Breaking news हाथ पैर बांध कर कुएं में फैंक कर की थी हत्या, आरोपी गिरफ्तार, देखें VIDEO

आरोपियों द्वारा लगभग एक वर्ष पूर्व इस घटना को अंजाम दिया गया था।

By: anil rawat

Published: 20 Jul 2018, 03:36 PM IST

टीकमगढ़. एक नाबालिग की हत्या के दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों द्वारा लगभग एक वर्ष पूर्व इस घटना को अंजाम दिया गया था। आरोपियों ने जमीनी विवाद पर एक 14 वर्ष के नाबालिग के हाथ-पैर बांध कर कुएं में फैंक दिया था। पुलिस ने इन आरोपियों पर 10 हजार रूपए का ईनाम घोषित किया था।
गुरूवार को पुलिस कंट्रोल रूम में हत्या के मामले का खुलासा करते हुए एएसपी सुरेन्द्र जैन ने बताया कि पिछले वर्ष 29 मई 2017 को खरगापुर थाने के ग्राम भिलौनी निवासी रामस्वरूप पुत्र देशराज उर्फ गौरीशंकर कुशवाहा 14 वर्ष अपने घर से गायब हो गया था। इसकी शिकायत उसके पिता ने पुलिस से की थी। रामस्वरूप के गुम होने के 2 दिन बाद 31 मई 2017 को उसका शव गांव के ही राकेश द्विवेदी के कुएं में मिला था। रामस्वरूप के हाथ-पैर बांध कर कुएं में फैंकने से इसकी हत्या हुई थी। इस मामले में पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया था।
आरोपियों की हुई शिनाख्त: मामले की जानकारी देते हुए खरगापुर थाना प्रभारी जितेन्द्र वर्मा ने बताया कि मामले की जांच में पता चला कि भगवानदास पुत्र रामचरण कुशवाहा 28 वर्ष निवासी डुडूखेरा एवं चंदन उर्फ मंटू पुत्र लखन कुशवाहा 25 वर्ष निवासी बनयानी थाना बल्देवगढ़ ने मिलकर रामस्वरूप की हत्या की है। इसका खुलासा गांव के ही एक युवक ने किया। उसने इन दोनों आरोपियों को घटना स्थल के पास ही मृतक के साथ देखा था। लेकिन घटना के अगले दिन ही यह दिल्ली चला गया था।

वहां से लौटकर जब उसे घटना की जानकारी हुई तो उसने यह बात उसके परिजनों को बताई। इसके बाद पुलिस ने उक्त आरोपियों का पता किया लेकिन यह गांव छोड़कर दिल्ली जा चुके थे। पुलिस द्वारा आरोपियों की गिरफ्तारी का लगातार प्रयास किया जा रहा था। बुधवार को आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद जब पुलिस ने उनसे घटना के विषय में पूछा तो उन्होंने पूरी सच्चाई बता दी।
जमीनी विवाद पर की हत्या: रामस्वरूप की हत्या जमीनी विवाद पर की गई है। रामस्वरूप के पिता देशराज और आरोपी रामचरण कुशवाहा के बीच जमीन का विवाद लंबे समय से चल रहा था। इन दोनों के बीच में कुएं से पानी को लेकर भी अक्सर विवाद होता रहता था। थाना प्रभारी वर्मा ने बताया कि इस घटना के 2 दिन पूर्व 26 मई 2017 को भी दोनों के बीच विवाद हुआ था और उसकी शिकायत थाने में दर्ज कराई गई थी। इसके बाद आरोपियों ने बदला लेने के लिए उसके पुत्र की हत्या करने की साजिश रची थी। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

anil rawat Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned