VIDEO यह हैं लोकतंत्र के सच्चे प्रहरी, इंडोनेशिया से आए सिर्फ वोट करने के लिए

Vineet Sharma

Publish: Apr, 23 2019 04:29:08 PM (IST) | Updated: Apr, 23 2019 04:29:09 PM (IST)

Surat, Surat, Gujarat, India

सूरत। मेरा वोट मेरी सरकार, इस जज्बे को आत्मसात करने वालों में प्रवासी धर्मेन्द्र खंडेलवाल का योगदान भी कमतर नहीं। मूलतः राजस्थान के अजमेर निवासी और सूरत के रहवासी धर्मेंद्र पिछले कई वर्षों से इंडोनेशिया के पुरवाकर्ता में रहते हैं। वहां की बड़ी पॉलीस्टर कंपनी में असिस्टेंट वाईस प्रेसीडेंट के पद पर कार्यरत खंडेलवाल सिर्फ मतदान में अपनी भागीदारी निभाने के लिए लंबा सफर तय करके आये हैं। लोकतंत्र के सच्चे प्रहरी के तौर पर दूसरों को प्रेरित करने वाले धर्मेंद्र से पत्रिका टीवी और पत्रिका डिजीटल की टीम ने खास बातचीत की। जानते हैं लोकतंत्र की कहानी धर्मेंद्र खंडेलवाल की जुबानी।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned