का दावा कर रही है, जबकि हकीकत कुछ और है। सूरत वैट विभाग में नया रजिस्ट्रेशन लेने के लिए कई व्यापारी बैंक में डिपोजिट जमा करा चुके हैं, लेकिन उन्हें रजिस्ट्रेशन नहीं मिल रहा है।

वैट विभाग ने पिछले दिनों एक परिपत्र जारी किया था। इसके अनुसार 31 मई के बाद नए व्यापारियों को रजिस्ट्रेशन के लिए ऑनलाइन आवेदन करना था और डिपोजिट भी ऑनलाइन जमा करना था। पहले यह मेन्युअली स्वीकार किया जाता था। यह परिपत्र व्यापारियों के लिए मुसीबत बन गया है। कई व्यापारियों ने 31 मई से पहले बैंक में मेन्युअली 45 हजार रुपए बतौर डिपोजिट जमा करवाए थे।

इसका चालान विभाग में जमा कराने के बाद रजिस्ट्रेशन नंबर मिलता है, लेकिन विभाग के अधिकारी मेन्युअली चालान स्वीकार नहीं कर रहे हैं। वह ऑनलाइन डिपोजिट के लिए कहते हैं। अधिकारियों के इस रवैए से व्यापारी परेशान है। वह 45 हजार रुपए पहले ही भर चुके हैं। अब उन्हें फिर से डिपोजिट भरने को कहा जा रहा है।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned