डेविस कप : दोनों एकल मुकाबला हारकर भारत संकट में, क्रोएशिया 2-0 से आगे

भारत को अपनी संभावना बचाए रखने के लिए युगल वर्ग में दिग्गज युगल जोड़ी Leander Paes और Rohan Bopanna को अपना मैच जीतना होगा।

By: Mazkoor

Updated: 07 Mar 2020, 02:01 PM IST

जाग्रेब : क्रोएशिया में खेले जा रहे डेविस कप (Davis Cup) विश्व ग्रुप क्वालिफायर मुकाबले के पहले दिन मेजबान टीम के हाथों मेहमान भारत अपने दोनों एकल मुकाबले हारकर 2-0 से पीछे हो गया है। पहले दिन खेले गए दोनों एकल मुकाबलों में भारत के रामकुमार रामनाथन (Ramkumar Ramnathan) और प्रजनेश गुणनेस्वेरन (Prajnesh Gunneswaran) को हार का सामना करना पड़ा। क्रोएशिया की तरफ से पूर्व अमरीकी ओपन चैम्पियन मारिन सिलिक और डेविस कप में अपना डेब्यू मैच खेल रहे बोर्ना गोजो ने जीत हासिल की।

दुबई चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचे जोकोविक, सेमीफाइनल में जाएल मोंफिल्स को हराया

प्रजनेश पहले सेट में बढ़त लेने के बाद हारे

भारत की तरफ से शुक्रवार को पहले मैच में प्रजनेश ने पहला सेट 3-6 जीतकर गोजो पर बढ़त बना ली थी, लेकिन इसके बाद दो सेट 6-4, 6-2 से हारकर वह मैच भी गंवा बैठे। पहला सेट हारने के बाद दूसरे सेट के पहले गेम में गोजो ने सर्विस ब्रेक की और यहां से उन्होंने मैच में जो बढ़त बनाई, उसे अंत तक कायम रखा। उन्होंने तीसरे सेट के पहले गेम में भी प्रजनेश की सर्विस तोड़ी। इस तरह उन्होंने प्रजनेश को 3-6, 6-4, 6-2 हराकर क्रोएशिया को भारत पर 1-0 की बढ़त दिला दी।

कड़े संघर्ष में सिलिक से हारे रामकुमार

दूसरे मैच में रामकुमार रामनाथन का सामना विश्व नंबर-37 मारिन सिलिक से था। सिलिक ने दो सेटों में ही 6-7, 6-7 से रामकुमार को मात दी, लेकिन रामकुमार ने संघर्ष कर दोनों मुकाबले को टाईब्रेकर तक ले गए। उन्होंने नेट पर शानदार खेल दिखाया, लेकिन सिलिक के बेहतरीन सर्विस, फोरहैंड और विनर्स का वह काट नहीं ढूंढ़ सके। एक समय तो टाई ब्रेकर में रामकुमार 6-5 से आगे थे और उन्होंने दो मैच प्वाइंट भी बचाए थे। इसके बाद सिलिक ने पासा पलटा और बढ़त ले ली।

टोक्यो में देश के लिए ओलम्पिक पदक जीतना चाहते हैं जोकोविक, कहा- उम्मीद है यह साल सर्वश्रेष्ठ रहेगा

भारत की उम्मीद पेस-बोपन्ना की जोड़ी पर

अब डेविस कप में भारत को क्रोएशिया के खिलाफ अपनी संभावना बचाए रखना है तो उसे दूसरे दिन युगल वर्ग में भारत के अनुभवी और दिग्गज युगल जोड़ी लिएंडर पेस और रोहन बोपन्ना को अपना मैच जीतना होगा। इनका सामना क्रोएशिया के मेट पेविक और फ्रांको स्कुगोर की जोड़ी से होगा। अगर भारत इस मैच को जीत सका, तभी रविवार को रिवर्स एकल मुकाबले खेले जाएंगे।

Mazkoor Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned