सावन मास में श्रद्धालुओं ने अपने प्रिय भगवान शिव की पूजा—आराधना की । लोगों ने दुग्धाभिषेक किया और भगवान से अच्छी बारिश की प्रार्थना की।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned