बोर हुआ, पाइप लाइन भी डली लेकिन नहीं मिल रहा लोगों को पानी

पाईप लाईन खराब थी वह भी डल गई है। लेकिन नलजल योजना शुरू नहीं हो पाई है

By: anil rawat

Published: 16 May 2018, 11:07 AM IST

टीकमगढ़. साहब दिसम्बर माह में बोर हो गया था। लो पाईप लाईन खराब थी वह भी डल गई है। लेकिन नलजल योजना शुरू नहीं हो पाई है। पूरे गांव में पानी की बहुत परेशानी है। मंगलवार को ग्राम मोहनपुरा के लोग अपनी पेयजल की समस्या लेकर जनसुनवाई में पहुंचे। एडीएम ने ग्रामीणों का आवेदन लेकर पीएचई विभाग को इसका समाधान करने के निर्देश दिए।
मंगलवार को ग्राम मोहनपुरा के एक दर्जन से अधिक ग्रामीण जनसुनवाई में पहुंचे। ग्रामीणों का कहना था कि नलजल योजना के लिए बोर होने साथ ही अन्य सभी सुविधाएं है। लेकिन विभाग की लापरवाही के कारण यह योजना चालू नहीं हो पा रही है। वहीं गंाव के कुछ दबंगों ने बोर पर कब्जा कर लिया है। ग्रामीणों का कहना था कि पेयजल की समस्या के कारण पूरे गांव में परेशानी है। ग्रामीणों ने नलजल योजना प्रारंभ कराने की मांग की है।
बछौड़ा में भी पेयजय संकट: ग्राम बछौड़ा के लोग भी अपनी पेयजल की समस्या को लेकर जनसुनवाई में पहुंचे। यहां के लोगों का कहना था कि पूरे गांव में पानी की समस्या बनी हुई है। गांव के पूरे हैंडपंप जबाव दे चुके है। इसके साथ ही कुओं ने भी साथ छोड़ दिया है। गांव के लोगों को 2 किलोमीटर दूर से पानी लाना पड़ रहा है। ग्रामीणों का कहना था कि गांव में वंशकार मुहल्ला, अहिरवार मुहल्ला, रजक मुहल्ला, आदिवासी मुहल्ला एवं चढ़ार मुहल्ला में गंभीर जल संकट है। दूसरी जाति के लोग अपनी बस्ती के हैंडपंप से पानी नही भरने दे रहे है। ग्रामीणों ने पेयजल की व्यवस्था कराने की मांग की है।

मूलभूत समस्याओं से परेशान: वहीं नगर की इंदिरा कालौनी के लोगों ने जनसुनवाई में आवेदन देकर मूलभूत समस्याओं के समाधान की बात कहीं है। इंदिरा कॉलोनी, मोटे का मुहल्ला के लेागों का कहना था कि उनके यहां पर पानी, लाईट एवं नाली की समस्या बनी हुई है। लेकिन नगर पालिका इस पर कोई ध्यान नही दे रही है। लोगों कलेक्टर से पानी, लाईट और नालियों की व्यवस्था कराने की मांग की है।
सीएमओ मांग रहे 70 हजार: खरगापुर के एक टेंट हाउस व्यवसायी ने अपना आवेदन सौंपकर नगर परिषद के तत्कालीन सीएमओ पर 70 हजार रूपए मांगने का आरोप लगाया है। टेंट व्यवसायी मुकेश कुमार जैन का कहना है कि उन्होंने नगर उदस से भारत उदय अभियान में टैंट एवं साउण्ड का काम किया था। तत्कालीन सीएमओ दिलीप पाठक के आदेश पर काम करने के बाद जब भुगतान की फायल दी तो वह 70 हजार की मांग कर रहे है। उनका कहना है कि उनका स्थानांतरण होने के बाद भी वह फायल अपने साथ रखे हुए है।
नही हटा रहे कब्जा: ओरछा के ग्राम गुंदरई से आए घनश्याम कुशवाहा ने शिकायत की उसकी जमीन पर गांव के ही नीरज, महेश एवं गोविंददास द्वारा कब्जा किया गया है। इसका सीमांकन होने पर राजस्व एवं पुलिस बल की उपस्थिति में यह लोग कब्जा हटाने को राजी हो गए थे, लेकिन अब कब्जा नही हटा रहे है। घनश्याम ने जमीन पर कब्जा दिलाने की मांग की है।
दुष्कर्म के आरोपी बना रहे दबाव: वहीं ओरछा के गुंदरई से आए एक पिता ने शिकायत की है कि उसकी बेटी से दुष्कर्म करने वाले आरोपी अब उस पर राजीनामा का दबाव बना रहे है। उसका कहना है कि शिकायत के बाद से आरोपी फरार है और गांव में आकर आए दिन धमकी दे रहे है। पीडि़त ने पुलिस अधीक्षक से आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। मंगलवार को जनसुनवाई में कुल 239 आवेदन प्राप्त हुए। इनमें से अधिकांश आवेदन संबंधित विभागों को जांच के बाद कार्रवाई के लिए दिए गए है।

anil rawat Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned