ganesh utsav in surat : घरों और पंडालों में आज बिराजेंगे विध्नहर्ता श्री गणेश

- 2500 से अधिक मूर्तियों की पंडालों में होगी स्थापना

By: Dinesh M Trivedi

Updated: 10 Sep 2021, 10:01 AM IST

सूरत. पंडालों और घरों में शुक्रवार को चर्तुर्थी पर विध्नहर्ता भगवान श्रीगणेश की मूर्तियों की स्थापना होगी और अगले दस दिनों तक सूरती भक्त श्रीजी की आराधना में तल्लीन हो जाएंगे। इस बार भी सभी सूरतीयों की बस यही कामना है कि विघ्नहर्ता इस कोरोना रूपी विध्न से पूरी तरह से मुक्ति दिलावे। घरों और पंडालों में शुक्रवार को शुभ मुर्हूत में स्थापना के लिए तैयारियां शुरू हो गई है।

हालांकि इस बार भी सरकार की कोविड गाइड लाइन में कई तरह की निषेधाज्ञाएं होने के कारण शहर में उतने तामझाम तो देखने को नहीं मिल रहे हैं, जिनके लिए सूरत जाना जाता है। सूरत शहर गणेशोत्सव समिति के अनिल बिस्किटवाला ने बताया कि समूह में होने वाले आयोजनों के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया जारी है।

अभी तक विभिन्न मंडलों व सोसायटियों से गुरुवार शाम तक करीब रजिस्ट्रेशन के 1400 आवेदन मिले हैं, लेकिन अंतिम चरण में रजिस्ट्रेशन का काम तेजी से चल रहा है। शुक्रवार को यह संख्या 2500 तक पहुंच सकती है। मूर्तियों की खरीदारी भी तेज पंडालों के अलावा अपने अपने घरों में भक्तों द्वारा बड़े पैमाने पर छोटी मूर्तियों की स्थापना की जा रही है।

शहर में जगह-जगह लोग मूर्तियां खरीद रहे हैं। सोसायटियों के लोग पंडालों के लिए भी खरीद रहे हैं, यह सिलसिला रात तक और शुक्रवार सुबह तक जारी रहेगा। इस पर बार डीजे और ढोल ताशों पर प्रतिबंध होने के कारण यह प्रक्रिया शांतिपूर्ण ढंग से हो रही है। आमतौर पर सोसायटियों के लोग डीजे और ढोलताशों के साथ मूर्तियां लेने आते हैं और फिर नाचते गाते उन्हें अपने पंडाल तक ले जाते हैं।

रिंगरोड, उधना, परकोटा क्षेत्र, अडाजण, अठवालाइन्स, कतारगाम, परवत पाटिया समेत अन्य इलाकों में कुछ ऐसे ही नजारे देखने को मिले। गणेशोत्सव समिति द्वारा विसर्जन के बाद पौधों में परिवर्तित होने वाली छोटी ईकोफ्रेंडली मूर्तियों की भी बड़े पैमाने पर बिक्री हो रही है।

फूलों समेत पूजा सामग्री की भी खरीदारी :

गणेशोत्सव के चलते फूलों व पूजा सामग्री की विक्रेताओं के चेहरों पर भी रौनक लौट आई है। गुरुवार को शहर में जगह जगह फल- फूल समेत पूजा सामग्री की खरीदारी भी देखने को मिली। बड़ी संख्या में पुष्प विक्रेता गणेश स्थापना के लिए पुष्पों की विशेष मालाएं तैयार करते हुए नजर आए।

स्थापना के शुभ मुर्हूत :

ज्योतिषी मनीष त्रिवेदी ने बताया कि वैसे तो चुतर्थी तिथी रात्रि 9.57 बजे तक होने से पुरा दिन शुभ है। पंडाल में स्थापना के लिए सुबह 6.26 बजे से 11.03 बजे तक, दोपहर 12.11 बजे से 2.08 बजे तक, शाम 5.13 से 7.05 बजे तक श्रेष्ठ मुर्हूत है। घरों में मूर्ति स्थापित करने के लिए सुबह 7.58 बजे से 11.03 बजे तक, दोपहर 12.11 बजे से 2.08 बजे तक, शाम 5.15 से 7.05 बजे तक श्रेष्ठ मुर्हूत है।
------------------------

पुणा पाटिया में रणतभंवर का लगेगा दरबार :

सूरत. रणतभंवर गणेश परिवार समस्त भारत की सूरत ईकाई की ओर से मालिक कीर्तन रविवार को गणेशोत्सव के दौरान पुणा पाटिया स्थित सेन समाज की वाडी में होगा। भगवानदास मंत्री ने बताया कि कार्यक्रम दोपहर डेढ़ बजे श्री गणेश पूजन के साथ शुरु होगा। राजस्थान के सवाई माधोपुर से आने वाले कलाकार अपने भजनों से त्रिनेत्र गणेश जी को रिझाएंगे। कार्यक्रम कोविड गाइड लाइन के मुताबिक होगा।
------------------

प्राण प्रतिष्ठा पर निकली नगर यात्रा

सूरत. परवत पाटिया स्थित रंग अवधूत सोसायटी के गणेश मंदिर में रिद्धी-सिद्धी की मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव का आयोजन हो रहा है। जिसमें गुरुवार को नगर यात्रा निकाली गई व हवन का हुआ। गणेश चतुर्थी पर हवन का विसर्जन होगा व उसके बाद महाप्रसादी होगी।
-------------

वासू पुज्य स्वामी की भव्य आंगी

सूरत. पाल वात्सल्य सोसायटी जिनालय पर्युषण पर्व की समाप्ति पर गुरुवार को वासू पुज्य स्वामी की भव्य आंगी की गई। सोने-चांदी का वर्क किया गया व फूलों से मूर्ति को सजाया गया। जो श्रद्धालुओं के आकर्षण का केन्द्र बना।
-------------

शिवालयों में चढ़ाया केवड़ा

सूरत. महिलाओं ने केवड़ा तीज पर गुरुवार को शहर के विभिन्न शिवालयों में भगवान शिव को केवड़ा चढ़ाया व व्रत किया।
------

श्याम भजन संध्या

सूरत. सारोली स्थित वास्तु रेजिडेंसी में सोमवार को श्याम भजन संध्या का आयोजन किया जाएगा। जिसमें राकेश अग्रवाल, आकाश करनानी, टीना मोदी, हरि माहेश्वरी व मास्टर सागर भजनों की प्रस्तुति देंगे।
--------------

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned