खराब बीज वितरित करने से कृषि विभाग के प्रति किसानों में नाराजगी

.एक ओर किसानों की आय दोगुनी करने पर जोर दिया जा रहा है वहीं किसानों को ही फसलों के लिए खराब बीज वितरित किए जा रहे हैं।

By: akhilesh lodhi

Published: 01 Jul 2020, 06:00 AM IST


टीकमगढ़/जतारा.एक ओर किसानों की आय दोगुनी करने पर जोर दिया जा रहा है वहीं किसानों को ही फसलों के लिए खराब बीज वितरित किए जा रहे हैं। जतारा अनुभाग के पलेरा विकासखंड के अंतर्गत ग्रामों में किसानों को विस्तार अधिकारियों के द्वारा उड़दा का खराब बीज वितरित करने का मामला सामने आया है। इस संबंध में किसानों ने जिला प्रशासन को पत्र लिखकर शिकायत दर्ज करवाया है। ग्राम सगरवारा के किसान राजेन्द्र सिंह, भल्लूपाल, मंगल लाल सिंह ने बताया कि कृषि विभाग के माध्यम से किसानों को बोउनी के लिए सड़-गल गई बीज दिया जा रहा है। बीज इतना घटिया किस्म का है जिससे अंकुरण होना संभव नहीं है। यह बीज किसानों को प्रति किलो १०० रुपए की दर से दिया जा रहा है।वहीं विभागीय कर्मचारियों का कहना है कि बीज कम होने के कारण उपलब्ध नहीं है। किसानों का आरोप है कि कृषि विभाग के अधिकारियों ने व्यापारियों से सांठगांठ कर खराब बीज अच्छी क्वालिटी बताकर किसानों को दिया जा रहा है। किसानों ने इस मामले की जांच करवाने की मांग की है।


दूसरी ओर जतारा विकासखंड में कृषि विभाग के माध्यम से जो बीच के लिए मांग पत्र दिया गया था उसके अनुसार समिति को भी उपलब्ध नहीं कराया गया है। कृषि विभाग के डीके दीक्षित ने बताया कि जतारा विकासखंड में 15 समितियां हैं। प्रत्येक समिति पर 150 क्विंटल बीज उपलब्ध कराने की मांग की गई थी लेकिन जिले से मत 150 क्विंटल बीज उपलब्ध कराया गया है। ऐसी स्थिति में यहां किसान बीज के लिए भटक रहे हैं । किसानों को बाजार से महंगे दामों पर बीच खरीदने को मजबूर होना पड़ रहा है।
इनका कहना
मुझे इस तरह की जानकारी अभी मिली है अगर किसानों को खराब भेज दिया जा रहा है तो हम इस मामले की जांच कर आते हैं।
डॉ. सौरभ सोनबणे, एसडीएम, जतारा ।

akhilesh lodhi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned