scriptIt could not be started till date, only two thumbs were started for t | १ अक्टूबर से बॉयोमेट्रिक थंब मशीनों से शुरु करानी थी छात्र-छात्राओं की ऑनलाइन अटेंडेस | Patrika News

१ अक्टूबर से बॉयोमेट्रिक थंब मशीनों से शुरु करानी थी छात्र-छात्राओं की ऑनलाइन अटेंडेस

locationटीकमगढ़Published: Nov 14, 2022 07:19:48 pm

Submitted by:

akhilesh lodhi

महाविद्यालयों में ऑफलाइन हाजिरी को खत्म करने की योजना उच्च शिक्षा विभाग द्वारा कह गई है। जिसको लेकर ऑनलाइन बॉयोमेट्रिक थंब मशीन लगाने के आदेश सितम्बर में दिए गए थे। एक अक्टूबर से ऑनलाइन अटेंडेस शुरु कराने की योजना थी।

 It could not be started till date, only two thumbs were started for the attendance of professors.
It could not be started till date, only two thumbs were started for the attendance of professors.


टीकमगढ़. महाविद्यालयों में ऑफलाइन हाजिरी को खत्म करने की योजना उच्च शिक्षा विभाग द्वारा कह गई है। जिसको लेकर ऑनलाइन बॉयोमेट्रिक थंब मशीन लगाने के आदेश सितम्बर में दिए गए थे। एक अक्टूबर से ऑनलाइन अटेंडेस शुरु कराने की योजना थी। लेकिन आज तक प्रोफेसरों की ही थम्ब मशीनें लग पाई है।
महाविद्यालयों में छात्रों की १०० फीसदी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए पीजी कॉलेज में १७ बॉयोमेट्रिक थंब मशीन और जिले के प्रत्येक महाविद्यालयों में तीन से अधिक लगाई जानी थी। लेकिन नवम्बर का आधा माह गुजर गया है, उसके बाद भी थम्ब थम्ब मशीने नहीं लग पाई है। आज भी वहां पर ऑफलाइन कक्षाएं संचालित की जा रही है। लेकिन बॉयोमेट्रिक थंब मशीनें लगाने का प्रयास नहीं किया जा रहा है। जिसके कारण छात्र कक्षाओं में कम और परीक्षाओं में१०० फीसदी दिखाई दे रही है।

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.