scriptNo notice given, bulldoze fired | 9० दुकानों पर चला बुलडोजर, दुकान मालिक ने पेट्रोल डालकर आग लगाने की दी धमकी, एसडीएम ने भेजा थाने | Patrika News

9० दुकानों पर चला बुलडोजर, दुकान मालिक ने पेट्रोल डालकर आग लगाने की दी धमकी, एसडीएम ने भेजा थाने

रविवार की सुबह 9 बजे से नवोदय विद्यालय से जुडावन रोड कुण्डेश्वर में अतिक्रमण हटाने के लिए २०० कर्मचारियों के साथ दो बुलडोजर पहुंचे थे। दोपहर २ बजे तक बगैर नोटिस दिए 9० गरीब लोगों की दुकानों पर बुलडोजर चलाया गया

टीकमगढ़

Published: March 14, 2022 09:47:42 pm

टीकमगढ़. रविवार की सुबह 9 बजे से नवोदय विद्यालय से जुडावन रोड कुण्डेश्वर में अतिक्रमण हटाने के लिए २०० कर्मचारियों के साथ दो बुलडोजर पहुंचे थे। दोपहर २ बजे तक बगैर नोटिस दिए 9० गरीब लोगों की दुकानों पर बुलडोजर चलाया गया। जिसमें कई लोग बेरोजगार हो गए। दुकान मालिकों ने अतिक्रमण हटाने के नोटिस मांगे। लेकिन उनकी फरियाद को किसी भी अधिकारी और कर्मचारी द्वारा नहीं सुना गया। इस कार्रवाई से परेशान होकर पेट्रोल डालकर आग लगाने की धमकी दी तो एसडीएम ने चार लोगों पर धारा १५१ की कार्रवाई में थाने भेज दिया। इसके साथ ही दुकानदारों ने कुण्डेश्वर ट्रस्ट अध्यक्ष और क्षेत्रीय विधायक पर गंभीर आरोप लगाए है। कहा कि अतिक्रमण की कार्रवाई से १६ दुकानों को छोड़ दिया है।
शिव धाम कुण्डेश्वर में सौंदर्यीकरण के नाम पर सड़क से 55 फ ीट दूरी तक की दुकानें हटाई गई है। इस कार्रवाई में जिला प्रशासन, पुलिस बल के साथ मौके पर अन्य अधिकारी और कर्मचरी पहुंच। उन्होंने दुकानें हटाने की कार्रवाई शुरु की। जिससे दुकानदारों में हड़कंप मच गया। कई दुकानदार तो दुकान में रखा सामान भी नहीं निकाल सके और कार्रवाई में सामान भी जमींदोज हो गया। लेकिन किसी भी दुकानदार को नोटिस नहीं दिए गए। धाम के विकास के लिए कई दुकानदारों ने विरोध किया कि मंदिर दरवाजा के सामने वाली दुकानों को भी हटाया जाना चाहिए। जिससे मंदिर क्षेत्र का सम्पूर्ण विकास हो सके। उन्होंने कहा कि अगर नहीं हटाई जाती हैं तो फि र उसका विरोध भी किया जाएगा। इस कार्रवाई में कोतवाली थाना प्रभारी वीरेंद्र पवार, एसडीओपी कृश्णपाल सिंह, एसडीएम सीपी पटेल, तहसीलदार आरपी तिवारी, नगरपालिका टीम, खिरिया पुलिस चौकी सहित 200 कर्मचारी मौके पर मौजूद रहे।

No notice given, bulldoze fired
No notice given, bulldoze fired
१६ दुकानों पर नहीं की कार्रवाई
दुकानदार नरेंद्र कुमार खटीक ने वीडियो में कहा कि ५० साल से दुकान का संचालन किया जा था। आपसी रंजिश के कारण $कण्डेश्वर ट्रस्ट अध्यक्ष और क्षेत्रीय विधायक द्वारा अतिक्रमण हटाया गया है। अतिक्रमण हटाने के लिए कोई सूचना और नाटिस नहीं आए है। रविवार की सुबह अतिक्रमण हटाने के लिए मशीने आई है। दुकानदार ने वीडियो में कहा कि दोनों की नजर कुण्डेश्वर के विकास की राशि पर नजर है। १६ दुकानें सड़क के किनारे बनी है। उन पर काई कार्रवाई नहीं की गई है। उसमें से कुछ ५ दुकानें कुण्डेश्वर ट्रस्ट अध्यक्ष नंदकिशोर दीक्षित की है।
इनकी दुकानों को हटाने की जगह किया गया क्षतिग्रस्त
दुकानदारों का कहना था कि प्रशासन द्वारा कोई नोटिस की कार्रवाई नहीं की गई है और ना ही रविवार की सुबह तक कोई अतिक्रमण हटाने की हलचल थी। सुबह 9 बजे नवोदय विद्यालय से लेकर जुडावन रोड तक अतिक्रमण हटाया गया है। जिसमें दीपक पाल, बालचंद्र रजक, नरेंद्र ठाकुर, रोशन अली, रविंद्र राय, राजेश राय, गोपाल विश्वकर्मा, सिकंदर अली, बादशाह अली, कमलेश खटीक, आलोक चतुर्वेदी, कल्लू यादव, मुखिया यादव, जयराम नाथ, बृजेश अहिरवार, सादिक मोहम्मद, सत्येंद्र यादव, घनश्याम विश्वकर्मा, पिंकी पटेरिया, देवी नायक, अंडर खटीक, लियाकत अली, आनंद राय, गगन कड़ा, इरफ ान मोहम्मद, महेंद्र खटीक, भगत राम सेन, सोनू सेन, उमेश अहिरवार के साथ अन्य की दुकानों को हटाने की जगह क्षतिग्रस्त कर दी गई है।
इन पर की गई धारा १५१ की कार्रवाई
बगैर नोटिस के नवोदय विद्यालय से जुडावन रोड़ तक का अतिक्र मण हटाया गया है। इस कार्रवाई में चार लोगों द्वारा विरोध किया गया। उनके द्वारा अतिक्रमण हटाने के दस्तावेज मांगे गए। कार्रवाई नहीं रोककने पर पेट्रोल डालकर आग लगाने की धमकी दी गई। जिसको लेकर एसडीएम सीनी पटेल और पुलिस ने नंदराम यादव, सत्येंद्र यादव, नरेंद्र खटीक, महेश खटीक को थाना कोतवाली भेज दिया है।
प्रशासन को करना पड़ा विरोध का सामना
दर्जनों दुकानदारों का सड़क पर दुकानों के संचालन पर ही परिवार का भरण पोषण होता था। लेकिन प्रशाासन ने बिना सूचना दिए दुकानों को हटाने की जगह क्षतिग्रस्त कर दिया है। लेकिन उनके द्वारा चहेतों की दुकानों को नहीं तोड़ा गया है। जिसको लेकर एसडीएम और पुलिस प्रशासन को विरोध का सामना करना पड़ता। पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पत्रकारों से चर्चा करते हुए एसडीओपी कृष्णपाल सिंह ने कहा कि अतिक्रमण शांतिपूर्ण तरीके से हटाया गया है। अतिक्रमण हटाने में वहां के रहवासियों का सहयोग भी रहा है। इस कार्रवाई में जिला प्रशासन के साथ पुलिस प्रशासन भी रहा है। इसके साथ ही एसडीएम सीपी पटेल का कहना था कि डेढ महीना पहले नोटिस दिए गए थे। चार दिनों से भी सूचनाएं दी जा रही है। सड़क किनारे रखी दुकानों को हटाया गया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

अनिल बैजल के इस्तीफे के बाद Vinai Kumar Saxena बने दिल्ली के नए उपराज्यपालISI के निशाने पर पंजाब की ट्रेनें? खुफिया एजेंसियों ने दी चेतावनीममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, कहा - 'भाजपा का तुगलगी शासन, हिटलर और स्टालिन से भी बदतर'Haj 2022: दो साल बाद हज पर जाएंगे मोमिन, पहला भारतीय जत्था 4 जून को होगा रवानाWomen's T20 Challenge: पहले ही मैच में धमाकेदार जीत दर्ज की सुपरनोवास ने, ट्रेलब्लेजर्स को 49 रनों से हरायालगातार बारिश के बीच ऑरेंज अलर्ट जारी, केदारनाथ यात्रा पर लगी रोक, प्रशासन ने कहा - 'जो जहां है वहीं रहे'‘सिंधिया जिस दिन कांग्रेस छोडक़र गए थे, उसी दिन से उनका बुढ़ापा शुरू हो गया था’Asia Cup Hockey 2022: अब्दुल राणा के आखिरी मिनट में गोल की वजह से भारत ने पाकिस्तान के साथ ड्रा पर खत्म किया मुकाबला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.