तीन वर्षों में सबसे सर्द रहा दिसम्बर का पहला सप्ताह

तीन दिनों में पारे ने लगाया 8 डिग्री का गोता, जमकर हुआ सर्दी का अहसास

टीकमगढ़. पिछले तीन वर्षों में इस वर्ष दिसम्बर का पहला सप्ताह सबसे सर्द रहा है। पिछले तीन दिनों में न्यूनतम पारे में आई 8 डिग्री की गिरावट से बुधवार को लोगों को जमकर सर्दी का अहसास हुआ। मौसम में पहली बार लोग दिन में धूप सेंकते दिखाई दिए। पिछले तीन वर्षों में बुधवार का दिन सबसे सर्द दिन रिकार्ड किया गया।


नवम्बर का पूरा माह निकले के बाद भी सर्दी न पडऩे से जहां किसान चिंतित थे, वहीं लोग भी सर्दी न होने की बात कह रहे थे। लेकिन पिछले दो दिनों से मौसम साफ होने एवं सर्द हवाएं चलने से मौसम का मिजाज एकदम बदल गया है। बुधवार की सुबह से ही लोगों को सर्दी का खासा अहसास हुआ। वहीं पारे में भी ड़ेढ डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई। मौसम में अचानक से बड़ी सर्दी के कारण लोगों को दिन में धूप का सहारा लेना पड़ा। वहीं पहली बार लोग दिन में गर्म कपड़े पहने दिखाई दिए।

 

8 डिग्री की गिरावट: न्यूनतम पारे में पिछले तीन दिनों में 8 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है। सोमवार को जिले का न्यूनतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस था। वहीं बुधवार को यह 8.7 पर पहुंच गया। दिन में खुली धूप के कारण लोगों को राहत हुई, लेकिन शाम होते-होते फिर से सर्दी ने असर दिखाना शुरू कर दिया।


3 वर्षों का न्यूनतम तापमान: पिछले तीन वर्षों में बुधवार सबसे सर्द दिन रहा है। विदित हो कि 2017 में जहां 4 दिसम्बर को न्यूनतम तापमान 9.5 डिग्री था, वहीं 2018 में यह 9.6 डिग्री दर्ज किया गया था। वहीं इस वर्ष यह 8.7 दर्ज किया गया है।


बर्फवारी का असर: मौसम साफ होने के बाद बड़ी सर्दी को पहाड़ी क्षेत्र में हुई बर्फवारी का असर बताया जा रह है। मौसम विभाग की माने तो इस बार उत्तर भारत में पहाड़ी क्षेत्रों में जोरदार बर्फवारी हुई है। मौसम खुलने के बाद अब वहीं सर्दी असर दिखा रही है। मौसम विभाग ने अभी तापमान में और गिरावट दर्ज होने की बात कही है।
किसानों को राहत: मौसम में बड़ी सर्दी से किसानों को राहत बताई जा रही है। अब तक सर्दी न पडऩे से किसान परेशान थे। सर्दी न पडऩे के कारण जहां खेतों में नमीं नही ठहर रही थी, वहीं कुछ जगहों पर फसलों में की कीट व्याधी की समस्याएं भी देखने को मिल रही थी। कृषि वैज्ञानिक डॉ योग रंजन का कहना है कि मौसम में सर्दी आने से अब कीट व्याधी कम होगी।

anil rawat
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned