थीम आधारित गणपति पर कहां हुआ विवाद...जानने के लिए पूरी खबर पढ़े

थीम आधारित गणपति पर कहां हुआ विवाद...जानने के लिए पूरी खबर पढ़े

Sandip Kumar N Pateel | Publish: Sep, 16 2018 08:55:01 PM (IST) Surat, Gujarat, India

गोहत्या रोकने वाली थीम पर बने गणपति पर विवाद, पुलिस ने कसाई की प्रतिमा को हटाया, शिवाजी के रूप में भगवान गणेश को कसाई का हाथ काटते दर्शाया था

नर्मदा. नर्मदा जिला मुख्यालय राजपीपला में गोहत्या रोकने के प्रति जागरुकता लाने वाली गणपति प्रतिमा को पुलिस ने हटवा दिया। आयोजकों में पुलिस की कार्रवाई को लेकर रोष व्याप्त है।


राजपीपला में शर्मा कॉम्प्लेक्स के पास शिवसेना युवक मंडल की ओर से गोहत्या को रोकने वाली थीम पर आधारित भागवान गणपति की झांकी विवाद में घिर गई है। प्रतिमा में शिवाजी महाराज के रूप में भगवान गणेश को कसाई का हाथ काटते दर्शाया गया था। शहर में धार्मिक भावना को ठेस पहुंचने की आशंका को देखते हुए पुलिस ने शुक्रवार रात पंडाल से कसाई के पुतले को कब्जे में ले लिया।


गणेश महोत्सव के दौरान युवक मंडलों की ओर से समाज में व्याप्त कुरीतियों और समस्याओं को लेकर विभिन्न थीम पर झांकियों को सजाया जाता है। धार्मिक दृष्टि से संवेदनशील माने जाने वाले राजपीपला में गोहत्या रोकने के लिए तैयार की गई थीम विवाद में घिर गई है। शिवसेना युवक मंडल ने शर्मा कॉम्प्लेक्स प्रोफेसर कॉलोनी के पास लगाए पंडाल में शिवाजी महाराज द्वारा बाल्यकाल में नगर भ्रमण के दौरान गोमाता को मारने जा रहे कसाई का हाथ काटने की घटना पर आधारित थीम पर भगवान गणेश की प्रतिमा स्थापित की थी। भगवान गणेश की इस थीम से विवाद की आशंका को देखते हुए पुलिस ने पहले आयोजकों के साथ बैठक कर विवादास्पद झांकी हटाने का अनुरोध किया। इसके बावजूद उक्त झांकी नहीं हटाए जाने पर देर रात को राजपीपला पुलिस ने कसाई की प्रतिमा को जब्त कर पुलिस स्टेशन ले आई।


शिवसेना युवक मंडल के पदाधिकारी और पंडाल आयोजक निलेश तड़वी ने कहा कि लोगों में गोरक्षा के प्रति जागरुकता लाने के उद्देश्य से शिवाजी महाराज की उक्त प्रतिमा लगाई गई थी मंडप की सजावट में किसी की धार्मिक भावना के साथ कोई खिलवाड़ नहीं किया गया था।


ताकि शहर की शांति भंग नहीं हो


एलसीबी के पीएसआई एडी महंत ने कहा कि राजपीपला में शिवसेना युवक मंडल द्वारा लगाई गई प्रतिकृति विवादित थी। उसे हटा दिया गया। किसी की धार्मिक भावना को ठेस न पहुंचे और शांति व्यवस्था बनी रहे, इसके लिए डिप्टी एसपी के साथ परामर्श के बाद विवादित प्रतिमा को मंडप से हटाया गया।

Ad Block is Banned