ग्रामीणों ने किया चौकी पर पथराव, पुलिस ने भांजी लाठियां, प्रभारी लाइन हाजिर

ग्रामीणों ने किया चौकी पर पथराव, पुलिस ने भांजी लाठियां, प्रभारी लाइन हाजिर

Anil Kumar Rawat | Publish: Apr, 21 2019 08:00:00 AM (IST) Tikamgarh, Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

अवैध रूप से परिवहन कर रहे पत्थर के ट्रैक्टर को पकडऩे पर हुआ विवाद

टीकमगढ़/पलेरा. पुलिस द्वारा अवैध रूप से खंडा पत्थर का परिवहन कर रहे एक ट्रैक्टर को पकडऩे से विवाद हो गया। विवाद इतना बड़ा कि ग्रामीणों ने जहां थाने का घेराव कर पथराव कर दिया, वहीं पुलिस ने भी ग्रामीणों एवं परिजनों को लाठियां बरसा दी। इस घटना के बाद मौके पर पहुंचे वरिष्ठ अधिकारियों ने भारी पुलिस बल के साथ मिलकर स्थिति को संभाला। इस घटना के बाद जहां एसपी ने चौकी प्रभारी को लाइन हाजिर कर दिया है, वहीं पथराव करने वाले अज्ञात लोगों के खिलाफ भी मामला दर्ज कर लिया है।


शनिवार को पलेरा थाने क्षेत्र की खजरी चौकी जहां पुलिस छाबनी में तब्दील हो गई और वही पूरे गांव में चौकी को घेर कर जमकर उत्पात मचाया। यहां पर चौकी प्रभारी प्रदीप तिवारी द्वारा अवैध रूप से खंडा पत्थर का परिवहन कर रहे एक ट्रैक्टर को पकडऩे पर विवाद हुआ था। जानकारी के अनुसार प्रदीप तिवारी ने गांव के ही सोनू खान का खंडा पत्थर से भरा ट्र्रैक्टर पकड़ा था। पुलिस को आता देख सोनू खान अपने टै्रक्टर लेकर यूपी की सीमा में प्रवेश कर गया था। इस मामले में पुलिस का कहना था कि यह पत्थर का अवैध रूप से परिवहन कर रहा था, जबकि सोनू खान का कहना था कि उसके मकान का काम चल रहा है और वह अपने खेत से यह पत्थर लेकर जा रहा था।

 

पुलिस पर मारपीट का आरोप: इस घटना के बाद ग्रामीणों ने पुलिस पर मारपीट करने के आरोप लगाए है। ग्रामीणों का आरोप था कि पुलिस ने सोनू खान के साथ मारपीट की है। वहीं घटना के बाद चौकी पर पहुंची सोनू खान की मां मुन्नी एवं पत्नी जुलेखा के साथ भी मारपीट की गई। इस घटना से नाराजग ग्रामीणों ने थाने के घेराव कर किया तो पुलिस ने इन लोगों पर भी लाठी चार्ज कर दिया।


पुलिस ने किए हवाई फायर: इस घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने चौकी का घेराव कर लिया और पथराव किया। ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस द्वारा यह कार्रवाई द्वेषभाव से की गई है। पुलिस की इस कार्रवाई से आक्रोशित महिलाएं जहां थाने में लेट गई, वहीं ग्रामीण लगभग दो घंटे तक घेराव किए रहे। इस मामले में यह भी आरोप लगाए जा रहे है कि पुलिस ने भीड़ को हटाने के लिए हवाई फायर किए। गांव के सरपंच दशरथ सहित अन्य लोगों ने पुलिस पर हवाई फायर करने के आरोप लगाए है।

 

छाबनी बनी चौकी: घटना के बाद चौकी पर लगा ग्रामीणों का जमावड़ा हटाने एवं स्थिति को नियंत्रण करने के लिए चार थानों से पुलिस बुलानी पड़ी। यहां पर थाना कनेरा, जतारा, बम्हौरीकलां एवं पलेरा से भारी मात्रा में पुलिस बल पहुंचा। वहीं एसडीओपी प्रदीप सिंह राणावत ने जाकर स्थिति को संभाला। भारी मात्रा में पहुंचे पुलिस बल के कारण पूरी चौकी छाबनी में तब्दील हो गई।


प्रभारी लाईन हाजिर: घटना के बाद वरिष्ठ अधिकारियों ने चौकी प्रभारी प्रदीप तिवारी को लाइन हाजिर कर दिया। उनके स्थाप पर टीआई त्रिवेद्र त्रिवेदी को यहां का प्रभारी बनाया गया है। पुलिस का कहना है कि लाइन एण्ड ऑडर न बना पाने के कारण चौकी प्रभारी को हटाया गया है। वहीं इस पूरी घटना की एसडीओपी द्वारा जांच की जा रही है। जांच के बाद ही अधिकारी आगे की कार्रवाई करेंगे। वहीं पथराव करने पर पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ भी मामला दर्ज कर लिया है।


कहते है अधिकारी: अवैध रूप से पत्थर का परिवहन करने पर पुलिस ने ट्रैक्टर पकड़ा था। इसके बाद बिगड़ी कानून व्यवस्था को न संभाल पाने के कारण चौकी प्रभारी को लाइन हाजिर किया गया है। पुलिस ने चौकी पर पथराव करने वाले अज्ञात लोगों के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा डालने की धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है। हवाई फायर जैसी कोई कार्रवाई नही की गई है।- प्रदीप सिंह राणावत, एसडीओपी, जतारा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned