दो माह से खराब पड़ी डीपी, नहीं हो पा रही सिंचाई, किसान परेशान

जनसुनवाई में आए 210 आवेदन

By: vishnu soni

Published: 27 Nov 2019, 10:00 AM IST

टीकमगढ़.जनसुनवाई में मंगलवार को बड़ी संख्या में लोगों अपनी समस्याएं सुनाई। मंगलवार को कलेक्टर के पास 210 समस्या मूलक आवेदन पहुंचे। इनमें से कुछ का तो मौके पर ही निराकरण किया गया, वहीं कुछ को संबंधित विभागों में समय सीमा के अंदर निराकरण करने के निर्देश दिए गए।

बल्देवगढ़ विकासखण्ड के ग्राम कुडीला के भन्ना मोहल्ला के किसानों ने बताया कि दो माह से उनके खेतों की डीपी खराब पड़ी हुई है। इस संबंध में पूर्व में भी आवेदन दिया गया था। इस मामले में ओआईसी को निर्देश दिए गए थे। लेकिन ओआईसी द्वारा आज तक डीपी नहीं बदली गई है। इससे खेतों में किसान पानी नहीं दे पा रहे है।
ग्रामीण प्रभुदयाल लोधी, अशोक यादव सहित अन्य लोगों ने जल्द ही डीपी लगवाने की मांग की है। ग्राम घाटखिरिया निवासी ऊषा तिवारी ने कलेक्टर से शिकायत की है कि गांव की चरनोई जमीन पर कुछ दंबग अतिक्रमण किए हुए है। शिकायत के बाद से यह दबंग उन्हें धमकी दे रहे है। उन्होंन आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।
गोचर जमीन पर अतिक्रमण: ग्राम बराना से आए ग्रामीणों ने भी गोचर जमीन पर अतिक्रमण होने की शिकायत की है। गांव के पूरन सिंह, इमरत सिंह एवं कमलेश सहित अनेक लोगों ने बताया कि कुछ दबंगों ने गोचर जमीन पर अतिक्रमण कर लिया है। इससे गायों को चरने के लिए जगह नहीं है।
नौकरी से निकाला: नगर पालिका का कचरा वाहन चलाने वाले सीताराम अहिरवार ने बताया कि वह कई महीनों से कचरा वाहन चला रहे है। वह समय से अपना काम करते है। लेकिन वर्तमान सीएमओ ने उससे गाड़ी की चाबी लेकर उसे नौकरी से निकाल दिया है। उन्होंने कलेक्टर को आवेदन देकर वापस नौकरी पर रखने की मांग की है। दिगौड़ा थाने के ग्राम मऊबुर्जुग से आए अंकित घोष ने एसपी को अपना शिकायती आवेदन सौंपा। इसमें उन्होंने बताया कि 24 नवम्बर को गांव के ही सरहंग ने साथियों के साथ उनकी बाइक में आग लगा दी थी। इसकी सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस के सामने ही आरोपी धमकी देकर चला गया। पुलिस भी कार्रवाई नहीं कर रही है। अंकित का कहना है कि ऐसे में कोई घटना होती है, तो दिगौड़ा पुलिस जिम्मेदार होगी। उन्होंने एसपी से कार्रवाई की मांग की है।

vishnu soni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned