अधिकारियों को बनना पड़ा यजमान, कराई माता की प्राण प्रतिष्ठा, ये है इसका राज

अधिकारियों को बनना पड़ा यजमान, कराई माता की प्राण प्रतिष्ठा, ये है इसका राज

vivek gupta | Publish: Apr, 17 2018 11:37:21 AM (IST) Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

कन्या भोज का भी आयोजन किया गया

टीकमगढ़.बल्देवगढ़ के अहार पुलिया के नजदीक स्थित बगाज माता मन्दिर में सोमवार को नजारा बदला नजर आया। जब मंदिर में देवी दुर्गा की प्राण प्रतिष्ठा कराने एसडीएम बंदना राजपूत और एसडीओपी एन एस बैस यजमान बने। पूरे विधि विधान से मंदिर में देवी दुर्गा की प्रतिष्ठा कराई गई। इस दौरान कन्या भोज का भी आयोजन किया गया। रविवार देर रात मंदिर की हनुमान मूर्ति और देबी मूर्ति असमाजिक तत्वों द्वारा छति पंहुचाई गई थी । सूचना मिलने पर मौके पर एसडीएम वंदना राजपूत,एसडीओपी एन एस बैस सहित भारी पुलिस बल और प्रशासनिक अधिकारी पंहुचे थे। मंदिर के पुजारी प्यारेलाल अहिरवार ने बताया था कि वह दो दिन पहले किसी काम से बाहर गए थे।। देर शाम जब ताला खोलकर देखा तो मंदिर अस्त व्यस्त था । मूर्तियों को क्षति पहुँचाई गई थी । मामले की जानकारी ग्रामीणों को हुई तो मंदिर के बाहर हुजूम लग गया । ग्रामीणों का कहना था कि अज्ञात चार लोगों को दो दिन पहले मंदिर के पास देखा गया था । मामले की जानकारी पर एएसपी सुरेन्द्र जैन भी मौके पर पहुँचे । वह अपने साथ पीतल की मूर्तियां भी ले गए थे। एएसपी जैन के द्वारा मूर्तियो की प्राण प्रतिष्ठा का आश्वासन दिया था। पुलिस द्वारा घटना में अज्ञात आरोपियों पर मामला दर्ज कर जांच शुरू की है।
सुबह से शुरू हुई प्रतिष्ठा
मंगलवार को सुबह से ही प्राण प्रतिष्ठा का आयोजन किया गया। आयोजन के मुख्य यजमान एसडीओपी एन एस बैस ने मूर्ति का करीब एक घंटे तक गंगाजल और दूध से अभिषेक किया। विधि विधान के साथ देवी पाठ होने के साथ ही हवन करते हुए स्थापना की गई। प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में पूजन,यज्ञ,प्राण प्रतिष्ठा,पूर्णाहूति,देवी माँ की मूर्ति की स्थापना वैदिक मंत्रोच्चार की धुन से पूरा मंदिर परिसर गुंजायमान रहा। बगाज मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के दौरान माहौल पूरी तरह भक्तिमय बना रहा। प्राण प्रतिष्ठा के दौरान एसडीएम वंदना राजपूत,नायाब तहसीलदार एस पी चौधरी,दुष्यन्त सिंह लोधी,सोनू सेन,सत्य प्रकाश सहित बड़ी संख्या में श्रद्वालु मौजूद रहे।

Ad Block is Banned