पेयजल का बढ़ रहा संकट, नपा के जिम्मेदार नहीं दे रहे ध्यान

गर्मी का सीजन शुरू होते ही पेयजल संकट दिखाई देने लगा है। जबकि नपा का पानी प्लांट बरीघाट में पिछले वर्ष से अधिक पानी भरा हुआ है।

By: akhilesh lodhi

Published: 05 May 2020, 07:00 AM IST


टीकमगढ़.गर्मी का सीजन शुरू होते ही पेयजल संकट दिखाई देने लगा है। जबकि नपा का पानी प्लांट बरीघाट में पिछले वर्ष से अधिक पानी भरा हुआ है। इसके बाद भी नपा के कर्मचारियों द्वारा पेयजल के लिए नगर के लोगों को परेशान किया जा रहा है। जिससे उन्हें पर्याप्त मात्रा में पेयजल नहीं मिल पा रहा है।
शनिवार को नगर के वार्ड २३, २४, २५, २६ और ०१ में पेयजल संकट दिखाई दिया। लोग सुबह और दोपहर में साइकल के दोनों ओर डिब्बा लटकाकर हैंडपंप से पानी भरते देखे गए। लेकिन हैंडपंप में पानी कम ही निकलता दिखाई दिया। इसके साथ ही अनगढ़ा कुशवाहा मोहल्ला और सौरयाना अध्योध्या वस्ती में एक-एक हैंडपंप होने से पेयजल की पूर्ति नहीं हो पा रही है। अनगढ़ा निवासी प्रतीक कुशवाहा, मोहन कुशवाहा के साथ सौरयाना निवासी कंठू आदिवासी और जागे आदिवासी का कहना था कि इस मोहल्ले को भले ही नगरपालिका में जोड़ दिया गया हो। लेकिन सुविधाएं गांव से बदत्तर है। यहां न तो साफ-सफाई की सुविधाएं है और ना ही पेयजल की समस्याओं का निदान है। यहां कोई भी सीजन हो। पेयजल के लिए परेशान ही होना पड़ता है। ज बकि मामले को लेकर नपाध्यक्ष के साथ अधिकारियों से मोबाइल के साथ लिखित शिकायतें भी दर्ज करा चुके है। इसके बाद भी सुविधाएं नहीं दी जाती है।


पाइप लाइन का कई बार दे चुके आश्वासन
वहां के लोगों को कहना था कि चुनाव आते ही पाइप लाइन की बात आ जाती है। पार्षद से लेकर नपाध्यक्ष द्वारा पेयजल व्यवस्था कराने का आश्वासन दिया जाता है। लेकिन तत्कालीन और बर्तमान नपाध्यक्ष द्वारा यहां कुछ व्यवस्थाएं नहीं की गई। जिसके कारण लोगों को दूसरे मोहल्लों और किसानों के खेतों से पानी लाना पड़ता है।
इनका कहना
तीसरे दिन वार्डो में पेयजल छोड़ा जाता है। अनगढ़ा और सौरयाना में पाइप लाइन नहीं है। हैंडपंपों के भरोसे की वहां के लोग है। वहां पर पानी टैंकर भिजवाने का प्रयास किया जाएगा। होदी बनवाई जाएगी। जिससे पेयजल की पूर्ति हो सके।
असीमा तिर्की पीएचइ प्रभारी नगरपालिका टीकमगढ़।

akhilesh lodhi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned