शिक्षा से ही दूर होंगी सभी प्रकार की समस्याएं: कलेक्टर

शिक्षा से ही दूर होंगी सभी प्रकार की समस्याएं: कलेक्टर

Vishnu Kumar Soni | Updated: 19 Aug 2019, 10:00:00 AM (IST) Tikamgarh, Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

आदर्श मानस प्रेरणा समिति का 14वां स्थापना दिवस

टीकमगढ़.जब तक लोग शिक्षित नहीं होंगे समस्या खत्म नहीं होगी। लोगों को अपनी मानसिकता भी बदलनी होगी। गरीबों की मदद उन्हें आत्मनिर्भर बनाने में करें। यह बात कलेक्टर सौरभ कुमार सुमन ने जिला अस्पताल में आदर्श मानस पे्ररणा समिति के 14वें स्थापना दिवस समारोह कार्यक्रम में कहीं।
जिला अस्पताल में आदर्श मानस प्रेरणा समिति का 14वां स्थापना दिवस मनाया गया। विदित हो कि आदर्श मानस पे्ररणा समिति द्वारा जिला अस्पताल में मरीजों के परिजनों को 1 रुपए में भोजन कराने के साथ ही उन्हें कपड़ों से लेकर अन्य सुविधाएं दी जाती हैं। इस आयोजन को 15 अगस्त को 14 वर्ष पूर्ण हो गए हैं। समिति के 14वें स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में विधायक राकेश गिरि, कलेक्टर सौरभ कुमार सुमन एवं मिस डेफ एशिया देशना जैन मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे।
शिक्षा बहुत जरूरी: कार्यक्रम में कलेक्टर सुमन ने इस सेवा प्रकोष्ठ की सराहना करते हुए कहा कि ऐसे कार्य समाज के गरीब तबके के लोगों को राहत देते हैं। लेकिन इन समाज में आज शिक्षा की बहुत जरूरत हैं। लोगों के शिक्षित न होने के कारण ही इन चीजों की जरूरत हैं। उनका कहना था कि यदि लोग शिक्षित होंगे तो यह समस्या बहुत हद में अपने आप ही दूर हो जाएंगी। लोग शिक्षित होंगे तो गरीबी, कुपोषण, दिव्यांता जैसी समस्याएं स्वत: ही समाप्त हो जाएंगी। उन्होंने कहा कि वह भी देश के पिछड़े राज्य बिहार से हैं। बुंदेलखण्ड भी पिछड़े इलाकों में शामिल हैं। लेकिन यहां के लोगों की मानसिकता में बहुत अंतर हैं। उन्होंने कहा कि यदि गरीब की मदद करनी हैं, तो उसे आत्मनिर्भर बनाए।
हम हर संभव मदद करेंगे: वहीं विधायक राकेश गिरि ने भी आदर्श मानस प्रेरणा समिति के इस कार्य की सराहना करते हुए कहा कि ऐसे कार्यों की समाज में बहुत जरूरत हैं। उन्होंने कहा कि उन्होंने नगर में वृद्धाश्रम के लिए हवेली का प्रस्ताव बनाया था। यदि यह काम लायंस क्लब प्रारंभ कर रहा हैं तो वह उसमें भी पूरा सहयोग करेंगे। उन्होंने कहा कि गरीबी की सेवा से बड़ी कोई सेवा नहीं हैं।
दिव्यांगों को दे सहयोग: वहीं कार्यक्रम में आई मिस डेफ एशिया देशना जैन ने इशारों से अपनी बात कहीं और उनकी मां ने उसका अनुवाद कर लोगों को बताया। देशना जैन का कहना था कि वह शहर के व्यापारियों एवं उद्योगपतियों से उम्मीद करती हैं कि वह दिव्यांगों के लिए कुछ करें।
उनका कहना था कि व्यापारी अपने दुकानों पर कम से कम एक दिव्यांग को जरूर काम दें। हो सकता हैं कि वह सामान्य कर्मचारी से कम काम करें, लेकिन इससे उसका पूरा परिवार चल सकता हैं और वह आत्मनिर्भर होगा।
समिति के सहयोग से खुलेगा वृद्धाश्रम: वहीं कार्यक्रम में आई लायंस क्लब की अध्यक्ष पूनम जायसवाल ने कहा कि वह क्लब के द्वारा शहर में एक वृद्धाश्रम खोलने का विचार बना रही हैं। इसके लिए आदर्श मानस प्रेरणा समिति ने अपना सहयोग देने की बात कहीं हैं। उनका कहना था कि वह शहर में गरीबों एवं जरूरमंदों के साथ ही दिव्यांगों के लिए काम करना चाहती हैं। इसके लिए उन्होंने आगामी एक साल के पूरे कार्यक्रम तय किए हैं।
हुआ सम्मान: आयोजन में समिति का सहयोग करने वालों के साथ ही विभिन्न समाजिक कार्य करने वाली संस्थाओं एवं लोगों का सम्मान भी किया गया।
इस अवसर पर अतिथियों ने सभी को स्मृति चिंह भेंट किए।कार्यक्रम में प्रकाश अग्रवाल, संतोष नायक, लुइस चौधरी, गौरव जैन, प्रवण जयसवाल, हरिहर यादव, बाबा नायक, सुनील भदौरा, राजेन्द्र सिंह बुंदेला, डॉ अभिषेक बुंदेला, शैलेन्द्र द्विवेदी उपस्थित हुए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned