VIDEO चेंजमेकर : अधिवक्ताओं ने वर्तमान राजनीति पर जताया असंतोष,

VIDEO चेंजमेकर : अधिवक्ताओं ने वर्तमान राजनीति पर जताया असंतोष,

vivek gupta | Publish: May, 18 2018 05:06:40 PM (IST) Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

पत्रिका ने की विचार गोष्ठी

टीकमगढ़..राजनीति में बढ़ रहे अपराधीकरण और लोभ लालच को लेकर आम आदमी परेशान है पर इस समस्या का कोई हल नहीं है। राजनीति को सेवा नहीं बल्कि मेवा हासिल करने का माध्यम समझने और अपनी ही पार्टियों में अपने अस्तित्व की लड़ाई लडऩे वाले राजनेताओं के लिए संभलने का समय आ गया है, क्योंकि पत्रिका ने बदलाव के नायक अर्थात चेंजमेकर अभियान प्रारंभ किया है।

राजनैतिक दलों में बढ़ रहे स्वार्थी तत्वों एवं मौका परस्त राजनीति करने वालों से सजग करने के लिए प्रारंभ होने वाले इस अभियान के तहत आज अधिवक्ताओं ने भी वर्तमान राजनीति पर गहरा असंतोष जाहिर किया और पत्रिका के अभियान को सराहा।


वार रूम में चेंजमेकर अभियान के तहत अधिवक्ताओं के साथ एक विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। अधिवक्ताओं से स्वच्छ राजनीति को लेकर उनके योगदान को लेकर चर्चा की गई। इस दौरान शासकीय लोकअभियोजक अशोक गोइल ने कहा कि पत्रिका के द्वारा समाज में दम तोड़ रहे विचार को आगे लाने का काम किया जा रहा है।

उनका कहना था कि यह तभी संभव है जब आम मतदाता गलत तरीकों से राजनीति करने वालों के महिमा मंडन में न आए, अनुचित साधनों का प्रयोग कर सफलता पाने वालों को हतोत्साहित करना चाहिए।

अच्छे लोगों के काम की जहां तारीफ हो वहीं बुरे को बुरा कहने के लिए समाज को आगे आना होगा जिसके लिए अधिवक्ताओं को भी अपनी भूमिका निभानी होगी। एड. पुरूषोत्तम तिवारी ने वर्तमान हालातों पर चिंता जाहिर करते हुए तीनों पालिकाओं में सुधार पर बल दिया। उन्होंने राजनीति में वंशवाद रोकने और मतदाताओं के आक्रोश को रोकने के लिए विशेष पहल की बात कही।

एड. आशीष तिवारी ने छोटे-छोटे चुनावों में पारदर्शिता की बा करते हुए अधिवक्ताओं को अपने हितों के लिए जागरूक होने की बात कही। एड. सुनील शर्मा ने पत्रिका के अभियान की सराहना करते हुए अधिवक्ताओं को समाज में निर्णायक भूमिका में बताया, उन्होंने गलत लोगों को वोट न करने के लिए अपने पक्षकारों को भी जागरूक करने की बात कही।

 

changemekr Advocates expressed dissatisfaction over current politics

एड. मानवेन्द्र सिंह ने वर्तमान राजनीति और आजादी के समय की राजनीति के नियमों का हवाला देते हुए गलत लोगों को राजनीति में प्रोत्साहित करने पर चिंता जाहिर की। उन्होंने राजनीति में अहंकार का पुरजोर विरोध करते हुए ऐसे लोगों के बहिष्कार की बात कही। उन्होंने अधिवक्ताओं से पार्टी विशेष में रहकर ही गलत निर्णयों पर सार्वजनिक विरोध दर्ज कराने का आहृान किया।

 

एड. जेपी तिवारी ने पत्रिका के काला पर ताला अभियान की वकालत करते हुए सच कहने के लिए आगे आने की बात कही। एड. डीपी यादव ने अन्याय का गुणगान करने वालों का विरोध करने के लिए युवाओं को आगे आने की बात कही।

उनका कहना था कि अधिवक्ता राजनीति में सुचिता लाने में अहम भूमिका निभा सकते हैं। अभिभाषक संघ के अध्यक्ष रघुवीर सिंह तोमर ने अभियान में सहभागिता दर्ज कराने के साथ ही प्रत्येक स्तर पर गलत लोगों के बहिष्कार की बात कही। उनका कहना था कि पत्रिका ने साहसिक अभियान चलाया है धीरे-धीरे ही सही लेकिन लोग जागरूक होकर देश में स्वच्छ राजनीति में अपना योगदान देंगे।

वहीं न्यायिक कर्मचारी संगठन अध्यक्ष संजय सिरवैया ने पत्रिका के अभियानों को सामाजिक हित में अहम भूमिका निभाने वाला बताते हुए कम से कम दस लोगों को प्रेरित करने की बात कही। इस दौरान मनोज कुमार जैन, राजेश मिश्रा, विनीत जैन, मनीष यादव, पुष्पेन्द्र जैन, नरेन्द्र सिंह बुन्देला, अरविन्द जैन, मनोज वर्मा, केके खरे, दीपक व्यास, सुभाष वैद्य, हजरत अली सहित अधिवक्ता मौजूद रहे।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned