किसानों के घर तक ऋण माफी के प्रमाण-पत्र भिजवाने की व्यवस्था करें अधिकारी : मंत्री राठौर

ऋण माफी कार्यक्रम में कैबिनेट मंत्री ने बांटे प्रमाण-पत्र

By: Sanket Shrivastava

Published: 03 Mar 2019, 08:05 AM IST

जतारा. ऋणमाफी कार्यक्रम का आयोजन कृषि मंडी मैदान में आयोजित किया गया। कार्यक्रम के मुख्यअतिथि कैबिनेट मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता नगर परिषद अध्यक्ष प्रतिनिधि नवीन साहू रहे। कार्यक्रम के दौरान कैबिनेट मंत्री ने देश के वीर योद्धा पायलट अभिनंदन को बधाई दी।
उन्होंने देश के गद्दार के घर में घुसकर उसे सबक सिखाया है। हम ऐसे जाबंाज पायलट को बधाई देते हैं। राजनीति बाद में है, पहले हम देश के साथ हैं और देश पर कोई आंख उठा कर देखिए हम बर्दाश्त नहीं कर सकते। हम आपको पहले देश है बाद में राजनीति है इसके बाद उन्होंने विभिन्न निर्माण कार्यो का लोकार्पण एवं भूमि पूजन करते हुए कहा है कि मध्य प्रदेश के विकास के साथ-साथ टीकमगढ़ जिले के जतारा विधानसभा क्षेत्र में और नगरी क्षेत्र में विकास की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। ग्रामीणों के साथ साथ क्षेत्र के युवाओं को भी 100 दिन का रोजगार मिलेगा मजदूरों को भी रोजगार मिलेगा रुकने की व्यवस्था की जा रही है।
शासन की विभिन्न योजनाओं के माध्यम से लोगों को लाभाविंत किया किए जाने के प्रयास किए जा रहे हैं। मध्य प्रदेश सरकार के मुखिया कमलनाथ जी ने जो वादा किया है। उसे हम पूरा करेंगे और लोगों को उनकी मूलभूत समस्याओं को हल कर लाभ दिया जाएगा।
उन्होंने यह भी कहा कि किसान मजदूरों को चिंतित होने की जरूरत नहीं, अब उनकी पेंशन उनको भी पेंशन दी जाएगी। किसानों की दो लाख रुपए तक के किसी रण भी माफ किए गए हैं।
किसानों को ऋ ण माफ ी के प्रमाण पत्र वितरण किए जा रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा है कि नगर परिषद जतारा में ऐतिहासिक विकास कार्य कराए जाएंगे। जिससे नगर का नाम रोशन होगा और यहां की एक अलग ही पहचान होगी। इसी क्रम मे नगर परिषद जतारा के अध्यक्ष प्रतिनिधि ने संबोधित करते हुए कहा है कि यह बड़ी खुशी की बात है कि मध्यप्रदेश में 15 साल बाद कांग्रेस पार्टी की वापसी हुई है। कैबिनेट मंत्री द्वारा विभिन्न कार्यों का भूमिपूजन और शिलान्यास किया गया। नगर को उनके द्वारा अन्य विकास कार्यों की भी उपेक्षा है जिससे उम्मीद है। इसके साथ ही इस मौके पर अध्यक्ष कमला साहू, सीएमओ द्वारका प्रसाद शर्मा द्वारा अभार व्यक्त किया गया।
लिधौरा. नगर में मध्यप्रदेश शासन के वाणिज्यकर मंत्री बृजेन्द्र सिंह राठौर ने ऋणमुक्ति मेला में शनिवार को लिधौरा तहसील के अंतर्गत आने वाले 4170 किसानों को ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरित किए।कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि ने मां सरस्वती की तस्वीर पर माल्यार्पण कर व दीप प्रज्वलित कर किया। राठौर ने कहा कि राज्य सरकार ने गरीब जनता एवं किसानों के लाभ के लिए चलाई जा रही योजनाओं को बता कर भी आम जन से पार्टी का सहयोग करने की अपील की।बिजली बिल किसानों का आधा कर किसानों के प्रति मुख्यमंत्री के विचारों की सराहना की। जिन किसानों के कर्जमाफी प्रमाण पत्र मेला में नहीं मिल पाए हैं, उन्हें पटवारी द्वारा उनके घर प्रमाण पत्र भेजने को तहसीलदार से कहा।
नगर को दी सौगातें
शासकीय नवीन महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने खेल ग्राउंड, महाविद्यालय के लिए सुविधाएं एवं महाविद्यालय के लिए नगर के नजदीक भूमि आवंटन करवाने की मांग की। इस पर मंत्री ने नगर में 22 करोड़ रुपए से पेयजल योजना जल्द शुरू करने का आश्वासन दिया। ऋणमाफी मेले में मुख्यरूप से मुख्य अतिथि के साथ महेश यादव, अमित नायक, प्रमोद सोनी, संतोष प्रजापति, रघुवीर सहाय पस्तोर सहित क्षेत्र के कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित रहे। मेले में एसडीएम. मीणा, तहसीलदार सुनीता साहनी, सीएमओ उमेश सोनी, नायब तहसीलदार कमलेश कुशवाहा, खाद्यअधिकारी सपना सेन एवं पटवारी, पंचायत रोजगार सहायक आदि मौजूद रहे।
बल्देवगढ़. जय किसान ऋ ण माफी योजना का कार्यक्रम बल्देवगढ़ मिनी खेल स्टेडियम में आयोजित किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि कैबिनेट मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर रहे। कार्यक्रम में हजारों किसान एकत्र हुए। कार्यक्रम के दौरान मंत्री ने कहा मध्यप्रदेश शासन द्वारा जिन जिन बिंदु पर जनता से बादा किया था। उनको मुख्यमंत्री कमलनाथ सिंह ने 2 माह में ही पूर्ण कर दिया। इसके साथ आगे भी सरकार द्वारा ऐतिहासिक फैसले लिए जाएंगे। वाणिज्य मंत्री कर मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर ने जय किसान फ सल ऋ ण मा फी योजना में किसानों को बांटे प्रमाण पत्र और कहा जो किसान यहां नहीं आ पाए। उन किसानों को घर जाकर प्रमाण वितरित किए जाए। तहसीलदार, पटवारियों के माध्यम से जनप्रतिनिधियों के माध्यम से उन किसानों के घर ऋ ण माफ ी के प्रमाण पत्र देंगे। वहीं मिनी खेल स्टेडियम प्रांगण में कहा हमारे किसान अब परेशान नहीं रहेंगे। हमारे युवा बेरोजगार नहीं रहेंगे।
अब मजदूर पलायन नहीं करेंगे बल्कि यहीं काम दिया जाएगा। कायक्रम के दौरान जिला पंचायत उपाध्यक्ष दिग्विजय सिंह गौर ने मंच के माध्यम से वाणिज्यकर मंत्री के समक्ष बान सुजारा बांध से छूटे हुए गांव एवं बांध के पानी दिलाने की बात कर रखी। उन्होंनें आश्वासन देते हुए कहा कि कल बैठक कर चर्चा की जाएगी। 7 मार्च को पलेरा में मुख्यमंत्री की आगमन पर उनके समक्ष बात रखने की बात कही।

Sanket Shrivastava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned