Datawind ने लॉन्च किया MoreGMax 4G7 टैबलेट, स्टूडेंट्स के लिए है खास

Anil Jangid

Publish: Aug, 26 2017 12:48:00 (IST)

Tablet
Datawind ने लॉन्च किया MoreGMax 4G7 टैबलेट, स्टूडेंट्स के लिए है खास

Datawind का पहला 4जी टैबलेट है MoreGMax 4G7

नई दिल्ली। किफायती स्मार्टफोन्स और टैबलेट्स बनाने वाली कंपनी Datawind ने अपना नया टैबलेट MoreGMax 4G7 लॉन्च कर दिया है। यह कंपनी का पहला 4G टैबलेट है जो खासतौर पर स्टूडेंट्स के लिए बेहद उपयोगी साबित होगा। डाटाविंड मोर जी मैक्स 4जी 7 टैबलेट छात्रों को पढ़ाई में मदद करने समेत उनमें कौशल क्षमता बढ़ाने के लिए काफी उपयोगी है। खास कर विद्यार्थियों के लिए लाए गए इस टैबलेट की कीमत 5,999 रुपए रखी गई है काफी प्रतिस्पर्धात्मक है। इसके पीछे कंपनी का मकसद शिक्षा क्षेत्र में कम कीमत के सेगमेंट में ज्यादा से ज्यादा कस्टमर्स को जोड़ना है। महज 270 ग्राम वजनी इस टैबलेट पर कंपनी की ओर से एक साल की वारंटी भी दी जा रही है। यह ड्यूल सिम सपोर्ट वाला टैबलेट है जो एंड्रॉयड 5.1 लॉलीपॉप ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करता है। यह मीडियाटेक एमटी8735 चिपसेट का पावर और क्वॉडकोर कॉर्टेक्स ए 7 प्रोसेसर से लैस है।

 

दोनों तरफ कैमरे
मोर जी मैक्स 4जी7 टैबलेट के बारे में कंपनी का कहना है कि इससे डेटा यूजर्स की संख्या में वृद्धि होगी। स्टूडेंट्स की सुविधा के लिए इसमें 7 इंच की बड़ी मल्टी-टच कैपेसिटेटिव स्क्रीन 1024 गुणा 600 पिक्सल का रेजोल्यूशन के साथ दी गई है। इसके अलावा इसमें 0.3 मेगापिक्सल फ्रंट और 5 मेगापिक्सल का रियर कैमरा दिया गया है। इसके रियर कैमरे को एलईडी फ्लैश के साथ दिया गया है।

 

4जी कनेक्टिविटी और आॅफर
डेटाविंड के इस टैबलेट में एक जीबी रैम और 8 जीबी इंटरनल मेमोरी दी गई है। इसमें एक्सटरनल मेमोरी के तौर पर 32 जीबी तक का माइक्रोएसडी कार्ड लगता है। इसके लिए कंपनी का कहना है कि इस टैबलेट को लाने के पीछे उसका मकसद ग्राहकों की हाई-स्पीड डाटा की जरूरतें पूरी करना है। इसके साथ रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) की ओर से 1 साल तक का इंटरनेट ऑफर भी दिया जा रहा है। 4जी कनेक्टिविटी के अलावा इसमें वॉयस कॉल, वाई-फाई हॉटस्पॉट, वाई-फाई डायरेक्ट, ब्ल्यूटूथ और जीपीएस जैसे फीचर्स भी हैं। डेटाविंड मोरजीमैक्स 4जी7 में 3000 एमएएच की शक्तिशाली बैटरी है। इसको ब्लैक कलर वेरियंट में उपलब्ध कराया गया है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned