ओवरब्रिज के लिए ग्रामीणों का हाइवे ब्लॉक करने का प्रयास

एनएचएआई ने कहा - 60 दिनों मे शुरू हो जाएगा का काम

By: विनीत शर्मा

Published: 28 Dec 2020, 07:25 PM IST

बारडोली. सूरत जिला की कामरेज तहसील के उंभेल गांव के पास राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 48 पर बार-बार हो रही दुर्घटना के कारण ग्रामीण लंबे समय से फ्लाइओवर की मांग कर रहे हैं। सुनवाई नहीं होने पर उंभेल गांव के पास ग्रामीण जमा हो गए और हाइवे ब्लॉक करने का प्रयास किया। मौके पर पहुंचे एनएचएआई के अधिकारियों ने 60 दिन में काम शुरू करने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि 15 दिनों में ओवरब्रिज के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। इसके बाद ग्रामीणों ने आंदोलन वापस ले लिया।

राष्ट्रीय राजमार्ग पर फ्लाइओवर के लिए उंभेल के ग्रामीण वर्ष 2015 से अधिकारियों से बातचीत कर रहे हैं, लेकिन कोई हल अबतक नहीं निकला है। पिछले दिनों हुए एक हादसे के बाद भी ग्रामीणों ने हाइवे जाम कर विरोध जताया था। साथ ही 28 दिसंबर को आंदोलन का ऐलान किया था। इसी घोषणा को लेकर सोमवार को बड़ी संख्या में महिला समेत ग्रामीण हाइवे पर पहुंचे। मौके पर एनएचएआई के अधिकारी व स्थानीय प्रशासन भी पहुंच गया।

उंभेल ग्राम पंचायत परिसर में अधिकारियों ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि आगामी 15 दिनों में टेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। जब तक ओवरब्रिज बन नहीं जाता, मार्ग पर बेरिकेट्स और रबर के गतिरोधक लगाकर वाहनों की स्पीड 20 से 30 किमी प्रति घंटे कर दी जाएगी। इस आश्वासन के बाद ग्रामीणों ने आंदोलन वापस ले लिया। आंदोलन के अग्रणी केतन देसाई ने कहा कि 15 दिन में कोई कार्रवाई नहीं हुई तो 15 जनवरी से आंदोलन तेज किया जाएगा।

इन मुद्दों पर बनी सहमति

मार्ग पर बेरिकेट्स और रबर के बम्प रखकर वाहनों की स्पीड 20 से 30 किमी प्रति घंटा की जाएगी।
28 दिसंबर 2020 से 15 दिन में उंभेल फ्लाइओवर के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू होगी।
उंभेल के ग्रामीणों के दूसरे मुद्दों पर भी ध्यान दिया जाएगा
टेंडर प्रक्रिया पूरी होने के बाद 60 दिनों में फ्लाइ ओवरब्रिज का काम शुरू हो जाएगा।

विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned