scriptतिंदारी में मुक्तिधाम बनाने ले आउट डालने पहुंचे नायब तहसीलदार और सीईओ | Patrika News
टीकमगढ़

तिंदारी में मुक्तिधाम बनाने ले आउट डालने पहुंचे नायब तहसीलदार और सीईओ

निरीक्षण करने पहुंचे नायग तहसीलदार।

टीकमगढ़Jul 03, 2024 / 11:02 am

akhilesh lodhi

निरीक्षण करने पहुंचे नायग तहसीलदार।

निरीक्षण करने पहुंचे नायग तहसीलदार।

जल्द बनेगा पंचायत द्वारा मुक्तिधाम, ग्रामीणों को अंतिम संस्कार के लिए मिलेगी सुविधा

टीकमगढ़.जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत धनवाहा के तिंदारी गांंव में स्थानीय लोगों ने तरबीन कराकर मुक्तिधाम की जमीन पर कब्जा कर लिया है। जहां ग्रामीणों को अंतिम संस्कार के लिए जगह उपलब्ध नहीं है। जिसको लेकर शवदाह खुले मैदान और अपने-अपने खेतों पर करते आ रहे हैं। वहीं ९ वर्षीय मृतिका डोली रैकवार का शव का अंतिम संस्कार बारिश के कारण चार घंटे तक देरी से हुआ। जिससे ग्रामीण आक्रोशित हुए। मामले को पत्रिका ने प्रमुखता से लिया और २ जुलाई के अंक में, तिंदारी गांव में नहीं है मुक्तिधाम, सरपंच बोले-जमीन उपलब्ध नहीं शीर्षक का प्रकाशन किया। खबर प्रकाशन के बाद राजस्व और ग्रामीण एवं पंचायत विभाग हरकत में आया। प्रशासनिक टीम को लेकर तिंदारी गांव पहुंचा। जहां मुक्तिधाम निर्माण के लिए चूना का ले आउट डालकर चिन्ह बनाया गया है।
सरपंच शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि मुक्तिधाम के लिए पतरिया घाट पर जमीन पड़ी है। उस पर लोगों ने कब्जा कर लिया है। राजस्व विभाग के नायब तहसीलदार, जनपद पंचायत विभाग सीईओ, पटवारी, सरपंच ने तिंदारी गांव का निरीक्षण किया। उन्होंने मुक्तिधाम बनाने के लिए एक गरीब वंशकार परिवार की जमीन पर ले आउट डाल दिया। जबकि उसके लिए पतरिया पर मुक्तिधाम की जमीन खाली हैं। अब जमीन को लेकर राजनीति चलने लगी हैं। सरपंच ने बताया कि ग्राम पंचायत धनवाहा, तिंदारी और घाट खिरिया में ३० साल से मुक्तिधाम नहीं हैं। इन तीनों स्थानों पर मुक्तिधाम बनाया जाए। जिससे पंचायत के लोगों को गर्मी और बारिश के साथ अन्य मौसम में परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े।
पहले पतरिया पर था शमशान घाट
ग्रामीणों ने बताया कि ओरछा स्टेट समय से शमशान घाट स्वीकृत था। यह शमशान अस्तौन तिंदारी रोड नदी के पास, माता मंदिर के आंगे पतरिया पर था। लेकिन वहां का स्वीकृत मुक्तिधाम दूसरी जगह तरबीन कर दिया गया। अब वहां पर मुक्तिधाम के लिए जगह भी नहीं हैं। जिसके कारण ग्रामीण मृतकों का अंतिम संस्कार अपने खेतों पर करने लगे हैं।
पत्रिका खबर पर तिंदारी गांव पहुंचा प्रशासन
दो जुलाई को पत्रिका ने खबर का प्रकाशन किया। खबर प्रकाशन के बाद जिला प्रशासन की टीम हरकत में आई और टीम को लेकर तिंदारी गांव पहुंची। सरपंच को सूचना दी गई। मुक्तिधाम निर्माण कराने के लिए सरपंच के साथ गांव की जमीन पर भ्रमण किया। उसके बाद चूना का ले आउट डाला गया। लेकिन अब उस जमीन पर राजनीति होना शुरू हो गई हैं।

Hindi News/ Tikamgarh / तिंदारी में मुक्तिधाम बनाने ले आउट डालने पहुंचे नायब तहसीलदार और सीईओ

ट्रेंडिंग वीडियो