दूसरे छात्रों की जगह पेपर देते फिर पकड़े गए दो मुन्नाभाई

दूसरे छात्रों की जगह पेपर देते फिर पकड़े गए दो मुन्नाभाई

Nitin Sadaphal | Publish: Mar, 17 2019 10:38:00 AM (IST) Tikamgarh, Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

चार पेपर दे चुके थे, पांचवें में खुला राज

टीकमगढ़/पृथ्वीपुर. नकल विहीन परीक्षाएं संपन्न कराने के शासन के प्रयास पर मुन्नाभाई पानी फेरते दिखाई दे रहे है। शनिवार को कक्षा 10वीं की परीक्षा में पृथ्वीपुर के उत्कृष्ट विद्यालय से शिक्षकों ने फिर से दो मुन्नाभाईयों को पकड़ा है। यह मुन्नाभाई पिछले चार पेपरों से शिक्षकों की आंखों में लगातार धूल झोंकते आ रहे थे। पांचवें पेपर में इनका भंडाफोड़ हो सका है। पुलिस ने इन दोनों के खिलाफ धोखाधड़ी सहित विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है।
शनिवार को कक्षा 10वीं का अंग्रेजी का पेपर था। पेपर शुरू होने के लगभग आधा घंटे बाद कक्ष क्रमांक 11 के पर्यवेक्षक ने जब छात्रों के हस्ताक्षर कराने पहुंचे तो सुदीप यादव के हस्ताक्षरों का मिलान ठीक से नहीं हुआ। इस पर उन्होंने उसका प्रवेश पत्र पूछा तो परीक्षा दे रहा छात्र घबरा गया और उसने पूरी बात पर्यवेक्षक को बता दी। इसके बाद पर्यवेक्षक ने केन्द्राध्यक्ष वीरेन्द्र जैन को इसकी जानकारी दी।
पर्यवेक्षक द्वारा पकड़े गए छात्र ने बताया कि उसका सही नाम दिनेश कुशवाहा है और वह सुदीप की जगह पेपर देने आया था। इसके एवज में वह कुछ पैसे लेता था। सुदीप की जगह पेपर देने आने के लिए उसने प्रवेश पत्र की फोटो से भी छेड़छाड़ की थी ताकि वह सामान्य रूप से किसी के समझ में न आए। यह फर्जीवाड़ा देखकर केन्द्राध्यक्ष जैन ने तत्काल ही पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने दिनेश कुशवाहा को गिरफ्तार कर लिया।
यह दोनों मुन्नाभाई पहले पेपर से ही परीक्षाएं देते आ रहे थे। यह दोनों अब तक चार पेपर हल कर चुके थे। वह तो शनिवार को पर्यवेक्षक की समझादारी से यह पकड़े गए, नहीं तो अंग्रेजी का पेपर भी हल करके
चले जाते।
इन मुन्नाभाईयों ने परीक्षा में तैनात पूर्वके पर्यवेक्षकों की कार्यकुशलता पर भी सवाल खड़े कर दिए है। पूर्वके पर्यवेक्षकों द्वारा इस पर कोई ध्यान नहीं दिया गया और यह फर्जीवाड़ा चलता रहा।
मामला दर्ज- पकड़े गए छात्रों में एक नाबालिग है। पुलिस ने इन दोनों के खिलाफ धारा 420 एवं 419 के साथ ही मप्र मान्यता प्राप्त परीक्षा अधिनियम 1937 की धारा 3, 4 के तहत भी मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

थाने में खुला दूसरे का राज
दिनेश कुशवाहा को लेकर जब पुलिस थाने पहुंची तो वहां पर घबरा रहे दिनेश ने दूसरे छात्र का राज भी खोल दिया। उसने पुलिस को बताया कि कक्ष क्रमांक 13 में भी यही फर्जीवाड़ा चल रहा है। वहां पर भी राजेश यादव के स्थान पर उसका साथी परीक्षा दे रहो है। यह जानकारी होने पर पुलिस ने उसे भी गिरफ्तार कर लिया।

इस मामले की जानकारी होने पर विद्यालय पहुंच कर पूरे मामले की जांच की गई है। इसमें दोषी पूर्वके पर्यवेक्षकों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा जा रहा है। जबाव के बाद उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।
एसपी पाण्डे, जिला शिक्षा
अधिकारी, टीकमगढ़

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned