video : new year 2018 के पहले दिन मंदिरों में उमड़ी भीड़, सुखी जीवन की कामना के साथ किए दर्शन

Hamid Khan | Publish: Jan, 01 2018 11:05:00 PM (IST) Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

श्रीराम राजा सरकार, कुंडेश्वर में लोगों ने किए दर्शन, पिकनिक स्पॉट का भी किया रुख

अखिलेश लोधी. टीकमगढ. रात के 12 बजते ही शहर के शांत वातावरण में अचानक धूम धड़ाके और आतिशबाजी ने लोगों को रोमांचित कर दिया। यह था नए साल का जश्न। शहर के युवाओं द्वारा वर्ष 2018 के स्वागत के लिए देर शाम से ही तैयारियां कर रखी थीं। रात 10 बजे के बाद शहर के कई स्थानों पर डीजे की धुनों पर युवाओं के कदम जो थिरके तो रात 12 बजे के बाद यह थिरकन और भी अधिक बढ़ गई। नए वर्ष के गीतों पर वर्ष 2018 का आगाज हुआ और एक दूसरे को बधाई देने का सिलसिला शुरू हो गया। देर रात से ही सोशल मीडिया पर नव वर्ष के बधाई संदेशों का तांता लगा रहा।

 

वर्ष के पहले दिन का आगाज सोमवार को हुआ। देर रात के जश्न की खुमारी टूटी तो सुबह होते ही हम उम्र लेागों ने पार्टी और पिकनिक की तैयारी शुरू कर दी। अधिकांश लोगों ने धार्मिक स्थलों पर भगवान के दर्शन कर नव वर्ष के प्रथम दिन की शुरूआत की। जिले भर के धार्मिक स्थलों पर श्रद्धालुओं की भीड़ रही। सुबह से ही लोग एक-दूसरे को शुभकामनाएं देते दिखाई दिए।

इसके साथ ही लोगों ने पिकनिक स्पॉट एवं होटलों में जाकर अपने नव वर्ष को यादगार बनाया। विश्व प्रसिद्ध श्रीरामराजा सरकार की नगरी ओरछा एवं स्वयंभू भगवान शंकर की नगरी कुण्डेश्वर में भी श्रद्धालुओं की भीड़ रही।

 

ओरछा में देर रात से ही श्रद्धालुओं के पहुंचने का सिलसिला प्रारंभ हो गया था। सुबह होते ही नव वर्ष का उल्लास साफ तौर पर झलकने लगा और भगवान रामराजा के आर्शीवाद के बाद ओरछा के घाटों और पिकनिक स्पॉट पर पार्टियों का दौर शुरू हो गया। ओरछा के प्राचीन स्थलों को पास से निहारने के लिए बड़ी संख्या में दूरदराज से पर्यटक यहां पहुंचे और प्राचीन नगरी की इस छठा को परिवार एवं मित्रजनों के साथ देखा।

 

कुण्डेश्वर में दिन भर रही भीड़
नव वर्ष पर स्वयंभू भगवान शिव की नगरी कुण्डेश्वर में श्रद्धालुओं की अच्छी खासी भीड़ देखी गई। यहां पर भी लोग सुबह से ही भगवान शंकर को जल चढ़ाने एवं अपने नव वर्ष का शुभारंभ करने के लिए पहुंच रहे थे। लोगों ने भगवान शंकर की पूजा अर्चना करने के साथ ही खैराई के जंगलों का भ्रमण कर पिकनिक भी मनाई।

 

हालांकि बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के पहुंचने से यहां की यातायात व्यवस्था बिगड़ गई और दिन में कई बार यहां जाम के हालात पैदा हुए। यातायात पुलिस के जवानों की ओरछा एवं शहर में ड्यूटी होने के कारण यहां बल की कुछ कमी थी। जिसके चलते यहां मौजूद यातायात जवान दिन भर व्यवस्था बनाने में मशक्कत करते रहे।

 

विदेशियों ने मनाया न्यू ईयर
विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी में आए विदेशियों ने भी नव वर्ष का जमकर सेलिब्रेशन किया। जगह-जगह विदेशी पर्यटकों के झुंड ओरछा के प्राकृतिक सौंदर्य को निहारते और अपने कैमरों में कैद करते नजर आए। कुछ ने बुंदेलखंडी जायके का लुत्फ उठाया। इस दौरान कुछ विदेशी पर्यटकों ने ओरछा स्थित जानकी मंदिर में पहुंचकर भारतीय संस्कृति पर आधारित भजनों में अपनी सहभागिता दी।भारतीय वाद्य यंत्रों पर विदेशियों ने भी अपनी कला का प्रदर्शन किया।

गाय को खिलाया चारा, मनाया नव वर्ष
उधर धूमधाम और तड़क भड़क से दूर शहर के गौसेवकों ने नव वर्ष का आगाज कुछ अलग ही ढंग से किया। सुबह 8 बजे आसरा गौसेवक केन्द्र की टीम शहर के नजरबाग मंदिर के पास एकत्रित हुई। भगवान रामराजा से आर्शीवाद लेकर गौसेवकों की यह टीम तीन चारपहिया और कई दोपहिया वाहनों से शहर में निकली और जगह-जगह गौवंश का भोज कराते हुए उन्हें हरा चारा खिलाया।इस अवसर पर सुदीप मिश्रा रिंकू, गोलू मिश्रा, बॉबी मिश्रा, शुभम नायक, आशीष साहू, आदर्श रावत, मनोज कुशवाहा सहित बड़ी संख्या में गौसेवक शामिल रहे।

महका जायका, पिकनिकों की रही धूम
नए वर्ष के आगाज में लोगों ने अपने हम उम्रों के साथ पहले से पार्टियां और पिकनिक प्लान कर रखी थीं। सोमवार को नव वर्ष की शुभकामनाओं के साथ लोगों ने अपने-अपने ग्रुपों के साथ खेत, फार्म हाउस और पिकनिक स्पॉटों की ओर रूख किया। जहां विभिन्न व्यंजनों के साथ नए वर्ष का स्वागत किया गया। नवोदय के छात्र-छात्राओं द्वारा भी पिकनिक आयोजित की गई।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned