चार धाम की यात्रा में आते हैं ये पड़ाव, जानिए इनके बीच की दूरी

कहा जाता है कि जो भी इस यात्रा को पूरा कर लेता है, उसके सभी पापों का नाश हो जाता है और वो मृत्यु पश्चात स्वर्ग को प्राप्त होता है

By: सुनील शर्मा

Published: 07 May 2016, 02:41 PM IST

सनातन धर्म में चार धाम की यात्रा का बहुत ही महत्व है। कहा जाता है कि जो भी इस यात्रा को पूरा कर लेता है, उसके सभी पापों का नाश हो जाता है और वो मृत्यु पश्चात स्वर्ग को प्राप्त होता है। अगर आप भी चार धाम की यात्रा कर रहे हैं तो आपको यात्रा के दौरान विभिन्न स्थानों के बीच की दूरी तथा बीच के रास्ते में आने वाले माहौल, संस्कृति तथा अन्य बातों का मालूम होना चाहिए। आइए इस पोस्ट में जानते हैं यात्रा के दौरान विभिन्न स्थानों के बीच की दूरी (यात्रा का आरंभ जयपुर से माना गया है) -

चार धाम का रोड मैप - दूरी व समय
जयपुर से दिल्ली - 265 किलोमीटर - पांच घंटे
दिल्ली से हरिद्वार - 210 किलोमीटर - छह घंटे
हरिद्वार से बारकोट - 220 किलोमीटर - सात घंटे
बारकोट से यमुनोत्री - 36 किलोमीटर - (छह किलोमीटर पैदल ट्रैक)
यमुनोत्री से बारकोट - 36 किलोमीटर
बारकोट से उत्तरकाशी - 100 किलोमीटर - चार घंटे
उत्तरकाशी से गंगोत्री - 100 किलोमीटर - तीन घंटे
गंगोत्री से उत्तरकाशी - 100 किलोमीटर - तीन घंटे
उत्तरकाशी से रुद्रप्रयाग - 180 किलोमीटर - सात घंटे
रूद्रप्रयाग से गुप्तकाशी - 74 किलोमीटर - तीन घंटे
गुप्तकाशी से केदारनाथ - 20 किलोमीटर (पैदलमार्ग)
केदारनाथ से रुद्रप्रयाग - 74 किलोमीटर - तीन घंटे
रुद्रप्रयाग से बद्रीनाथ - 160 किलोमीटर - छह घंटे
बद्रीनाथ से रुद्रप्रयाग - 160 किलोमीटर - छह घंटे
रूद्र प्रयाग से ऋषिकेश 156 किलोमीटर - छह घंटे
ऋषिकेश से दिल्ली - 260 किलोमीटर - छह घंटे
दिल्ली से जयपुर - 265 किलोमीटर - पांच घंटे
Show More
सुनील शर्मा Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned