दुल्हन बनने के पहले दो बहनों की आई कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट

जिले में मिले तीन नए कोरोना पॉजिटिव

By: anil rawat

Published: 27 May 2020, 10:25 PM IST

टीकमगढ़. जिले में कोरोना के तीन नए मरीज मिले है। इनमें लिधौरा में दो सगी बहनें एवं एक पलेरा की एक महिला शामिल है। महिला फरीदबाद से अपने परिवार के साथ लौट कर अपने गांव सिमरा पहुंचा थी और पांच दिन पूर्व उसका पलेरा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में प्रसव कराया गया था। वहीं इन बहनों को लिधौरा के अनुसूचित जाति बालक छात्रावास में क्वॉरंटीन किया गया था। जिले में अब कोरोना मरीजों की संख्या बड़कर 9 हो गई है।


बुधवार को जिले में कोरोना के तीन नए मरीज मिले है। इनमें लिधौरा की दो सगी बहनें शामिल है। यह तीन बहनें 20 मई को दिल्ली के करोलबाग से लिधौरा पहुंची थी। यहां पर इन्हें छात्रावास में क्वॉरंटीन किया गया था। दोनों पॉजिटिव बहनों का 28 मई को निकाह था। इसलिए इनकी सैंपलिंग कर जांच कराई गई थी। स्वास्थ्य विभाग ने 25 मई को जतारा में इनका सैंपल कराया था। बुधवार की दोपहर को इनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें एक बहन का सैंपल नहीं हुआ था। वहीं पलेरा में मिली पॉजिटिव महिला अपने पति, दो बच्चों एवं जेठ के साथ फरीदाबाद से 17 मई को आई थी। यह महिला ग्वालियर तक पैदल आई थी इसके बाद वहां से बस से रानीगंज तिगैला पहुंची थी। यहां पर स्क्रीनिंग के बाद यह परिवार के साथ अपने घर सिमरा चली गई थी। 23 मई को प्रसव पीड़ा होने पर इसे पलेरा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया था। यहां पर प्रसव के दौरान इसे सर्दी-जुकाम की शिकायत देकर इसकी सूचना वरिष्ठ अधिकारियों को देकर 24 मई को इसकी जांच कराई गई थी।

 

5 स्वास्थ्यकर्मी सहित 17 आए संपर्क में: सिमरा की पॉजिटिव महिला के संपर्क में आशा कार्यकर्ता के साथ ही सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की दो स्टॉफ नर्स, एक लैब टैक्निीशियन एवं एक दाई के साथ ही परिवार के 11 अन्य सदस्य इस महिला के सीधे संपर्क में आए है। हालांकि महिला को लक्षण होने के कारण स्टॉफ नर्सों ने पीपीइ किट पहन कर इसका प्रसव कराया था। स्वास्थ्य विभाग ने इन सभी को क्वॉरंटीन कर दिया है।


सिमरा गांव को किया सील: सूचना के बाद तत्काल ही कलेक्टर हर्षिका सिंह, एसपी अनुराग सुजानियां सहित तमाम प्रशासनिक अमला सिमरा पहुंचा। यहां पर अधिकारियों ने पूरे गांव से महिला के संबंध में जानकारी ली और इसके बाद पूरे गांव को सील करा दिया। सिमरा गांव को कंटेनमेंट जोन घोषित करने के साथ ही आसपास के क्षेत्र को बफर जोन घोषित किया गया है। वहीं सीएमएचओ डॉ एमके प्रजापति ने पलेरा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंच कर महिला के संबंध में जानकारी लेकर उसे शिफ्ट करने के निर्देश दिए है।


3 अन्य लोग थे क्वॉरंटीन: लिधौरा के क्वॉरंटीन सेंटर में इन तीन बहनों के साथ ही 3 अन्य लोग भी रखे गए है। इसके साथ ही एक व्यक्ति 23 मई को अपना क्वॉरंटीन का समय पूरा कर अपने घर वापस गया है। प्रशासन ने यहां पर रखे गए तीन अन्य लोगों को यहां से जतारा में शिफ्ट करा दिया है। इसके साथ ही इन बहनों के लेकर आए ड्राईवर एवं उसके भाई को भी क्वॉरंटीन किया गया है। प्रशासन इनके फस्र्ट कंटेक्ट के अन्य लोगों का भी पता लगा रहा है, क्यों कि इन बहनों की शादी होने से कुछ अन्य लोग भी इनसे मिलने पहुंचे थे।

 

दिल्ली में करती थी काम: बताया जा रहा है कि इन बहनों में से एक दिल्ली में ब्यूटी पार्लर में काम करती थी, जबकि दूसरी एक आयुर्वेद क्लीनिक में। छोटी बहन इनके साथ रहती थी। काम बंद होने के बाद यह बहने ट्रेन से झांसी आई थी और वहां से बस से निवाड़ी पहुंची थी। फिर पैदल चल कर ज्यौरा तिगैला पहुंची और यहां से कार से लिधौरा पहुंची थी।

Show More
anil rawat Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned