गुरुवायूर मंदिर : दक्षिण के द्वारका में पीएम मोदी, यहां सिर्फ हिन्दू धर्म के लोगों को ही जाने की है इजाजत

गुरुवायूर मंदिर : दक्षिण के द्वारका में पीएम मोदी, यहां सिर्फ हिन्दू धर्म के लोगों को ही जाने की है इजाजत

By: Pawan Tiwari

Updated: 08 Jun 2019, 11:37 AM IST

पीएम नरेन्द्र मोदी शनिवार को केरल के गुरुवायूर मंदिर में दर्शन करने पहुंचे। यहां पर उन्होंने भगवान गुरुवायुरुप्पन की पूजा की। इस मंदिर को दक्षिण का द्वारका कहा जाता है। आइये जानते हैं इस मंदिर की विशेषता...

guruvayur temple

गुरुवायूर मंदिर को दक्षिण का द्वारका कहा जाता है। इस मंदिर में भगवान गुरुवायुरुप्पन की पूजा होती है। गुरुवायुरुप्पन भगवान विष्णु का ही रूप माना जाता है। इस मंदिर को गुरुवायूर श्रीकृष्ण मंदिर के नाम से जाना जाता है। गौरतलब है कि द्वारका में भगवान श्रीकृष्ण का जन्म हुआ था।

इस मंदिरा का इतिहाक लगभग 5 हजार साल पुराना है। गुरुवायूर मंदिर देश के प्राचीन मंदिरों में एक है। यहां पुजारी को मेंसाती कहते है। बताया जाता है कि जो 24 घंटे भगवान की सेवा करते हैं, उन्हें मेंसाती कहा जाता है।

Sri Krishna Temple in Guruvayur

भगवान गुरुवायुरुप्पन के दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं के लिए खास तरह का ड्रेस कोड है। पुरुष श्रद्धालुओं को मुंडु नामक पोशाक पहननी पड़ती है। वहीं बच्चों को वेष्टी पहनाई जाती है जबकि औरतों को सिर्फ सूट-सलवार या साड़ी में ही मंदिर में प्रवेश कर सकती हैं।

Sri Krishna Temple in Guruvayur

गुरुवायूर मंदिर के बारे में एक बात जानकर आपको हैरानी होगी कि यहां सिर्फ और सिर्फ हिन्दू धर्म के लोगों को ही जाने की इजाजत है। इस मंदिर परिसर में दूसरे धर्म के लोगों के घुसने पर सख्त मना है।

Sri Krishna Temple in Guruvayur

बताया जाता है कि भगवान गुरुवायुरुप्पन के दर्शन करने के बाद श्रद्धालुओं को अनाकोट्टा नामक स्थान पर जाना पड़ता है। कहा जाता है कि यह जगह हाथियों के लिए काफी लोकप्रिय है। बताया जाता है कि गुरुवायूर मंदिर से जुड़े हाथियों के यहां रखा जाता है। यहां लगभग 80 हाथियों के रहने की व्यवस्था है।

pm modi
Pawan Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned