डेड घोषित भवन में लग रहा गल्र्स हायर सेकेण्डरी स्कूल

डेड घोषित भवन में लग रहा गल्र्स हायर सेकेण्डरी स्कूल

Anil Kumar Rawat | Publish: Aug, 08 2019 11:50:36 AM (IST) Tikamgarh, Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

शासन से मिली राशि, टेंडर भी लगा, लेकिन नही हो पा रहा निर्माण

टीकमगढ़. जर्जर भवन में संचालित हो रहे गल्र्स हायर सेकेण्डरी स्कूल के निर्माण के लिए लंबे समय से मांग की जा रही हैं। अब शासन द्वारा इसके लिए राशि स्वीकृत होने के बाद भी इसका निर्माण नही हो पा रहा हैं। इस भवन के निर्माण की मुख्य समस्या, इसका डिस्मेंटल होना हैं। जब यह भवन गिराया जाएगा तो उस दौरान कक्षाएं कहा पर लगेंगी। इस समस्या के चलते इस स्कूल का काम अधर में लटका हुआ हैं।


जिला मुख्यालय पर एक मात्र गल्र्स हायर सेकेण्डरी स्कूल हैं। नगर के साथ ही लगभग एक दर्जन गांवों की छात्राएं यहां पर अध्ययन करने के लिए आती हैं। नजरबाग मंदिर प्रांगण में स्थित इस विद्यालय का भवन काफी पुराना हो गया हैं। यह स्कूल राजशाही दौर में निर्मित एक भवन में संचालित हो रहा हैं। यह भवन जहां जर्जर हो चुका हैं और इसे लोक निर्माण विभाग द्वारा डेड भी घोषित किया जा चुका हैं, वहीं यहां पर छात्र संख्या के अनुरूप बैठने के लिए पर्याप्त स्थान भी नहीं हैं। ऐसे में इस स्कूल के पुर्न निर्माण को लेकर लंबे समय से मांग की जा रही हैं।

 

मिला बजट: इस भवन के लिए निर्माण के लिए शासन द्वारा बजट भी स्वीकृत कर दिया गया हैं। शासन द्वारा लगभग एक वर्ष पूर्व इस भवन के निर्माण के लिए 1 करोड़ रुपए की राशि स्वीकृत की गई थी। शिक्षा विभाग द्वारा यह राशि पीआइयू को दी गई थी। पीआइयू की माने तो उन्होंने इसके टेंडर भी जारी कर दिए थे। लेकिन पुराना भवन डिस्मेंटल न होने के कारण नए भवन का काम नही लग सका हैं। पीआइयू के इई बाथम का कहना हैं जब तक जगह नही मिलती हैं, नए भवन का काम शुरू नही किया जा सकता हैं।


कहां लगेगी कक्षाएं: पुराने भवन को डिस्मेंटल कर नए भवन बनने तक गल्र्स हायर सेकेण्डरी स्कूल की कक्षाएं कहां लगेंगी यह समस्या बनी हुई हैं। इसके लिए शिक्षा विभाग अब तक वैकल्पिक व्यवस्था नही कर सका हैं। शिक्षा विभाग की लापरवाही के चलते यह भवन अधर में लटका हुआ हैं और छात्राओं को इस पुराने भवन में तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं। लेकिन शिक्षा विभाग हैं, कि उसका कोई ध्यान ही नहीं हैं।


17 कमरें और 1700 छात्राएं: विदित हो कि कन्या हायर सेकेण्डरी स्कूल में इस समय 1700 के लगभग छाएं हैं। इसमें कक्षा 12वीं में 600, कक्षा 11वीं में 500 एवं 9वीं एवं 10वीं में 550 के लगभग छात्राएं हैं। जबकि इन छात्राओं के लिए यहां पर मात्र 17 कमरें हैं। इसमें से भी 3 कमरें तो पूरी तरह से जर्जर हैं और इनका उपयोग नही किया जाता हैं। वहीं तीन कमरें स्कूल के प्रबंधन के लिए रखें हुए हैं। ऐसे में छात्राओं के लिए जगह की खासी कमी बनी हुई हैं।


कहते है अधिकारी: इसके लिए मैने डीइओ को जल्द ही वैकल्पिक व्यवस्था कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कुछ स्थानों के विषय में बताया था, मैंने उन्हें निरीक्षण कर विकल्प तलाशने को कहा हैं। जल्द ही इसकी व्यवस्था कर नए भवन का काम शुरू कराया जाएगा।- सौरभ कुमार सुमन, कलेक्टर, टीकमगढ़।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned