पूर्व केंद्रीय मंत्री की पत्नी की हत्या मामले में फरार आरोपी मध्यप्रदेश में मिला, 34 लाख के गहने भी मिले

kumar manglam wife murder case: अपने ससुराल में छुपा था पूर्व केंद्रीय मंत्री की पत्नी की हत्या का आरोपी....।

By: Manish Gite

Published: 12 Jul 2021, 02:30 PM IST

 

टीकमगढ़। पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व पीआर कुमार मंगलम की पत्नी किट्टी कुमार मंगलम की हत्या का मुख्य आरोपी सूरज कुमार टीकमगढ़ जिले के जतारा थाना क्षेत्र अंतर्गत बल्देवपुरा गांव से गिरफ्तार हुआ है। उसके कब्जे से हत्या कर लूटे गए आभूषण, मोबाइल भी बरामद किए गए हैं। जिनकी कीमत 33 लाख रुपए बताई गई है। इनमें आधा किलोग्राम के सोने के गहने भी शामिल हैं। उसके साथ पहली पत्नी और बेटी भी यहां आई थी, दिल्ली पुलिस सोमवार को आरोपी के साथ दोनों पत्नियों व बेटी को ले गई।

टीकमगढ़ पुलिस अधीक्षक प्रशांत खरे ने बताया कि दिल्ली पुलिस के इनपुट पर रविवार की रात बल्देवपुरा गांव में छापेमारी कर आरोपी सूरज कुमार को गिरफ्तार किया गया था। ज्ञात हो कि सुप्रीम कोर्ट की अधिवक्ता रहीं किट्टी कुमार मंगलम की 6 जुलाई को दिल्ली स्थित बसंत विहार कॉलोनी में उनके निवास पर हत्या कर दी गई थी। तीन की संख्या में रहे बदमाश घर से आभूषण, नकदी सहित दूसरे कीमती सामान लूट ले गए थे। किट्टी की हत्या सूरज ने ही की थी, बाकी दो साथी उसका सहयोग कर रहे थे।

 

पहले जयपुर भागा था आरोपी

पुलिस को दिए गए बयान में आरोपी सूरज ने बताया कि हत्या और लूट के बाद वह ताराचंद कॉलोनी महिपालपुर दिल्ली अपने घर गया। पत्नी रेखा और बेटी को घूमने का कहकर पहले से ही तैयार रहने के लिए फोन कर दिया था। घर पहुंचकर उसने एक गाड़ी बुक की और पत्नी को लेकर 6 जुलाई की रात ही जयपुर निकल गया था। मोबाइल स्विच ऑफ करके वह होटल में कमरा लेकर रुक गया। इस दौरान दो लाख के गहने भी बेचे थे, उसी पैसे से मजे किए और हजारों रुपए की शॉपिंग भी की थी।

 

ऐसे पहुंचा था बल्देवपुरा

इस घटना के दो आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद सूरज ज्यादा सतर्क रहने लगा और जगह बदलने का प्लान करने लगा। प्लान के मुताबिक जयपुर से किराए की गाड़ी लेकर वह जतारा थाना क्षेत्र के बल्देवपुरा दूसरी पत्नी के मायके रविवार की शाम को ही पहुंचा था। इसके कुछ घंटों बाद ही पुलिस ने उसे दबोच लिया।

 

बेटी की पोस्ट से खुला भेद

मोबाइल स्विच ऑफ करके पुलिस से बच रहे सूरज की पोल उसकी बेटी की पोस्ट ने खोल दिया था। दरअसल, जिस होटल में वे रुके थे उसकी तस्वीरें लेकर बेटी ने इंस्टाग्राम में पोस्ट डाल दिया था। इसी से उसके जयपुर में होने का पता लगा तो तलाश तेज की गई। बताया गया है कि आरोपी की दो पत्नियां हैं, पहली पत्नी रेखा से उसे एक बेटी है। जबकि बल्देवपुरा निवासी रानी नामक महिला मजदूरी करने दिल्ली गई थी तब वह सूरज के संपर्क में आ गई थी। बाद में उसे भी पत्नी बना लिया। रानी कुछ दिन पहले अपने मायके आ गई थी। तो आरोपी छिपने के लिए यहां पहुंचा था।


एक माह से कर रहे थे प्लानिंग

धन के लालच में कुमार मंगलम के घर पर लूट की प्लानिंग आरोपी एक माह से कर रहे थे। सूरज बसंत विहार इलाके में सफाई का काम देखता था। उसकी पहचान राजू धोबी से थी, जो किट्टी कुमार मंगलम के घर धुलाई और प्रेस के लिए कपड़े लेने जाता था। उसने ही कुमार मंगलम के घर में काफी धन होने की बात की थी। सूरज ने राजू और उसके साथी राकेश को साथ लेकर लूट की प्लानिंग की। हत्या करने का जिम्मा सूरज ने लिया था। घर पर मिली नौकरानी को भी जान से मारने के इरादे से गले पर बेल्ट फंसाकर फेक दिया था, उसे भी मरा समझकर ही तीनों वहां से भागे थे।

यह माल बरामद

एसपी प्रशांत खरे ने बताया कि आरोपी के पास से 522 ग्राम सोने के और 300 ग्राम चांदी के आभूषण, 9 हजार रुपए नकद एवं मोबाइल जब्त किया है। इसकी कीमत 33 लाख रुपए बताई है। वहीं, जयपुर से खरीदे गए सामान भी जब्ती में लिए गए हैं, इनमें उसके, पत्नी और बेटी के कपड़े भी शामिल हैं।

Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned