बुंदेलखंड सहित प्रदेश का एक प्रतिष्ठित टूर्नामेंट

दिगौड़ा को जल्द ही पूर्ण तहसील का दर्जा -राजपूत
जिले में तीन सामुदायिक भवन अछरू माता मंदिर परिसर, दिगौड़ा तथा मोहनगढ़ में स्वीकृत: पटेल

By: vivek gupta

Published: 19 Jan 2019, 02:12 PM IST

टीकमगढ़.38वी स्व. अमर सिंह राठौर स्मृति अखिल भारतीय बॉलीवाल प्रतियोगिता के शुभारंभ अवसर पर प्रदेश के राजस्व और परिवहन और जिले के प्रभारी मंत्री गोविन्द्र सिंह राजपूत के साथ ही प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग कमलेश्वर पटेल और वाणिज्यकर मंत्री बृजेन्द्र सिंह राठौर के द्वारा प्रतियोगिता का शुभारंभ किया गया।दीप प्रज्जवलन के साथ अमर सिंह राठौर के चित्र पर पुष्प अर्पित करते हुए खेल ध्वज फ हराकर शुभारंभ किया गया। इस दौरान स्व. अमर सिंह राठौर की समाधि स्थल पर पुष्पांजलि अर्पित की गई।


उत्तर भारत का बडा आयोजन
समारोह को संबोधित करते हुये वाणिज्यकर मंत्री बृजेन्द्र सिंह राठौर ने कहा कि यह 38वां अखिल भारतीय बॉलीवाल प्रतियोगिता का आयेाजन केवल पृथ्वीपुर नगर का ही नही मध्यप्रदेश के उत्तर भारत का सबसे बडा आयेाजन है । इस आयोजन में हिन्दुस्तान के अलग अलग प्रांतो से खिलाडी अपनी टीमो के साथ खेलने आते है । आयोजन को सफ ल बनाने के लिए वह अकेले ही नही बल्कि समूचे नगर और जिलेवासियो के सहयोग की बदौलत ही यह आयोजन सफ लता की ओर जाता है। उन्होंने कहा कि उनकी विधानसभा का हिस्सा आधा टीकमगढ एवं आधा निवाडी जिले में आता है।

 

उन्होंने राजस्व एवं परिवहन मंत्री से क्षेत्र के लिए मांग करते हुएकहा कि पृथ्वीपुर नगर में राजस्व विभाग का अनुविभागीय कार्यालय जल्द संचालित करने की व्यवस्था की जाए। दिगौडा उप तहसील को पूर्ण तहसील का दर्जा दिया जाए। एवं मोहनगढ तहसील में कर्मचारियो की कमी को पूरा किया जाए।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग मंत्री कमलेश्वर पटेल से मांग रखी कि विधानसभा के अछरूमाता मंदिर और दिगौडा एवं मोहनगढ में बडे सामुदायिक भवनो का निर्माण कराने की बात कही। उन्होंने कहा प्रदेश की कमलनाथ सरकार के काम का सवाल है तो हमारे मुखिया कमलनाथ ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते ही सबसे पहला काम जो वचन पत्र में किया गया । वादा किसानो की कर्जमाफ ी की फ ाईल पर हस्ताक्षर कर कर्ज माफ ी की शुरूआत की।


पटवारियों की होगी नियुक्ति
मुख्य अतिथि राजस्व मंत्री राजपूत ने कहा कि यह आयोजन 38 वर्षो से चलता आ रहा है । संघर्ष और मेहनत के साथ जिस तरह से आयोजन समिति ने इस विलुप्त होते वॉलीवाल के खेल को संजोए रखा है। उन्होंने कहा कि राजस्व विभाग में कोटवार से लेकर कमिश्नर तक काम करते है । सबसे ज्यादा इस विभाग में पटवारियो की कमी के चलते एक पटवारी के पास 4 से 5 हल्के उनके पास है । इस वजह से ग्रामीण क्षेत्रो के लोग पटवारियो को तलाशते फि रते है। उनके काम समय सीमा में नही हो पाते है। उसके लिए वह तीन माह के अंदर पटवारियो की नियुक्ति की प्रकिया को पूर्ण करके प्रत्येक हल्का में एक पटवारी को नियुक्त करेगें। साथ ही पटवारी को निर्देशित किया जाएगा कि वह सप्ताह में एक दिन पंचायत में बैठे और लोगो की मौके पर ही समस्याओ का समाधान करे।

 

तीन सामुदायिक भवन अछरूमाता मंदिर परिसर, दिगौड़ा तथा मोहनगढ़ में स्वीकृत
इस अवसर पर पंचायत और ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल ने कहा कि दद्दा की विरासत को बृजेन्द्र सिंह ने बखूबी संभाला है। उन्होंने जिले में तीन सामुदायिक भवन अछरूमाता मंदिर परिसर, दिगौड़ा और मोहनगढ़ में स्वीकृत करने की घोषणा की। साथ ही उन्होंने कहा कि विकास के लिए जो भी आवश्यकताएं हैं, उन्हें जल्द पूरा किया जाएगा।

मंत्री ने सर्विस कर किया मैच का शुभारंभ
बृजेन्द्र सिंह राठौर, गोविन्द सिंह राजपूत और कमलेश्वर पटेल ने वालीवॉल प्रतियोगिता में सर्विस करके मैच का शुभारंभ किया। आज सिग्नल कोर लखनऊ तथा पंजाब हॉस्टल के बीच प्रथम मैच खेला गया, जिसमें सिग्नल कोर लखनऊ ने 2-1 से जीत दर्ज की। तीन दिवसीय इस प्रतियोगिता का समापन 20 जनवरी को खेल एवं युवा कल्याण एवं उच्च शिक्षा विभाग मंत्री जीतू पटवारी एवं नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह के मुख्य आतिथ्य में होगा।

 

vivek gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned