scriptDemand for seeds sent to Maharashtra and Orissa, target of sowing 1100 | एक जिला एक उत्पाद में अदरक की खेती के लिए आएगा नया और बच्छी उपज वाला बीज | Patrika News

एक जिला एक उत्पाद में अदरक की खेती के लिए आएगा नया और बच्छी उपज वाला बीज

एक जिला एक उत्पाद में अदरक की खेती पर जोर दिया गया है। उस फसल के लिए निवाड़ी जिले की पृथ्वीपुर कृषि उपज मंडी को मंडी बनाया गया है। जिसकी खरीदी के लिए २१ लाइसेंस दिए गए है।

टीकमगढ़

Published: April 28, 2022 08:31:59 pm


टीकमगढ़. एक जिला एक उत्पाद में अदरक की खेती पर जोर दिया गया है। उस फसल के लिए निवाड़ी जिले की पृथ्वीपुर कृषि उपज मंडी को मंडी बनाया गया है। जिसकी खरीदी के लिए २१ लाइसेंस दिए गए है। अब बेहतर उपज पाने के लिए उद्यानिकी विभाग ने उच्च क्विालिटी के बीज की डिमांड़ भोपाल कृषि संस्थानों में की थी। लेकिन वहां पर अदरक की बैरायटी नहीं मिली। उसके बाद महाराष्ट्र और उडीसा में डिमांड भेजी है। वहां से ११०० क्विंटल बीज मांगा जाएगा। उस बीज अदरक को ५० हैक्टेयर में लगाया जाएगा। जिससे किसानों को लाभ देकर अदरक की खेती का दायरा बढाए जाने के प्रयास किए जा रहे है।
नकद और किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार करने के लिए एक जिला एक उत्पाद में अदरक की खेती को चुना गया है। इसी वर्ष से अदरक की खेती करके मंडी को चालू किया गया है। इसके साथ ही अदरक खरीदने के लिए लायसेंस भी दिए गए है। अब उद्यानिकी विभाग द्वारा उच्च क्विालिटी और नए बैरायटी वाले अदरक बीज की खेज कर रहा है। जिसमें किसानों की उपज का दायरा बढ़ सके। इसके साथ ही अन्य फसलों को छोड़ अदरक को मुख्य फसल बनाकर आर्थिक स्थिति में सुधार करे। उसके लिए उद्यानिकी विभाग ने अदरक बीज के लिए भोपाल डिमांड की है। लेकिन भोपाल के कृषि संस्थानों में उच्च क्विालिटी का बीज नहीं मिल पा रहा है। जिसके कारण महाराष्ट्र और उडीसा से अदरक मंगवाया जाएगा।
यह की गई मांग
उद्यानिकी विभाग के संचालक ने बताया कि १०० क्विांटल टीकमढ़ और १००० क्विंटल निवाड़ी में अदरक को बोया जाएगा। ५० हैक्टेयर का लक्ष्य रखा गया है। उन किसानों के लिए नया बीज लाने का प्रयास किया जा रहा है। अदरक बीज की खोज कई जिलों और प्रदेशों में कर चुका हूं। लेकिन कही भी अच्छा बीज नहीं मिल पा रहा है। महाराष्ट्र और उडीसा से बीज की मांग की गई है।
पहली बार दिए गए अदरक खरीदी के लिए लाइसेंस
टीकमगढ़ और निवाड़ी जिले में अदरक खरीदी के लिए २१ लाइसेंस पहली बार जारी किए गए है। जिसमें 7 स्व सहायता समूह और १४ व्यापारियों के लाइसेंस जारी किए गए है। उन व्यापारियों द्वारा १9०० रुपए क्विंटल के हिसाब से अदरक इस वर्ष 9० किसानों से 7० क्विंटल खरीदा गया है।
पहली बार लगाई गई मंडी, किसानों को मिली राहत
किसानों का कहना था कि निवाड़ी जिले के पृथ्वीपुर में पहली बार अदरक की मंडी लगाई गई है। इस मंडी से निवाड़ी, टीकमगढ़, छतरपुर के साथ सागर जिले के किसानों को राहत मिलेगी। किसानों को अच्छा भाव भी मिला। इस कारण से मुनाफे की खेती करने में किसानों का मन लगा है। किसानों का कहना था कि अच्छे उत्पाद के लिए अच्छे बीज की जरुरत है। जिसकी उपज और सही समय पर बाजार में आ सके।
Demand for seeds sent to Maharashtra and Orissa, target of sowing 1100 quintals of ginger for 50 hectares
Demand for seeds sent to Maharashtra and Orissa, target of sowing 1100 quintals of ginger for 50 hectares
आत्म निर्भर बनने के लिए बनाएगें कई प्रोडेक्ट
अदरक के उत्पादक संख्या काफ ी बड़ी है और जिले में अदरक की बेहतर खेती की प्रबल संभावनाएं भी हैं। इस उत्पादक से किसानों के जीवन स्तर में सुधार होगा। अदरक उत्पादन, विपणन, प्रसंस्करण के माध्यम से किसानों को लाभ दिलाया जाएगा। किसानों ने कहा कि अदरक की सोंठ और अदरक पाउडर का उत्पादन शुरु कर दिया है।
फैक्ट फाइल
टीकमगढ़ जिले में इस समय अदरक के कुल किसानों की संख्या- ४५००
निवाड़ी जिले में इस समय अदरक के कुल किसानों की संख्या - ५०००
दोनों से इस वर्ष अदरक की कुल खरीदी - 7० क्विंटल
मंडी में अदरक बेचने वाले कुल किसान - 9०
अदरक के लिए व्यापारियों और समूहों को दिए गए लाइसेंस - २१
इस वर्ष अदरक के कुल दाम - १9०० रुपए क्विंटल
इस वर्ष बोया जाएगा अदरक - ५० हैक्टेयर
बीज के अदरक की डिमांड - ११०० क्विंटल
इनका कहना
टीकमगढ़ और निवाड़ी के किसानों के लिए सबसे अच्छा और अच्छी क्विालिटी की उपज वाला बीज मांगा जाएगा। उसके लिए भोपाल के बाद महाराष्ट्र और उडीसा में डिमांड मांगी गई है। जिससे अदरक की उपज और समय अनुसार बाजार में आ सके।
अजय रोहित संचालक उद्यानिक विभाग टीकमगढ़।
पहली बार पृथ्वीपुर में अदरक की मंडी लगाई गई है। जिसमें २१ व्यापारियों को लाइसेंस दिए गए है। उनके द्वारा 9० किसानों से 7० क्विंटल के करीब अदरक खरीदा गया है।
घनश्याम प्रजापति सचिव कृषि उपज मंडी टीकमगढ़ और पृथ्वीपुर।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

30 साल बाद फ्रांस को फिर से मिली महिला पीएम, राष्ट्रपति मैक्रों ने श्रम मंत्री एलिजाबेथ बोर्न को नया पीएम किया नियुक्तदिल्ली में जारी आग का तांडव! मुंडका के बाद नरेला की चप्पल फैक्ट्री में लगी भीषण आग, मौके पर पहुंची 9 दमकल गाडि़यांबॉर्डर पर चीन की नई चाल, अरुणाचल सीमा पर तेजी से बुनियादी ढांचा बढ़ा रहा चीनSri Lanka में अब तक का सबसे बड़ा संकट, केवल एक दिन का बचा है पेट्रोलIAS अधिकारी ने भारत की थॉमस कप जीत पर मच्छर रोधी रैकेट की शेयर की तस्वीर, क्रिकेटर ने लगाई फटकार - 'ये तो है सरासर अपमान'ताजमहल के बंद 22 कमरों का खुल गया सीक्रेट, ASI ने फोटो जारी करते हुए बताई गंभीर बातेंकर्नाटक: हथियारों के साथ बजरंग दल कार्यकर्ताओं के ट्रेनिंग कैम्प की फोटोज वायरल, कांग्रेस ने उठाए सवालPM Modi Nepal Visit : नेपाल के बिना हमारे राम भी अधूरे हैं, नेपाल दौरे पर बोले पीएम मोदी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.