खरीदी केंद्र पर अव्यवस्था, वापस गेहूं लेकर घर आया किसान, इस वजह से हुआ दुखी

.नयाखेरा समिति प्रबंधक की मनमानी के चलते किसान के एक ट्राली गेहूं को रिजेक्ट कर दिया

By: anil rawat

Published: 16 May 2018, 09:53 AM IST

अखिलेश लोधी.टीकमगढ़.नयाखेरा समिति प्रबंधक की मनमानी के चलते किसान के एक ट्राली गेहूं को रिजेक्ट कर दिया है। किसान ने गेहूं खरीद किए जाने की मांग कलेक्टर से की है। किसान अनवर अली ने बताया कि समर्थन मूल्य के तहत नयाखेरा समिति पर एक ट्रांली गेहूं डालने आया था। सुबह से शाम तक समिति के कर्मचारियों द्वारा खरीदी केंद्र पर बैठाए रहे। गेहूं नया और साफ होने के बाद भी समिति प्रबंधन ने रिजेक्ट कर दिया है। मामले को लेकर किसान ने दोनों सर्वेयरों से गेहूं की जांच करने की मांग की गई। लेकिन उनके द्वारा गेहूं की बगैर जांच किए ही रिजेक्ट कर दिया है। किसान का कहना था कि घर से मजदूरों द्वारा एक ट्रांली गेहूं को भरवाया गया। इसके बाद खरीदी केंद्र के फर्स पर डाला गया। गेहूं रिजेक्ट होने के कारण किसान को वापस घर लाना पड़ा। जहां किसान को परेशानियों का सामना करना पड़ा। किसान ने मामले की शिकायत कलेेक्टर से की है। जिला खाद अधिकारी एस के तिवारी का कहना था कि अगर समिति प्रबंधन द्वारा किसान के गेहूं खरीदने से मना किया है तो मामले की जांच कर कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही किसानों की फसल को समिति वाला नहीं लेता है तो जिला केंद्र पर गेहूं को बेच सकता है।

आगनबाडी सहायका ने पुलिस से की शिकायत
टीकमगढ़.नगर के वार्ड 27 अ आगनबाड़ी केंद्र के बाहर असामाजिक तत्वों द्वारा गंदगी और बच्चों को पोषण आहार वितरण करने के दौरान परेशान किया जाता है। असामाजिक तत्वों को रोकने और उन पर कार्रवाई को लेकर पीडि़त ने कोतवाली पुलिस से शिकायत की है। कोतवाली पुलिस को दी शिकायत में आगनबाड़ी केंद्र सहायका राजकुमारी अहिरवार ने बताया कि केंद्र के बाहर असामाजिक तत्वों द्वारा प्रतिदिन गंदगी फैलााई जा रही है। गंदगी न फैलाने के लिए उन्हें रोका जाता है तो गाली-गलौच कर मारपीट की धमकी दी जाती है। असामाजिक बच्चों पर कार्रवाई किए जाने की मांग को लेकर आगनबाड़ी सहायका ने कोतवाली पुलिस से शिकायत की है।

anil rawat Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned