डॉलर और यार्न के कच्चे माल की कीमत बढऩे के कारण यार्न की कीमत में उछाल

डॉलर और यार्न के कच्चे माल की कीमत बढऩे के कारण यार्न की कीमत में उछाल

Pradeep Mishra | Publish: Sep, 09 2018 08:30:56 PM (IST) Surat, Gujarat, India

पीओवाय में चार और एफडीवाय में आठ रुपए बढ़े

सूरत

यार्न बाजार में बीते सप्ताह भी दाम बढ़े। यार्न उत्पादकों का कहना है कि डॉलर और यार्न के कच्चे माल की कीमत बढऩे के कारण यार्न की कीमत में उछाल आया। यार्न बाजार के सूत्रों के अनुसार बीते सप्ताह एफडीवाय में आठ रुपए और पीओवाय में चार रुपए बढ़े। वीवर्स की ओर से आवश्यकतानुसार खरीद ही की जा रही है। वह दाम घटने का इंतजार कर रहे हैं। यार्न व्यवसायी फोरम घीवाला और बकुल पंड्या ने बताया कि यार्न की कीमतों में उछाल जारी है। यार्न उत्पादकों का कहना है कि वैश्विक बाजार में डॉलर की कीमत बढऩे के कारण यार्न की कीमत पर असर पड़ रहा है। इसके अलावा यार्न के कच्चे माल एमइजी और पीटीए की कीमत भी लगातार बढऩे से यार्न के दाम बढ़ रहे हैं। त्योहारों के कारण होने वाली खरीद लगभग पूरी हो चुकी है, इसलिए वीवर्स खरीद कम कर रहे हैं।
ग्रे के भाव में सामान्य उछाल, खरीद मध्यम

file

ग्रे बाजार में बीते सप्ताह कीमतों में सामान्य उछाल आया। आने वाले दिनों में त्योहारों के कारण ग्रे की तमाम क्वॉलिटी में खरीद मध्यम रही। ग्रे व्यवसायियों के अनुसार बाजार में आने वाले दिनों में खरीद अच्छी रहेगी।
ग्रे बाजार के सूत्रों के अनुसार यार्न की कीमत बढऩे के कारण ग्रे बाजार में भी पिछले सप्ताह दाम सामान्य बढ़े। यार्न में पच्चीस पैसे से पचास पैसे तक दाम बढ़े हैं। आगामी दिनों में त्योहारों के कारण अन्य राज्यों के व्यापारियों की ओर से साड़ी और ड्रेस मटीरियल्स, दोनों सेगमेंट में ऑर्डर मिल रहे हैं। ग्रे व्यवसायियों को आगामी दिनों में बाजार में अच्छी डिमांड रहने की उम्मीद है। ग्रे व्यवसायी सोनू शर्मा के अनुसार ग्रे बाजार में बीते सप्ताह खरीद मध्यम रही। यार्न की कीमत बढऩे के कारण ज्यादातर क्वॉलिटी में पच्चीस पैसे से पचास पैसे तक दाम बढ़े हैं। भिवंडी ग्रे बाजार में बीते सप्ताह दाम यथावत रहे। ग्रे व्यवसायी गिरधारी साबू ने बताया कि यार्न की बढ़ी कीमतों के कारण पहले से दाम ऊंचाई पर हैं। बीते सप्ताह दाम उसी स्तर पर रहे।

Ad Block is Banned