राशन की कालाबाजारी रोकने पीओसी मशीन मेें फिर से किए जा रहे आधार लिंक

जिला के साथ अन्य जिलों में निवास करने वाले सदस्यों का डबल राशन रोकने के लिए पीओसी मशीन में आधार लिंक करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए है।

By: akhilesh lodhi

Published: 27 Jul 2020, 05:00 AM IST

टीकमगढ़.जिला के साथ अन्य जिलों में निवास करने वाले सदस्यों का डबल राशन रोकने के लिए पीओसी मशीन में आधार लिंक करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए है। इसके साथ ही जनपद पंचायत सीईओ और नगरपरिषद सीएमओ को नोटिस भी जारी किए गए है। आधार लिंक करने की जिम्मेदारी खाद निरीक्षक, ग्राम पंचायत सचिव और रोजगार के साथ सेल्समेन को दी गई है। हालांकि ७५ फीसदी आधार लिंक भी हो गए है। लेकिन उपडेट नहीं हो पाए है। जिसके कारण १३ हजार क्विांटल अनाज प्रत्येक माह जिले की ४८२ दुकानों पर राशन पहुंचाना पड़ रहा है।
टीकमगढ़ और निवाड़ी जिले में ४८२ शराब की दुकानें संचालित है। जिसमें २ लाख ४७ हजार ७३३ राशन कार्डधारी है। इन कार्डो में ११ लाख ५१ हजार ७९७ सदस्य दर्ज है। प्रत्येक सदस्य के लिए प्रत्येक महीने १२ लाख ५२ हजार २१३ किलो अनाज स्वीकृत होता है। उसमें कई हजार किलो अनाज डबल जगह चला जाता है। जिसका नुकसान शासन को उठाना पड़ता है। वह अनाज न तो शासन के पास वापस आता है और न ही गरीब लोगों तक पहुंच पाता है। जिसके कारण शासन ने फिर से पीओसी मशीन में आधार लिंक कराने का निर्णय लिया है। इस निर्णय से राशन की बचत के साथ अपात्र लोगों की छठनी हो जाएगी।
रोकी जाएगी कालाबाजारी
इन दिनों राशन की काला बाजारी रोकने के लिए सेल्समेनों द्वारा पीओसी मशीन से उपभोक्ताओं के आधार लिंक किए जा रहे है। मशीन में आधार लिंक हो जाने से अब राशन की काला बाजारी पर रोक लगेगी। इसके साथ ही पात्र उपभोक्ताओं को समय और प्रत्येक महीनें राशन मिलेगा। जिन उपभोक्ताओं को राशन नहीं मिलेगा वह अगले महीने ले सकेगें। सरकारी राशन दुकानों से उपभोक्ताओं को अगस्त से ही राशन मिल सके। इसके लिए खाद्य विभाग द्वारा जोरों से तैयारियां की जा रही है। जिन परिवार के सदस्यों ने पीओसी मशीन से आधार लिंक नहीं करवाया है। वे उपभोक्ता राशन नहीं ले पाएगें।
गड़बड़ी को रोकने हो रहे आधार लिंक
सरकारी राशन में होने वाली गड़बड़ी को रोकने और पात्र उपभोक्ताओं को ही राशन मिल सके, इसके लिए खाद्य आपूर्ति विभाग ने पीओएस मशीन से राशन का वितरण किया जा रहा है। इसमें अब केवल उन्हीं को राशन की पात्रता होगी। जिनका आधार अपडेशन मशीन लेगी। ग्रामीण और शहरी उपभोक्ताओं को यह अंतिम मौका दिया गया है।


जिनकी उगलियों की निशान होगें मैच उसकी को मिलेगा राशन
नई व्यवस्था के तहत अब केवल वहीं उपभोक्ता राशन ले पाएंगे। व्यवस्था के तहत एक परिवार में अगर पांच सदस्यों का राशन मिल रहा है, तो सभी को आधार अनिवार्य होगा। एक भी सदस्य का अगर आधार अपडेशन नहीं पाया जाता है, तो उस सदस्य के राशन की पात्रता खुद ही खत्म हो जाएगी। इससे राशन की कालाबाजारी को भी आसानी से रोका जा सकेगा। वहीं पीओएस मशीन भी उसी को राशन देने की अनुमति देगी, जिसकी अंगुलियों के निशान मैच होंगे।
इनके काटे जाएगें नाम
अभी परिवार में उन लोगों के नाम जोड़े गए जिनकी पूर्व में मृत्यु हो गई है या फिर अपना गांव छोड़कर दूसरे गांव में निवास करने लगे है। इसके साथ ही पिता की बेटी की शादी हो गई और वह ससुराल में रहने लगी है। ऐसे लोगों के नाम काटने के साथ नए सदस्यों के आधार फीड़ किए जाएगें।
फैक्ट फाइल
टीकमगढ़ और निवाड़ी में कुल ब्लॉक - ०६
जिले में कुल राशन की दुकानें - ४८२
जिले में कुल परिवार - २४७७३३
जिले में कुल सदस्य - 11५१७९७
जिले में अभी तक मशीन में आधार लिंक हुए कुल सदस्य - 9266४०
आधारी लिंक के लिए अभी तक कुल बांकी सदस्य - 2२५१५७
इनका कहना
पीओसी मशीन में उपभोक्ताओं के आधार लिंक कराए जा रहे है। उसी के आधार पर आगे से उपभोक्ताओं को राशन दिया जाएगा। लोगो के दो-दो जगहों पर जुड़े नाम अपने आप कट जाएगें।
केपी प्रजापति सहायक खाद अधिकारी टीकमगढ़।

akhilesh lodhi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned