scriptकृषि उपज मंडी में किसानों के अनाज की नीलामी में अनियमितताएं, आसमान पर नजर लगाए सीसीटीवी कैमरा | Patrika News
टीकमगढ़

कृषि उपज मंडी में किसानों के अनाज की नीलामी में अनियमितताएं, आसमान पर नजर लगाए सीसीटीवी कैमरा

नीलामी के लिए पहुंचे व्यापारी, किसान नहीं मौजूद

टीकमगढ़Jul 11, 2024 / 07:57 pm

akhilesh lodhi

नीलामी के लिए पहुंचे व्यापारी, किसान नहीं मौजूद

module: NormalModule;
touch: (-1.0, -1.0);
modeInfo: ;
sceneMode: Night;
cct_value: 0;
AI_Scene: (-1, -1);
aec_lux: 91.0;

सुरक्षा के इंतजार विफल, कम और अधिक दामों पर किसानों को बोलने नहीं दिया मौका

टीकमगढ़. कृषि उपज मंडी में खरीद की ऑनलाइन प्रक्रिया कई महीनें पहले से शुरू हो गई है, उसके बाद भी अनियमितताएं रुकने का नाम नहीं ले रही है। मुख्य द्वार की सुरक्षा से लेकर अनाज नीलामी मैदान तक मंडी प्रबंधन के साथ व्यापारियों की लापरवाही देखने को मिली है। किसान से खरीदे गए अनाज के बारे में उससे बात करना तो दूर, उसकी राय भी नहीं जानी गई। यहां तक एक ओवर लोड अनाज के बोरो से भरा ट्रैक्टर ट्राली बगैर नीलामी के व्यापारी के पास पहुंचा दिया गया। वहीं सुरक्षा के इंतजाम विफल दिखाई दिए।
बुधवार की दोपहर १२ बजे पत्रिका की टीम मंडी मैदान में पहुंची। धर्मकांटे के सामने वाले शेड के नीचे २५ से अधिक ट्रैक्टर ट्राली और लोडिंग वाहन में गेहूं भरा हुआ था। दोपहर १२:०५ बजे मंडी टीम और व्यापारी परखी लेकर किसान के अनाज के पास पहुंचे। पहली नीलामी दोपहर १२:१० बजे समर्रा निवासी किसान रामचरण साहू के अनाज की हुई, २४.६८ रुपए प्रति किलो में गेहूं खरीदा गया। उसके बाद दोपहर १२:१५ बजे सुकवाहा निवासी मनोज साहू का २५ रुपए कुछ पैसे में गेहूं खरीद किया गया, किसान ने बताया कि मेरा अनाज सस्ते में खरीद लिया है। नीलामी फैल करने का प्रयास किया, लेकिन उनके सामने चल न सकी। दोपहर १२:१७ बजे पहाडी तिलवारन गांव के किसान सीताराम यादव के २४.५७ रुपए प्रति किलो, दोपहर १२:१९ बजे सरकनपुरा निवासी किसान राजू वंशकार और दोपहर १२:२१ बजे गंगा सागर निवासी दुर्ग सिंह लोधी का २५ रुपए प्रति किलो गेहूं खरीद किया गया है।

किसानों को नहीं मिला बोलने का मौका
जतारा निवासी किसान बल्लू अग्रवाल और समर्रा निवासी रामचरण साहू ने बताया कि मेरा अनाज सस्ते में खरीद लिया है। मंडी के कर्मचारियों और व्यापारियों ने बोलने का समय नहीं दिया और नीलामी करके आगे बढ़ गए। साफ और एक खेत का अनाज सस्ते में क्यों लिया है, जबकि परखी की जांच में अनाज सूख और साफ निकला। व्यापारियों ने बताया कि अनाज नमी और कचरा युक्त है।

बगैर नीलामी के भाग निकला अनाज से भरा ट्रैक्टर
दोपहर १२:१७ बजे के बाद अंतिम वाहन में भरे अनाज के पास मंडी के कर्मचारी और व्यापारी पहुंचे तो किसी व्यापारी के इशारे पर अनाज से भरा ट्रैक्टर ट्राली भाग निकला और आवाज आई कि उसकी नीलामी हो गई है। लेकिन गेहूं नीलामी का का शुभारंभ दोपहर १२:०५ बजे से शुरू हुआ था। लेकिन यह नीलाम कब हो गई है। जिसकी चर्चा व्यापारियों के साथ कर्मचारियों में सुनने को मिली थी।

सुरक्षा के इंतजाम विफल
पत्रिका की टीम ने लौटते समय दोपहर १२:५४ बजे कृषि उपज मंडी मुख्य द्वार के सीसीटीवी कैमरों को देखा तो सुरक्षा की दृष्टि वहां की स्थिति उलट थी। मंडी के अंदर आने-आने वाले भरे खाली और आम लोगों पर नजर रखने के लिए एक स्टैंड पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए, लेकिन वह सीसीटीवी कैमरे अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहे थे। एक सीसीटीवी कैमरा का मुंह दीवार के सहारे आसमान देख रहा था और दूसरा दीवार पर नजर लगाए था और तीसरा द्वार को छोड सडक़ देख रहा था।

ऑनलाइन हुई नीलामी
मंडी में गेहूं की नीलामी ऑनलाइन की गई। गेट पर्ची क्रमांक से लेकर अनुबंध पर्ची तक मशीन से निकाली गई। यहां तक किसान के अनाज को बेचने और किस व्यापारी द्वारा खरीदा गया। इसका भी कोड डाला गया। हालांकि व्यापारियों नकद खरीद करने की बात कही। वहीं सफई व्यवस्था बदतर रही।

इनका कहना
मंडी का प्रभार दो दिन पहले लिया है। यहां पर फैली अव्यवस्थाओं का जल्द की सुधार किया जाएगा। नीलामी ऑनलाइन होने लगी और उसमें भी सुधार किया जाएगा। सुरक्षा को लेकर इंतजाम किए जाएंगे। सीसीटीवी कैमरा और समय पर कर्मचारियों को कार्यालय में पहुंचने के निर्देश दिए जाएंगे।
घनश्याम दास प्रजापति, सचिव कृषि उपज मंडी टीकमगढ़।

Hindi News/ Tikamgarh / कृषि उपज मंडी में किसानों के अनाज की नीलामी में अनियमितताएं, आसमान पर नजर लगाए सीसीटीवी कैमरा

ट्रेंडिंग वीडियो