मौसम पलटा, बरसे मेघ, अंधड़ से नुकसान

बदले मौसम ने दिलाई गर्मी से राहत
कई जगह विद्युत खंभे और पेड़ तक उखड़ गए, यातायात बाधित

Sunil Mishra

October, 0507:10 PM


सिलवासा. दादरा नगर हवेली में शुक्रवार दोपहर को मौसम में अचानक बदलाव आया। तेज गर्मी और उमस के बीच बादल बरस पड़े। बारिश के कारण कुछ देर के लिए मौसम ठंडा हो गया और लोगों को गर्मी से राहत मिली। इससे पूर्व गुरुवार शाम को आए तेज अंधड़ से ग्रामीण इलाकों में काफी नुकसान हुआ। कई जगह खंभे और पेड़ तक उखड़ गए। इससे यातायात भी प्रभावित हुआ।

 

patrika

चक्रवात के प्रभाव से मौसम ने करवट बदली
मौसम विभाग के अनुसार एंटी साइक्लोनिक सिस्टम के कारण मौसम में परिवर्तन हुआ है। तेज गर्मी और उमस के बीच चक्रवात के प्रभाव से मौसम ने करवट बदली है। शहर के अलावा मांदोनी, सिंदोनी, दूधनी और कौंचा के ऊंचाई वाली पहाडिय़ों पर बूंंदाबादी हुई। बारिश के दौरान सडक़ों पर कीचड़ व्याप्त हो गया। बरसात के दौरान तेज हवा चलने से पेड़ गिरने की घटनाएं हुई। नरोली गोहित फलिया में भारी पेड़ गिरने से करीब एक घंटे रास्ता जाम रहा। बारिश के बाद आकाश में बादल छाए रहने से धूप से राहत मिली है। बारिश से पहले दोपहर तक तेज गर्मी के साथ सूर्य की चटख धूप ने लोगों को परेशान किए रखा। दोपहर दो बजे शहर सहित खानवेल, मांदोनी, दूधनी के क्षेत्र में बादल गहरे हो गए। जंगलों में कहीं-कहीं बूंदाबांदी हुई। बारिश के बाद मंद और तेज हवा चलती रही। मौसम विभाग के अनुसार चक्रवात के कारण रविवार तक जोरदार बारिश हो सकती है।



patrika

करंट ने ली किसान की जान
इससे पूर्व गुरुवार शाम को आए तेज अंधड़ और चक्रवात के चलते टूटे पड़े विद्युत तार से करंट लगने से पारजाई में एक किसान की मौत हो गई। सरपंच चंदूभाई बारिया ने बताया कि पारजाई निवासी नवनीत लहू कन्नौज (43 वर्ष) शुक्रवार को सुबह 5 बजे उठा। वह अपने कमरे से निकलकर आंगन में आया। आंगन से बाहर आते ही खंभे से टूटे हाइटेंशन के तार से छूते ही उसके करंट लग गया। इससे उसकी घटना स्थल पर मौत हो गई। बाद में पड़ोसियों ने घटना के बारे में पुलिस को सूचना दी। विद्युत स्टेशन पर सूचना देकर विद्युत विच्छेद किया गया और शव को निकाला। गांव वासियों का कहना है कि गुरुवार शाम को आए तेज अंधड़ से गांवों में छप्पर, झोपड़े आदि आशियाने उजड़ गए। चक्रवाती हवा के साथ टॉरनेडो ने भी कई घरों को भारी नुकसान पहुंचाया है। कई जगह खंभे और पेड़ उखड़ गए। घरों से बिजली गुल हो गई। इसके बावजूद कई जगह टूटे तारों में विद्युत प्रवाह जारी रहा। मृतक के घर के आगे से गुजर रही विद्युत लाइन पर पेड़ गिरने से तार टूट गए थे। पुलिस ने खानवेल उपजिला अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौप दिया है। मृतक के परिवार में पत्नी के अलाव तीन बच्चे हैं। नवनीत खेती करके घर का जीविकोपार्जन करता था।

Sunil Mishra Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned