31 मार्च तक के लिए रद्द की गई खजुराहो-इंदौर एक्सप्रेस ट्रेन

अनावश्यक यात्राओं से परहेज कर रहे आमजन, प्रतिदिन कैंसिल हो रहे रिजर्वेशन

टीकमगढ़. कोरोना वायरस को तीसरे चरण में पहुंचने से पहले ही रोकने तमाम प्रयास किए जा रहे है। इसके चलते रेलवे ने भी गुरूवार को अपनी 86 ट्रेने रद्द कर दी है। इसमें टे्रन नंबर 19664 खजुराहो-इंदौर एवं 19663 इंदौर-खुजरोहो एक्सप्रेस भी शामिल है। रेल प्रशासन ने सुरक्षा मानको के चलते जहां यह ट्रेने रद्द की है, वहीं आमजन भी कोरोना से बचाव के चलते अपनी यात्राएं टाल रहे है और इन दिनों बड़ी संख्या में रिजर्वेशन कैंसिल कराए जा रहे है।


कोरोना के तीसरे चरण को लेकर हर कोई आतंकित है। विदेशों में तीसरे चरण में पहुंच चुके इस वायरस के परिणाम सभी के सामने आ रहे है। ऐसे में इसे रोकने के लिए शासन-प्रशासन हर संभव कदम उठा रहा है। सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक लगाने के साथ ही, तमाम आयोजनों पर पाबंदी लगा दी गई है। इसके साथ ही अब सरकारें कम से कम आवागमन करने के लिए ट्रेनों पर भी प्रतिबंध लगा रही है। इस प्रतिबंध के बाद टीकमगढ़ को इंदौर और खजुराहो से जोडऩे वाली खजुराहो-इंदौर एक्सप्रेस टे्रन भी रद्द कर दी गई है। यह ट्रेन 31 मार्च तक बंद रहेगी।

 

कैंसिल हो रहे रिजर्वेशन: कोरोना के कहर से चिंतित आमलोग भी अब अनावश्यक यात्राओं को टालते दिखाई दे रहे है। आरक्षण कार्यालय की माने तो इन दिनों कैंसलेशन के लिए ज्यादा टिकिट आ रहे है। गुरूवार की दोपहर 2 बजे तक स्टेशन पर 15 टिकिट कैंसिल हो चुके थे, जबकि महज 21 लोगों ने रिजर्वेशन कराए थे। आक्षरण कार्यालय लिपिक का कहना था कि इतने टिकिट एक दिन में कभी भी कैंसिल नहीं हुए है। वहीं उन्होंने बताया कि इन दिनों हर रूट की ट्रेने खाली जा रही है। लास्ट समय में भी लोगों को कन्फर्म रिजर्वेशन मिल रहा है।


इधर कोचिंगों पर नहीं ध्यान: एक ओर जहां कोरोना को लेकर प्रशासन ने स्कूल-कॉलेजों की 31 मार्च तक के लिए छुट्टियां कर दी है, वहीं प्रायवेट कोचिंग संचालक इन निर्देशों एवं सुरक्षा मानको को मानने को तैयार नहीं दिखाई दे रहे है। नगर में कई स्थानों पर अब भी कॉम्पटीशन एग्जाम के लिए कोचिंग संचालित हो रही है। इन कोचिंगों में एक साथ दो से तीन दर्जन छात्र बैठकर पढ़ाई कर रहे है। जहां कोरोना से पूरा देश चिंहित है और लोग नैतिक रूप से इसे रोकने अपना हर संभव सहयेाग दे रहे है, वहीं यह कोङ्क्षचग संचालक इससे दूर बने हुए है। इन पर प्रशासन भी कोई कार्रवाई करते नहीं दिख रहा है।


परीक्षा और मूल्यांकन स्थगित: संक्रमण को देखते हुए अब माध्यमिक शिक्षा मंडल ने शेष बोर्ड परिक्षाओं को भी स्थगित कर दिया है। मंडल सचिव ने आदेश जारी कर बोर्ड परीक्षाओं के मूल्यांकन को भी 31 मार्च तक के लिए स्थगित कर दिया है। आदेश में बताया गया है कि बोर्ड परीक्षाओं के तिथि अलग से आदेश जारी कर घोषित की जाएगी। विदित हो कि 21 मार्च से स्थानीय उत्कृष्ट विद्यालय में कक्षा 10वीं एवं 12वीं का मूल्यांकन कार्य शुरू होना था। इसे लेकर शिक्षक भी परेशान बने हुए थे।

anil rawat Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned