आईटीएफ वल्र्ड चैम्पियंस: नडाल बने सम्मान पाने सबसे उम्रदराज खिलाड़ी

नडाल को तीसरी बार जबकि मुगुरूजा को पहली बार आईटीएफ वल्र्ड चैंपियन चुना गया है। नडाल यह सम्मान पाने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी भी बन गए हैं।

By: Lalit Sharma

Published: 09 Dec 2017, 07:22 PM IST

लंदन. विश्व के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी स्पेन के राफेल नडाल और उनकी हमवतन महिला खिलाड़ी गरबाइन मुगुरूजा को इस वर्ष के आईअीएफ वल्र्ड चैंपियंस अवॉर्ड से सम्मानित किया गया है। नडाल को तीसरी बार यह सम्मान दिया गया है, जबकि मुगुरूजा को पहली बार आईटीएफ वल्र्ड चैंपियन चुना गया है। नडाल यह सम्मान पाने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी भी बन गए हैं। आईटीएफ ने बयान में कहा कि इस सत्र में जोड़ी में खेलने वाले पोलैंड के लुकास कुबोत और मार्सेलो मेलो को पुरुष और महिलाओं में स्विट्जरलैंड की मार्टिना ङ्क्षहगिस तथा चीनी ताइपे की चान यून जान को युगल वल्र्ड चैंपियंस चुना गया है। अमरीका के डेविड वेगनर को आईटीएफ क्वाड व्हीलचेयर वल्र्ड चैंपियंन, जबकि अर्जेंटीना के गुस्तावो फर्नांडी•ा को पहला व्हीलचेयर चैंपियंन चुना गया है। महिलाओं में जापान की यूई कमीजी को दूसरी बार व्हीलचेयर वल्र्ड चैंपियन अवॉर्ड से नवाजा गया है। अर्जेंटीना के एक्सेल गैलेर और अमरीका की व्हिटनी ओसुईग्वे को आईटीएफ जूनियर विश्व चैंपियन चुना गया है। नडाल ने इस सम्मान के लिए कहा, मैं इस सम्मान को पाकर बहुत खुश हूं। मैं चार वर्ष बाद एटीपी रैंङ्क्षकग में फिर से नंबर वन हूं और यह मेरे लिए खास अनुभव है। मैं गरबाइन को भी बधाई देता हूं। मेरी टीम और प्रशंसकों को मैं धन्यवाद देता हूं खासकर मेरे अंकल टोनी को। मुगुरूजा ने भी इस सम्मान के लिए खुशी जाहिर करते हुए अगले वर्ष इस लय को बनाए रखने का भरोसा जताया।

कुछ खास बातें
05 जून को अवॉर्ड विजेताओं को पेरिसर में दी जाएंगी उनकी ट्रॉफियां, 11 में 8 खिलाड़ी पहली बार ये अवॉर्ड लेंगे, जिसमें 3 दक्षिण अमरीका के हैं। 19 साल बाद महिला-पुरुष वर्ग के अवॉर्ड विजेता एक ही देश के हैं। 1998 में अमरीका के पीट सम्प्रास और डेवेनपोर्ट थे एेसी आखिरी जोड़ी। ३१ साल के नडाल ये अवॉर्ड पाने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बन गए हैं। १०वीं बार फ्रेंच ओपन और तीसरी बार यूएस ओपन जीता था नडाल ने इस साल। 06 खिताब 2017 में जीतने वाले नडाल ऑस्ट्रेलियन ओपन का फाइनल भी खेले। २३ साल में ये अवॉर्ड पाने वाली स्पेन की पहली महिला खिलाड़ी हैं गरबाइन मुगुरूजा। 1994 में अरांता सांचे•ा विकारियो आखिरी बार ये अवॉर्ड पाने वाली इकलौती स्पेनिश महिला थीं। 2016 में गरबाइन मुगुरूजा ने अपना पहला ङ्क्षवबलडन खिताब जीता था। 01 नंबर पर भी आईं इस साल मुगुरूजा, फिलहाल दूसरे नंबर की खिलाड़ी हैं।

Lalit Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned