युवा सुमित ने विदेश में बजाया देश का डंका, जीत के बाद बोले- जश्न मनाने का समय नहीं

युवा सुमित ने विदेश में बजाया देश का डंका, जीत के बाद बोले- जश्न मनाने का समय नहीं

Manoj Sharma Sports | Updated: 30 Sep 2019, 09:58:49 AM (IST) टेनिस

ये कारनामा करने वाले पहले भारतीय बने सुमित

नई दिल्ली। भारत के उभरते स्टार टेनिस खिलाडी सुमित नागल ने इतिहास रचते हुए अर्जेंटीना में खेले गए ब्यूनस आयर्स एटीपी चैलेंजर्स टेनिस टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया है। 22 वर्षीय सुमित के करियर में घर के बाहर जीता गया अब तक का यह पहला खिताब हैं।

सातवीं सीड के सुमित ने फाइनल में अर्जेंटीना के खिलाड़ी फाकुंडो बैगनिस को सीधे सेटों में 6-4, 6-2 से मात देकर खिताब अपने नाम किया। भारतीय खिलाड़ी ने एक घंटे 37 मिनट में यह मुकाबला अपने नाम किया।

सुमित को हाल में बांजा लूका चैलेंजर्स के फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था, लेकिन इस बार उन्होंने कोई गलती नहीं की और ब्यूनस आयर्स एटीपी चैलेंजर्स खिताब जीतकर ही दम लिया। भारतीय खिलाड़ी ने 2017 में बेंगलुरु में अपना पहला खिताब जीता था।

इस जीत के बाद सुमित एटीपी की ओर जारी होने वाली ताजा एटीपी रैंकिंग में 159वें नंबर से 135वें नंबर पर पहुंच जाएंगे। सुमित के इस फाइनल मैच के दौरान अर्जेंटीना में भारत के राजदूत दिनेश भाटिया और काफी संख्या में भारतीय दर्शक भी मौजूद थे, जोकि सुमित का हौसला बढ़ा रहे थे।

आपको बता दें कि सुमित साउथ अमेरिकन क्ले पर खिताब जीतने वाले पहले भारतीय बन गए हैं।

उन्होंने इस खिताबी जीत के बाद कहा, "यह काफी शानदार था। मैं यहां अकेले आया था। मेरे साथ मेरे कोच (सासा नेंनसेल) और ट्रेनर (मिलोस गागेलिक) भी नहीं थे। कोच के बिना खेलना मुश्किल होता है। लेकिन अब यहां ट्रॉफी उठाना मेरे लिए वाकई शानदार है और मुझे खुद पर गर्व है।"

उन्होंने कहा, "आज मैं यहां खिताब जीता हूं और अब मुझे अगले सप्ताह ब्राजील जाना है। जहां एक और चैलेंजर टूर्नामेंट खेलना है। इसलिए मेरे पास इस जीत का जश्न मनाने का समय नहीं है। मुझे अभी भी काफी मेहनत करने की जरूरत है ताकि मैं अपने प्रदर्शन में और सुधार कर सकूं।"

सुमित ने पिछले महीने ही अपने पहले ग्रैंड स्लैम अमेरिकी ओपन के पहले राउंड में टेनिस के बादशाह स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर को पहला सेट हराया था और तब फेडरर ने कहा था कि ये भारतीय खिलाड़ी काफी आगे तक जा सकते हैं।

सुमित का यह खिताब जीतना बताता है कि वह अब इसी राह पर चल पड़े हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned