Video विधायक ने परीक्षा के दौरान स्कूल में नचवाईं चीयर गर्ल्स, छत से करानी पड़ी परीक्षा

देश के भविष्य कहे जाने वाले छात्रों की शिक्षा में जब जनता के चुने हुए नुमाइंदे ही बाधक बने

By: Samved Jain

Updated: 10 Feb 2018, 02:42 PM IST

विवेक गुप्ता,टीकमगढ़.देश के भविष्य कहे जाने वाले छात्रों की शिक्षा में जब जनता के चुने हुए नुमाइंदे ही बाधक बने तो फिर ऐसे समाज को क्या कहा जाए। कु छ ऐसा ही नजारा जिले के मोहनगढ़ के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में देखने को मिला। जहां विधायक के रौब के चलते स्कूल प्रबंधन की बिना अनुमति के तीन दिन तक परीक्षा के दौरान ही खेल चलते रहे। हद तो तब हो गई जब बॉलीबाल प्रतियोगिता के दौरान स्कूल परिसर में महिला नृत्यांगनाओं के द्वारा ठुमके लगाए जा रहे थे तो दूसरी ओर छात्र स्कूल में परीक्षा दे रहे थे। तीन दिनों तक यह आयोजन चलता रहा और बेवस छात्र इस माहौल में परीक्षा देते रहे। खास बात हैकि पृथ्वीपुर विधायक अनीता नायक के संयोजन में हो रहे आयोजन में प्रदेश की महिला बाल विकास राज्यमंत्री ललिता यादव भी होकर चली गई।

Organizer organized without permission

तीन दिवसीय हुआ था आयोजन
मोहनगढ़ के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में पूर्व मंत्री सुनील नायक स्मृति बालीबॉल एवं विधायक कप टूर्नामेंट कार्यक्रम का आयोजन 6 फरवरी से 8 फरवरी तक किया गयाथा। जबकि इसी स्कूल में 2 फ रवरी से 26 फ रवरी तक माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा कक्षा 9 व 11 की वार्षिक परीक्षाएं आयोजित की जा रही है । वही दूसरी और इसी स्कूल प्रांगण में पूरे दिन टूर्नामेंट के मैच खेले जाते रहे । जिससे बच्चों को परीक्षा देना मुश्किल हो गया। जिन कक्षों में छात्रों को परीक्षा देना चाहिए था। वहां मैच खेलने आई टीमों को ठहराया गया था। शोर शराबे के बीच ऐसे में छात्रों की परीक्षाएं स्कूल की छत पर जमीन पर बिठाकर कराई गई।
भीड़ जुटाने बुलाई गई थी नृत्यांगनाएं
प्रतियोगिता में लोगो ंकी भीड़ ज़ुटाने के लिए विशेष रूप से नृत्यांगनाओं को बुलाया गयाथा। जिनके द्वारा शिक्षा के मंदिर में माननीयों के बीच ठुमके लगाए गए। इस दौरान कुछ लोगों ने इसे अश् लीलता बताकर विरोध भी जताया ,लेकिन सत्ताधारी नेताओंं को कोई फर्क नहीं पड़ा। स्कूल में परीक्षा दे रहे छात्र के अभिभावक प्रभु खटीक का कहना था कि स्कूल में इस तरह के आयोजन नहीं होने चाहिए। जनता के चुने हुए लोगों को बच्चों का ध्यान रखना चाहिए। गांव के आशीष गंगेले, फिरोज खान, कृष्णपाल नामदेव और कॉग्रेस नेता अंकित जैन का कहना था कि पूर्व मंत्री की याद में हो रहे आयोजन में स्कूल में नाचना गलत है। प्रशासन को भी इस मामले में कार्रवाई करनी चाहिए।
कहते है अधिकारी
स्कूल के प्राचार्य से लिखित प्रतिवेदन मांगा गया है। उन्होंने बताया था कि आयोजन की कोई अनुमति नहीं दी गई। प्रतिवेदन के बाद कोई कार्रवाई हो सकती है।
बी एल लुहारिया प्रभारी डीईओ टीकमगढ़।

BJP modi
Show More
Samved Jain
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned