बंद का रहा शतप्रतिशत असर, निकाली गई बाइक रैली

बंद का रहा शतप्रतिशत असर, निकाली गई बाइक रैली

vivek gupta | Publish: Sep, 07 2018 10:36:06 AM (IST) Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

रोके जाने पर पुलिस और सवर्ण समाज में हुआ टकराव

टीकमगढ़.केन्द्र सरकार द्वारा एससीएसटी एक्ट संविधान में किए गए संशोधन का विरोध गुरूवार को सड़कों पर दिखा। जिला मुख्यालय के साथ ओरछा,बल्देवगढ़,जतारा,निवाडी,पृथ्वीपुर,खरगापुर,पलेरा,मोहनगढ़,लिधौरा सहित जिले में व्यापक असर रहा। एक्ट के विरोध में भारत बंद के चलते जिला मुख्यालय में शतप्रतिशत बाजार बंद के साथ ही शहर सहित तहसील मुख्यालयों व बड़े गांवों में लोगों ने दुकानें बंद रखकर ज्ञापन सौंपकर अपनी मंशा से राजनीतिक दलों को परिचित करा दिया। गुरुवार सुबह 7 बजे से शाम 4 बजे तक बंद के दौरान लोग चाय और पान को भी तरसे। धारा 144 लागू होने के बावजूद सपाक्स के नेतृत्व में युवाओं की टोली ने बाइक रैली निकाली । लेकिन रैली को अनुमति न होने के कारण पुलिस ने मजदूर चौराहे पर रैली को रोक दिया। युवाओं के द्वारा इस दौरान जमकर नारेबाजी की गई। वही ओरछा में भाजपा के प्रदेश संगठन मंत्री सुहास भगत को सवर्ण समाज के द्वारा फूल देकर एससीएसटी एक्ट पर विरोध जताया गया।

बंद को देखते हुए पुलिस बल के द्वारा नगर में फ्लैग मार्च निकाला गया। पहली बार स्वैच्छिक बंद ने सरकार को यह जता दिया कि वह एससीएसटी एक्ट के मौजूदा स्वरूप का विरोध करते हैं। कई प्राइवेट स्कूल,कॉलेज के साथ ही दोपहर तक पेट्रोल पंप बंद रहे।

 

Sapaksa Bandh effected by 100 percent

निकाली बाइक रैली,पुलिस ने रोका
सपाक्स,आरक्षण उन्मूलन क्रांतिदल के साथ ही सामान्य वर्ग के अन्य संगठनों के द्वारा एससीएसटी एक्ट को लेकर संविधान में किए गए संशोधन का विरोध बंद के रूप में सामने आया।

गुरूवार सुबह करीब 9 बजे सभी संगठन के लोग गॉधी चौक पर एकत्रित हुए। जंहा पुलिस के द्वारा रोके जाने के बाद रैली के रूप में नगर की सडकों पर बंद के समर्थन के लिए निकले।

पपौरा चौराहा,तालदरवाजा,कटरा बाजार होते हुए युवा जैसे ही मजदूर चौराहे पर पंहुचे तो कलेक्टर अभिजीत अग्रवाल ने बीच सड़क पर अपना वाहन लगा दिया। जिसे देखकर युवा रूक गए।

इस दौरान कलेक्टर ने कोतवाली टीआई नवल आर्य को निर्देश दिए और निकल गए। टीआई के साथ भारी पुलिस बल ने युवाओं को गिरफ्तारी देने के लिए कहा। मजदूर चौराहे पर पुलिस के द्वारा रोके जाने पर नारेबाजी की गई।

 

मोदी तुम होश में आओ,भारत माता की जय और हम अपना अधिकार मांगते ...के नारे गूंजे। इस दौरान मौके पर एएसपी सुरेन्द्र जैन और एसडीएम गणेश जायसवाल पंहुचे। अधिकारियों के द्वारा बताया गया कि रैली की अनुमति न होने के कारण आगे नही जाएगें।

जिसके बाद सभी शांतिपूर्ण तरीके से गांधी चौक पर पुलिस के साथ पैदल मार्च करते हुए आए। जहां एससीएसटी एक्ट के विरोध में सपाक्स के सैकडों सदस्यों ने जिला प्रशासन को राष्ट्रपति,प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।


अधिवक्ताओं ने काली पट्टी बांधकर जताया विरोध
बंद को देखते हुए पुलिस बल के द्वारा नगर में फ्लैग मार्च निकाला गया। कोतवाली टीआई ने नगर के मुख्य मार्गो से फ्लैग मार्च निकाला। बंद को समर्थन देते हुए सपाक्स और ओबीसी के अधिवक्ताओं ने काली पट्टी बांधकर विरोध जताया।


प्रदेश संगठन मंत्री को दिए फू ल
ओरछा में एससी एसटी एक्ट के विरोध में कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष व सर्वदलीय लोगो ने भाजपा के प्रदेश संगठन मंत्री सुहास भगत को फू ल माला भेंटकर विरोध जताया।

ओरछा में सवर्ण वर्ग के युवकों ने एक्ट के विरोध में प्रदर्शन करते हुए भाजपा के प्रदेश संगठन मंत्री को गांधीगिरी दिखाते हुए माला पहनाकर किया । इस दौरान उनका कहना था कि एससीएसटी एक्ट में संसोधन उचित नहीं था। इस अवसर पर प्रिंस तिवारी,कृष्णकुमार त्रिवेदी,गिरीश दुबे,दीपेंद्र सिंह गौर,राजू केवट,दीपू आदि युवक इस अवसर पर उपस्थित थे।

 

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned